BREAKING NEWS

केंद्र को दिल्ली HC ने फटकारा - आरामगाहों में रह रहे हैं सरकारी अधिकारी, भगवान इस देश को बचाए◾इस राज्य ने कड़ी पाबंदियों के साथ एक जून तक बढ़ाया लॉकडाउन, वीकेंड पर रहेगी पूर्णबंदी ◾UP में पिछले 24 घंटों में कोविड-19 से 8737 नए मरीज हुए संक्रमित, 255 लोगों ने खोई जिंदगी◾कोरोना से मरने वालों के परिजनों को मिलेंगे 50 हजार रुपए, जानें केजरीवाल सरकार की अन्य घोषनाएं◾देश में कोविड-19 से अब तक दो प्रतिशत से कम आबादी प्रभावित, 98 फीसदी पर संक्रमण का खतरा बरकरार: केंद्र सरकार◾केरल : पिनराई की नई कैबिनेट में पुराने चेहरे 'OUT', दामाद के साथ नए चेहरों को एंट्री◾इजराइल और हमास के बीच युद्ध के बादल, दूसरे सप्ताह भी संघर्ष जारी, अब तक 200 फलस्तीनियों की मौत◾‘फर्जी टूलकिट' के जरिए बेशर्मी का फर्जीवाड़ा कर रही है BJP, नड्डा और पात्रा के खिलाफ दर्ज कराएंगे FIR : कांग्रेस ◾कोरोना पर जिलाधिकारियों से PM मोदी ने की बात, बोले- जब आपका जिला जीतता है, तो देश की होती है जीत◾BJP ने कांग्रेस पर भारत को बदनाम करने का लगाया आरोप, कहा- संकट काल में 'गिद्धों की राजनीति' हुई उजागर◾चक्रवात 'ताउते' का प्रभाव : फंसे हुए 297 लोगों को बचाने में जुटी नौसेना, रेस्क्यू ऑपेरशन जारी◾नारदा केस : तबियत बिगड़ने के बाद अस्पताल में एडमिट हुए सुब्रत मुखर्जी◾बच्चों की सुरक्षा पर राहुल की चेतावनी, कहा- देश के भविष्य के लिए मोदी ‘सिस्टम’ को जगाना जरूरी◾कोरोना वायरस : देश में पिछले 24 घंटे में 2 लाख 63 हजार नए मामलों की पुष्टि, 4329 मरीजों की मौत ◾दुनियाभर में कोरोना महामारी का कहर बरकरार, भारत मौत के मामलों में दूसरे स्थान पर ◾PM मोदी आज राज्यों और जिलों के अधिकारियों के साथ करेंगे बातचीत, कोरोना प्रबंधन पर होगी चर्चा ◾नारदा स्टिंग मामला : गिरफ्तार किए गए TMC के चारों मंत्री, कड़ी सुरक्षा में चिकित्सकीय जांच के बाद भेजा गया जेल ◾ चक्रवातीय तूफान तौकते ने गुजरात में मचाई तबाही, 2 लाख से अधिक लोगों को सुरक्षित स्थान पर करना पड़ा शिफ्ट ◾मरीज के लापता होने पर इलाहाबाद HC की तल्ख टिप्पणी-छोटे शहरों और गांवों में चिकित्सा व्यवस्था राम भरोसे◾ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की कीमत पर लगाम लगाने के लिए फॉर्मूला बनाए केंद्र सरकार : दिल्ली HC◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

सुप्रीम कोर्ट आज मराठा आरक्षण को चुनौती देने वाली याचिकाओं पर अहम फैसला सुनाएगा

बंबई उच्च न्यायालय के फैसले को चुनौती देने वाली याचिकाओं पर उच्चतम न्यायालय बुधवार को फैसला सुनाएगा, जिसने राज्य में शिक्षण संस्थानों और सरकारी नौकरियों में मराठाओं के लिए आरक्षण के फैसले को बरकरार रखा था।न्यायमूर्ति अशोक भूषण की अध्यक्षता वाली पांच न्यायाधीशों की संविधान पीठ फैसला सुनाएगाी।उच्चतम न्यायालय ने 26 मार्च को याचिकाओं पर अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था।

इस मुद्दे पर लंबी सुनवाई में दायर उन हलफनामों पर भी गौर किया जाएगा कि क्या 1992 के इंदिरा साहनी फैसले (इसे मंडल फैसला भी कहा जाता है) पर बड़ी पीठ द्वारा पुनर्विचार करने की जरूरत है, जिसमें आरक्षण की सीमा 50 फीसदी निर्धारित की गई थी।

संविधान पीठ ने मामले में सुनवाई 15 मार्च को शुरू की थी।उच्च न्यायालय ने जून 2019 में कानून को बरकरार रखते हुए कहा था कि 16 फीसदी आरक्षण उचित नहीं है और रोजगार में आरक्षण 12 फीसदी से अधिक नहीं होना चाहिए तथा नामांकन में यह 13 फीसदी से अधिक नहीं होना चाहिए।

बंगाल में चुनाव बाद हिंसा से जान बचाने के लिए करीब 300-400 भाजपा कार्यकर्ताओं ने असम में ली शरण : सरमा