BREAKING NEWS

अर्थव्यवस्था की बिगड़ी हालत पर निर्मला सीतारमण बोली- भारत की आर्थिक स्थिति बेहतर◾सरकार के आर्थिक सलाहकारों ने भी माना कि संकट में है अर्थव्यवस्था : राहुल गांधी◾पेरिस में PM मोदी का संबोधन, बोले-हिंदुस्तान में अब टेंपरेरी के लिए व्यवस्था नहीं◾ईडी मामले में चिदंबरम को मिली राहत, 26 अगस्त तक नहीं होगी गिरफ्तारी◾एफएटीएफ के एशिया प्रशांत समूह ने पाकिस्तान को काली सूची में डाला◾पश्चिम बंगाल : मंदिर में दीवार गिरने से मची भगदड़ में 4 की मौत, ममता बनर्जी ने किया मुआवजा का ऐलान◾मनमोहन सिंह ने राज्यसभा सदस्य के रूप में ली शपथ◾दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ चिदंबरम की याचिका पर सोमवार को सुनवाई करेगा SC◾SC ने ट्रिपल तलाक को चुनौती देने वाली याचिका पर केंद्र सरकार को जारी किया नोटिस ◾कपिल सिब्बल बोले- अर्थव्यवस्था और नागरिकों की आजादी के मकसद को प्रोत्साहन पैकेज की जरूरत◾जयराम रमेश के बाद बोले सिंघवी- मोदी को खलनायक की तरह पेश करना गलत◾जानिए कैसे हुआ आईएनएक्स मीडिया मामले का खुलासा !◾प्रह्लाद जोशी बोले- यदि चिदंबरम बेकसूर हैं तो कांग्रेस को नहीं करनी चाहिए चिंता◾भारत, पाकिस्तान को कश्मीर मुद्दे का द्विपक्षीय ढंग से समाधान निकालना चाहिए : मैक्रों ◾PM मोदी ने फ्रांसीसी राष्ट्रपति मैक्रों के साथ बातचीत की ◾योगी आदित्यनाथ ने किया मंत्रियों के विभागों का बंटवारा ◾बहरीन में 200 साल पुराने मंदिर की पुनर्निर्माण परियोजना का शुभारंभ करेंगे PM मोदी◾आईएनएक्स मीडिया मामला बना चिदंबरम की परेशानी का सबब ◾शरद पवार, अन्य के खिलाफ बैंक घोटाला मामले में FIR दर्ज करने का आदेश◾आजम खान की याचिका सुनवाई 29 अगस्त को ◾

देश

भाजपा को न किसी रीति और न ही नीति से मतलब

पटना : बिहार कांग्रेस विधानमंडल दल के नेता सदानंद सिंह ने कर्नाटक में वी. एस. येद्दियुरप्पा सरकार बनने का विरोध किया है। उन्होंने कहा कि बीजेपी न तो किसी नीति से चलती है और न ही किसी रीति से। बल्कि वह सिर्फ सुविधाभोगी, अवसरवादी और जोर दृ जबरदस्ती की राजनीति करती है। जैसे कर्नाटक में बहुमत नहीं होते हुए भी येद्दियुरप्पा सरकार को शपथ दिलवा दी।

श्री सिंह ने कहा कि अगर भाजपा ये मानती है कि सबसे बड़े दल को सरकार बनाने का पहला अवसर मिलना चाहिए तो उसे कर्नाटक से पूर्व गोवा, मणिपुर, मेघालय और बिहार में इस नीति को लागू करनी चाहिए। जहां कांग्रेस और उसके सहयोगी दल को अवसर मिलना था। और यदि वह यह मानती है कि बहुमत वाले गठबंधन को सरकार बनाने का हक है तो फिर कर्नाटक में इस रीति का पालन करते हुए कांग्रेस-जेडीएस को अवसर क्यों नहीं दी गयी?

वह कर्नाटक के राज्यपाल के अधिकारों का दुरुपयोग और संविधान की अवहेलना करवा रही है। देश की जनता के समक्ष भाजपा का दोहरा चरित्र उजागर हो चुका है। श्री सिंह ने कहा कि हिन्दुस्तान का लोकतंत्र संवैधानिक मूल्यों, संस्थाओं की स्वतंत्रता, धर्मनिरपेक्षता और सहनशीलता से चलता है। लेकिन अब तक के दृष्टान्तों और राजनैतिक अनुभवों से पता चलता है कि बीजेपी को इन वसूलों में कोई विश्वास है ही नहीं। यह देश की संसदीय शासन पद्धति और प्रजातंत्र को क्षत-विक्षत करने की साजिश है।

अन्य विशेष खबरों के लिए पढ़िये की पंजाब केसरी अन्य रिपोर्ट