BREAKING NEWS

भूमि अधिग्रहण कानून: सुनवाई से अलग नहीं होंगे जस्टिस अरुण मिश्रा◾कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने तिहाड़ जेल में डीके शिवकुमार से की मुलाकात◾दिल्ली के कनॉट प्लेस में मुठभेड़, दो बदमाश गिरफ्तार◾झारखंड चुनाव में कसौटी पर होगी JDU-भाजपा दोस्ती!◾कमलेश तिवारी हत्याकांड: मां बोलीं- हत्या के आरोपियों को मिले फांसी की सजा ◾कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद ने की मोदी सरकार की तारीफ, 'आयुष्मान भारत योजना' को लेकर कही यह बात◾आनंदन ने विश्व मिलिट्री खेलों में भारत को दिलाया दूसरा स्वर्ण ◾सोनिया गांधी बुधवार को शिवकुमार से तिहाड़ में मिलेंगी◾‘‘ग्रेट पैट्रियॉटिक वॉर’’ जीत की 75 वीं वर्षगांठ पर मोदी का स्वागत करने के लिए उत्सुक है रूस ◾आप ने विमर्श की दिशा बदल दी, दिल्ली में हिंदू-मुस्लिम राजनीति करने की भाजपा की हिम्मत नहीं : केजरीवाल ◾J&K : सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में जैश-ए-मोहम्मद के तीन आतंकवादी ढेर◾अयोध्या में दीपोत्सव का खर्चा UP सरकार के जिम्मे◾बंगाल में लागू नहीं होगा NRC : ममता◾प्रियंका ने प्रदेश में महिलाओं के साथ बढते अपराध पर UP सरकार को घेरा◾कमलेश तिवारी हत्याकांड : गुजरात ATS को मिली बड़ी कामयाबी, दोनों मुख्य आरोपी गिरफ्तार◾गुलाबी बस टिकटों पर केजरीवाल के चित्र मामले में दिल्ली भाजपा ने लोकायुक्त से शिकायत की◾हरियाणा में भाजपा, कांग्रेस में कांटे की टक्कर, महाराष्ट्र में भाजपा-शिवसेना गठबंधन की शानदार वापसी : एग्जिट पोल ◾हरियाणा : कांग्रेस अध्यक्ष कुमारी शैलजा बोली- एग्जिट पोल को भूल जाइये, कांग्रेस बनाएगी सरकार◾राज्य में कोई भी डिटेंशन सेंटर स्थापित नहीं होगा : CM ममता ◾TOP 20 NEWS 22 October : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾

देश

लोगों को हवाई हमले के हताहतों के बारे में जानने का अधिकार : शिवसेना 

मुंबई : शिवसेना ने मंगलवार को कहा कि भारतीय नागरिकों को पाकिस्तान में जैश-ए-मोहम्मद के शिविर पर हुए हवाई हमले में मारे गए लोगों के बारे में जानने का अधिकार है और इस तरह की सूचना दे देने से सशस्त्र बलों का मनोबल कम नहीं होगा। शिवसेना ने अपनी सहयोगी पार्टी भाजपा पर तंज कसते हुए अपने मुखपत्र ‘सामना’ के संपादकीय में कहा कि हवाई हमले पर चर्चा आगामी लोकसभा चुनावों तक चलती रहेगी और 14 फरवरी के पुलवामा हमले से पहले विपक्ष द्वारा उठाए गए “ज्वलंत मुद्दे” अब ठंडे बस्ते में चले गए हैं। पार्टी ने कहा, “देश के नागरिकों को यह जनाने का अधिकार है कि सुरक्षा बलों ने दुश्मन को कितना एवं किस तरह का नुकसान पहुंचाया है। हमें नहीं लगता कि यह पूछने से हमारे बलों का मनोबल कम हो जाएगा।”

भारतीय वायु सेना के विमानों ने 26 फरवरी को पाकिस्तान में जैश-ए-मोहम्मद के सबसे बड़े प्रशिक्षण शिविर पर बम गिराए थे। जम्मू-कश्मीर के पुलावामा जिले में आतंकवादी संगठन द्वारा किए गए हमले के जवाब में ये हवाई हमले किए गए। पुलवामा हमले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के 40 जवान शहीद हो गए थे। सरकार ने हवाई हमलों में मारे गए लोगों का आधिकारिक आंकड़ा अब तक नहीं दिया है लेकिन कुछ विपक्ष पार्टियां लगातार इसके सबूत मांग रही है। शिवसेना ने पूछा, “पुलवामा हमले में इस्तेमाल किया गया 300 किलोग्राम आरडीएक्स आया कहां से? आतंकवादी शिविरों पर किए गए हवाई हमलों में कितने आतंकवादी मारे गए?

इनपर चर्चा चुनाव के अंतिम दिनों तक होती रहेगी क्योंकि पुलवामा हमले से पहले मंहगाई, बेरोजगारी एवं राफेल विमान सौदा विपक्ष के लिए ज्वलंत मुद्दे थे।” पार्टी ने तंज कसते हुए कहा कि इन मुद्दों पर मोदी सरकार का ‘बम’ गिर गया। उद्धव ठाकरे नीत पार्टी ने कहा कि राम मंदिर निर्माण, अनुच्छेद 370 एवं किसानों द्वारा उठाए गए मुद्दे “खाक हो गए।” शिवसेना ने कहा कि भारतीय वायु सेना के 26 फरवरी के हवाई हमलों में मारे गए आतंकवादियों की संख्या के बारे में न सिर्फ विपक्ष पूछ रहा है बल्कि अमेरिका एवं ब्रिटेन जैसे देशों की मीडिया भी पूछ रही है।