BREAKING NEWS

प्रियंका गांधी बोली- भाजपा सरकार भी डींगें हांकने के लिए डाटा छिपाने में लगी है◾प्रदूषण को लेकर SC ने 4 राज्यों के चीफ सेक्रेटरी को किया तलब, कहा- ऑड-ईवन स्थायी समाधान नहीं◾INX मीडिया : दिल्ली हाई कोर्ट ने खारिज की चिदंबरम की जमानत याचिका ◾राहुल बोले- 'मोदीनॉमिक्स' ने इतना नुकसान कर दिया कि सरकार को अपनी रिपोर्ट छिपानी पड़ रही है◾शरद पवार बोले-शिवसेना, NCP और कांग्रेस की सरकार 5 साल का कार्यकाल पूरा करेगी◾ऑड-ईवन योजना की अवधि बढ़ाए जाने पर सोमवार को होगा फैसला : केजरीवाल◾NCP नेता नवाब मलिक बोले- शिवसेना को किया गया अपमानित, निश्चित रूप से CM उनका ही होगा◾SC ने मनी लॉन्ड्रिंग मामले में शिवकुमार की जमानत के खिलाफ ED की याचिका की खारिज◾5 साल की बात क्यों, हम चाहते हैं 25 साल रहे शिवसेना का CM : संजय राउत◾दिल्ली-NCR में आज भी प्रदूषण की स्थिति गंभीर, आसमान में छाई धुंध की चादर◾ऑड-ईवन योजना का अंतिम दिन आज, स्कीम को आगे बढ़ाने पर संशय बरकरार◾तीस हजारी कांड : पथराव करने वाले वकील ही थे, क्या गारंटी?◾INX मीडिया मामला: चिदंबरम की जमानत याचिका पर आज आ सकता है कोर्ट का फैसला◾महाराष्ट्र में शिवसेना, राकांपा और कांग्रेस के गठबंधन के खिलाफ SC में याचिका दायर◾चीन के साथ 1962 के युद्ध ने विश्व मंच पर भारत की स्थिति को काफी नुकसान पहुंचाया : जयशंकर ◾झारखंड में रघुबर दास नहीं, मोदी-शाह करेंगे चुनाव प्रचार का नेतृत्व ◾भारत ने अयोध्या, कश्मीर पर पाकिस्तानी दुष्प्रचार का दिया करारा जवाब◾शी चिनफिंग और मोदी के बीच वार्ता ◾महाराष्ट्र में भाजपा-शिवसेना में विलगाव ने कांग्रेस-राकांपा को किया है एकजुट ◾गृहमंत्री अमित शाह शुक्रवार को जायेंगे सीआरपीएफ के मुख्यालय ◾

देश

दिल्ली, मध्य प्रदेश, हिमाचल, तेलंगाना के मुख्य न्यायाधीशों के नाम की सिफारिश

उच्चतम न्यायालय कॉलेजियम ने दिल्ली, मध्य प्रदेश, हिमाचल प्रदेश और तेलंगाना उच्च न्यायालयों के मुख्य न्यायाधीशों के नाम की सिफारिश की है। मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाले कॉलेजियम ने झारखंड उच्च न्यायालय के वरिष्ठ न्यायाधीश डी। एन। पटेल को दिल्ली उच्च न्यायालय और बॉम्बे उच्च न्यायालय के वरिष्ठ न्यायाधीश अकिल कुरैशी को मध्य प्रदेश उच्च न्यायालय का मुख्य न्यायाधीश नियुक्त करने की सिफारिश की है।

 कॉलेजियम ने तेलंगाना उच्च न्यायालय में पदस्थापित न्यायमूर्ति वी रामसुब्रमण्यम को हिमाचल प्रदेश उच्च न्यायालय तथा तेलंगाना के कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश राघवेन्द्र सिंह चौहान को स्थायी तौर पर मुख्य न्यायाधीश पद पर तैनात करने की सिफारिश की है। न्यायमूर्ति पटेल दिल्ली उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश राजेंद्र मेनन को स्थान लेंगे, जो इस वर्ष जून में सेवानिवृत्त हो रहे हैं।

मार्च 1960 में जन्मे न्यायमूर्ति पटेल ने 1984 में विधि स्नातक और 1986 में विधि में मास्टर डिग्री प्राप्त की थी। उन्हें मार्च 2004 में गुजरात उच्च न्यायालय का अतिरिक्त न्यायाधीश नियुक्त किया गया था और दो साल बाद उन्हें स्थायी नियुक्ति दी गयी। उन्हें 2009 में झारखंड उच्च न्यायालय में स्थानांतरित किया गया था।

वह 2013 से 2018 के बीच झारखंड उच्च न्यायालय के कार्यकारी मुख्य न्यायाधीश के तौर पर चार बार कार्य कर चुके हैं। न्यायमूर्ति अकिल कुरैशी मध्य प्रदेश के वर्तमान मुख्य न्यायाधीश एस। के। सेठ का स्थान लेंगे जो आठ जून को सेवानिवृत्त होने वाले हैं। उनका पिछले साल नवंबर में बॉम्बे उच्च न्यायालय में तबादल किया गया था। न्यायमूर्ति कुरैशी ने एलएलबी की डिग्री ग्रहण करने के बाद 1983 से अपने अधिवक्ता जीवन की शुरुआत की थी और मार्च 2004 में उन्हें गुजरात उच्च न्यायालय का अतिरिक्त न्यायाधीश नियुक्त किया गया था। वर्ष 2005 में वह स्थाई न्यायाधीश बने।