BREAKING NEWS

सावरकर वाले बयान पर कांग्रेस पर हमलावर हुई मायावती, कहा- अब भी शिवसेना के साथ क्यों, यह आपका दोहरा चरित्र नहीं?◾नेपाल के सिंधुपलचौक में यात्रियों से भरी बस दुर्घटनाग्रस्त, 14 लोगों की दर्दनाक मौत◾भारतीय मुसलमान घुसपैठिए और शरणार्थी नहीं, डरना नहीं चाहिए : रिजवी◾निर्भया के दोषियों को फांसी देना चाहती हैं इंटरनेशनल शूटर वर्तिका, अमित शाह को खून से लिखा खत ◾पश्चिम बंगाल में नागरिकता कानून के विरोध में प्रदर्शन, कई स्थानों पर सड़कें अवरुद्ध◾नागरिकता संशोधन बिल में बदलाव को लेकर गृहमंत्री अमित शाह ने दिए संकेत◾अनशन पर बैठीं दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल हुईं बेहोश, LNJP अस्पताल में भर्ती◾CAB के खिलाफ प्रदर्शनों के बाद आज गुवाहाटी और डिब्रूगढ़ के कुछ हिस्सों में कर्फ्यू में ढील◾झारखंड विधानसभा चुनाव: देवघर में प्रत्याशियों की आस्था दांव पर◾ममता ने नागरिकता कानून को लेकर बंगाल में तोड़फोड़ करने वालों को कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी ◾भाजपा ने आज तक जो भी वादे किए है वह पूरे भी किए गए हैं - राजनाथ◾असम में हालात काबू में, 85 लोगों को गिरफ्तार किया गया : असम DGP◾पीएम मोदी के सामने मंत्री देंगे प्रजेंटेशन, हो सकता है कैबिनेट विस्तार◾मध्यम आय वर्ग वाला देश बनना चाहते हैं हम : राष्ट्रपति ◾कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने रैली में पकौड़े बेच सत्ताधारियों का मजाक उड़ाया ◾भाजपा ने किया कांग्रेस सरकार के खिलाफ प्रदर्शन : किसानों के प्रति असंवेदनशील होने का लगाया आरोप ◾कांग्रेस जवाब दे कि न्यायालय में उसने भगवान राम के अस्तित्व पर क्यों सवाल उठाए : ईरानी◾दिल्ली के रामलीला मैदान में 22 दिसंबर को रैली कर दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार शुरू करेंगे PM मोदी ◾जामिया के छात्रों ने आंदोलन फिलहाल वापस लिया◾सीएए के खिलाफ जनहित याचिका दायर की, एआईएमआईएम हरसंभव तरीके से कानून के खिलाफ लडे़गी : औवेसी◾

देश

राष्ट्रपति ने जम्मू कश्मीर पुनर्गठन बिल को दी मंजूरी, अब देश में 9 केंद्र शासित प्रदेश

 president

जम्मू कश्मीर से धारा 370 को हटाने के मोदी सरकार के फैसले पर राज्यसभा और लोकसभा में खाफी गहमा गहमी के बाद यह बिल पास हो चुका था। जिसके बाद अब राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी पुनर्गठन बिल 2019 को मंजूरी दे दी है।  

बता दें कि इस बिल पर राष्ट्रपति की मंजूरी मिलते ही अब जम्मू कश्मीर दो हिस्सों में बंट चुका है और जम्मू कश्मीर और लद्दाख दो नए केंद्र शासित प्रदेश बन चुके हैं। जिसके बाद अब भारत में केंद्र शासित प्रदेशों की संख्या 7 से बढ़कर 9 हो गई है।

 

आपको बता दें कि बीती 5 तारीख़ को भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने राज्यसभा में जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटाने का बिल जारी किया था। काफी बहस के बाद  राज्यसभा में हुई वोटिंग के बाद इस बिल के पक्ष में 120 वोट पड़े और 61 वोट इसके विपक्ष में पड़े। राज्यसभा से बिल पारित होने के ठीक अगले ही दिन 6 अगस्त को लोकसभा में भी इस बिल को पेश किया गया।  

मालूम हो कि लोकसभा में विपक्ष के काफी हंगामें के बाद लोकसभा अध्यक्ष ने बहस को बीच में ही रोक दिया गया था। हालात यह हो गए थे कि लोकसभा अध्यक्ष को बहस के बीच में मार्सल को भी बुलाना पड़ गया था। हालाँकि लोकसभा में फैसला सरकार के पक्ष में रहा। बिल के पक्ष में रिकॉर्ड 370 वोट पड़े वहीँ विपक्ष में केवल 70 वोट पड़े।