BREAKING NEWS

किसी विधायक ने मुझसे सुरक्षा नहीं मांगी है : कर्नाटक विधानसभा अध्यक्ष◾कर्नाटक में जारी सत्ता का संघर्ष एक बार फिर शीर्ष अदालत की चौखट पर◾Sensex में साल की दूसरी बड़ी गिरावट, निवेशकों ने दो दिन में गंवाये 3.79 लाख करोड़ रुपये ◾ कुमारस्वामी ने स्पीकर से फ्लोर टेस्ट की डेट सोमवार तक बढ़ाने की अपील की , भाजपा बोली- हम तैयार नहीं◾Top 20 News 19 July - आज की 20 सबसे बड़ी ख़बरें◾चुनाव याचिका पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को नोटिस जारी ◾BJP विश्वास प्रस्ताव पर मत-विभाजन के लिए आतुर है, क्योंकि वह विधायकों को खरीद चुकी : सिद्धारमैया ◾सोनभद्र में पीड़ित परिवारों से मिलने जा रही प्रियंका गांधी को रोका, धरने पर बैठीं◾प्रियंका की गैरकानूनी गिरफ्तारी भाजपा सरकार की बढ़ती असुरक्षा का संकेत: राहुल गांधी ◾सरकार बचाने के लिए सत्ता का नहीं करूंगा दुरुपयोग : कुमारस्वामी◾कर्नाटक विधानसभा अध्यक्ष बोले- विश्वास मत पर मतदान में देरी नहीं कर रहा हूं◾सोनभद्र मामले में 3 सदस्यीय समिति का गठन, 10 दिनों के अंदर सौंपेगी रिपोर्ट : योगी ◾कुमारस्वामी शुक्रवार को देंगे अपना विदाई भाषण : येदियुरप्पा◾कर्नाटक : विश्वास मत पर रोक के लिए सुप्रीम कोर्ट पहुंचे कुमारस्वामी◾बिहार : छपरा में मवेशी चोरी के आरोप में भीड़ ने की युवकों की पिटाई, 3 की मौत◾मोहम्मद मंसूर खान से पूछताछ कर रही है ईडी : SIT◾आयकर विभाग के एक्शन से भड़कीं मायावती, कहा- अपने गिरेबान में झांके भाजपा ◾कुलभूषण जाधव को राजनयिक पहुंच प्रदान करेगा पाकिस्तान◾IMA पोंजी घोटाला: संस्थापक मंसूर खान दिल्ली एयरपोर्ट से गिरफ्तार◾कर्नाटक विधानसभा में नहीं हो सका विश्वास मत पर फैसला, सदन के अंदर BJP का धरना ◾

देश

सरकार मजबूत, सुरक्षित और समावेशी भारत बनाने की दिशा में आगे बढ़ रही है : राष्ट्रपति कोविंद

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद आज संसद के संयुक्त सत्र को संबोधित करने वाले है। राष्ट्रपति कोविंद अपने संबोधन में मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल की नीतियों और एजेंडे को प्रस्तुत करेंगे। इसमें लोकसभा और राज्यसभा के सभी सांसद मौजूद होंगे। राष्ट्रपति के संबोधन के बाद संसद का सत्र शुरू हो जाएगा। इसी सत्र में सरकार बजट पेश करने वाली है। 

UPDATES : 

संसद भवन में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का संबोधन 

- अपने अभिभाषण में राष्ट्रपति ने आधी आबादी की चर्चा करते हुए कहा कि महिला सशक्तिकरण सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है और इस संबंध में राज्यों के सहयोग से कई कदम उठाए गए हैं। उन्होंने तीन तलाक प्रथा का उल्लेख करते हुए कहा, ‘‘देश में हर बहन-बेटी के लिए समान अधिकार सुनिश्चित करने हेतु ‘तीन तलाक’ और ‘निकाह-हलाला’ जैसी कुप्रथाओं का उन्मूलन जरूरी है। मैं सभी सदस्यों से अनुरोध करूंगा कि हमारी बहनों और बेटियों के जीवन को और अधिक सम्मानजनक एवं बेहतर बनाने वाले इन सभी प्रयासों में अपना सहयोग दें।’’ 

- सेना एवं सशस्त्र बलों के आधुनिकीकरण का काम तेजी से आगे बढ़ने की ओर ध्यान दिलाते हुए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि भारत को पहला राफेल लड़ाकू विमान और ‘अपाचे’ हेलीकॉप्टर निकट भविष्य में मिलने जा रहे हैं। सरकार द्वारा ‘मेक इन इंडिया’ के तहत आधुनिक अस्त्र-शस्त्र बनाने पर विशेष बल दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि भारत को पहला राफेल लड़ाकू विमान और ‘अपाचे’ हेलीकॉप्टर निकट भविष्य में मिलने जा रहे हैं।

- राष्ट्रपति ने कहा कि सरकार ने पिछले 21 दिनों में किसान, व्यापारियों समेत समाज के सभी वर्गों के लिये कई फैसले किये और उन पर अमल शुरू कर दिया है। उन्होंने कहा कि सरकार एक मजबूत, सुरक्षित और समावेशी भारत बनाने की दिशा में आगे बढ़ रही है। कोविंद ने कहा कि जल संकट की समस्या है। जल स्रोत लुप्त हो रहे हैं। आने वाले समय में इस संकट के और अधिक गहराने की आशंका है इसलिए स्वच्छ भारत की तरह जल संरक्षण के लिये भी गंभीरता दिखानी होगी।


-  राष्ट्रपति ने कहा कि कृषि क्षेत्र में संरचनात्मक सुधारों के लिये उच्च अधिकार प्राप्त समिति गठित करने का निर्णय किया गया है तथा उत्पादकता बढ़ाने के लिये 25 लाख करोड़ रुपये का निवेश किया जाएगा कोविंद ने कहा कि ‘राष्ट्रीय रक्षा कोष’ से वीर जवानों के बच्चों को मिलने वाली छात्रवृत्ति की राशि बढ़ा दी गई है। इसमें पहली बार राज्य पुलिस के जवानों के बेटे-बेटियों को भी शामिल किया गया है । 

- राष्ट्रपति कोविंद ने कहा, प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत, स्वरोजगार के लिए लगभग 19 करोड़ ऋण दिए गए हैं। इस योजना का विस्तार करते हुए अब 30 करोड़ लोगों तक इसका लाभ पहुंचाने का प्रयास किया जाएगा। कर व्यवस्था में निरंतर सुधार के साथ-साथ सरलीकरण पर भी जोर दिया जा रहा है। 5 लाख रुपए तक की आय को कर-मुक्त करने का फैसला इसी दिशा में उठाया गया एक महत्वपूर्ण कदम है। कारोबार सुगमता की रैंकिंग में वर्ष 2014 में भारत 142वें स्थान पर था। पिछले 5 वर्षों में 65 रैंक ऊपर आकर हम 77वें स्थान पर पहुंच गए हैं। अब विश्व के शीर्ष 50 देशों की सूची में आना हमारा लक्ष्य है। नई सरकार का मुख्य लक्ष्य एक सुरक्षित राष्ट्र का निर्माण करना है। 

- 2014 से पहले के वातावरण से सभी देशवासी परिचित है और देश को निराशा के माहौल से निकाला है। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि पहली बार किसी सरकार ने छोटे दुकानदार भाई-बहनों की आर्थिक सुरक्षा पर ध्यान दिया है। कैबिनेट की पहली बैठक में ही छोटे दुकानदारों और रीटेल ट्रेडर्स के लिए एक अलग ‘पेंशन योजना’ को मंजूरी दे दी गई है। इस योजना का लाभ देश के लगभग 3 करोड़ छोटे दुकानदारों को मिलेगा। आज भारत दुनिया के उन देशों में से है, जिनमें सबसे ज्यादा स्टार्ट-अप हैं।


- राष्ट्रपति ने कहा कि इस बार 78 महिला सांसदों का चुना जाना नए भारत के तस्वीर प्रस्तुत करता है। भारत की विविधताएं इस सत्र में दिख रही हैं क्योंकि इस बार कई क्षेत्रों से सदस्य चुनकर आए हैं। खेल, शिक्षा, वकालत, फिल्म, समाज सेवा हर क्षेत्र से आए लोग यहां मौजूद हैं। उन्होंने कहा कि देश की जनता ने बहुत की स्पष्ट जनादेश दिया है और पहले कार्यकाल के मूल्यांकन के बाद दूसरी बार बड़ा जनादेश दिया है। 

- नया भारत रबीन्द्रनाथ टैगोर के आदर्श भारत के उस स्वरुप की ओर आगे बढ़ेगा जहां लोगों का चित भय मुक्त हो और आत्मा सम्मान से उसका मस्तक ऊंचा रहे। हमें अपनी आने वाली पीढ़ियों के लिए जल संरक्षण करना होगा। इस दिशा में जल शक्ति मंत्रालय का निर्माण एक निर्णायक कदम है।

- इस लोकसभा चुनाव में 61 करोड़ से अधिक नागरिकों ने अपना वोट डाला और एक नया रिकॉर्ड बनाया। भारत के लोगों ने स्पष्ट जनादेश दिया। चुनाव में महिलाओं और पुरुषों की भागीदारी समान रही है। सरकार 'सबका साथ, सबका विकास' के लिए काम कर रही है।

- राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने की संसद में दोनों सदनों के संयुक्त सत्र से अपने संबोधन की शुरुआत।


- संसद के दोनों सदनों के संयुक्त सत्र को संबोधित करने के लिए संसद पहुंचे राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद। 

- राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद आज संसद के दोनों सदनों के संयुक्त सत्र को संबोधित करने के लिए रवाना हो चुके है।


आज से ही राज्यसभा का सत्र भी शुरू हो रहा है जो 26 जुलाई तक चलेगा। राष्ट्रपति के इस अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव भी प्रस्तुत किया जाएगा। इस सत्र में संसद में कई महत्वपूर्ण बिलों पर चर्चा हो सकती है जिसमें तीन तलाक पर मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में लाया गया बिल प्रमुख है। सरकार इस बिल को जल्द से जल्द पास कराना चाहती है। 

इससे संसद में घमासान भी देखने को मिल सकता है। 5 जुलाई को संसद में बजट पेश किया जाएगा और 26 जुलाई को सत्र खत्म हो जाएगा।गौरतलब है की मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल में लोकसभा का पहला सत्र 17 जून को शुरू हुआ। जिसमें बुधवार को लोकसभा स्पीकर राजस्थान के कोटा से सांसद ओम बिड़ला को बनाया गया। 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित विभिन्न दलों के नेताओं ने प्रस्ताव किया और कई अन्य नेताओं ने इनका अनुमोदन किया। बाद में पूरे सदन ने ध्वनिमत से अपना समर्थन दिया और फिर कार्यवाहक अध्यक्ष वीरेन्द्र कुमार ने बिड़ला को स्पीकर घोषित किया। 

गौरतलब है कि ओम बिड़ला राजस्थान के कोटा संसदीय क्षेत्र से लगातार दूसरी बार निर्वाचित हुए हैं। ओम बिड़ला की तारीफ करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि हम सबके लिए गर्व का विषय है कि स्पीकर पद पर आज हम ऐसे व्यक्ति का अनुमोदन कर रहे हैं, जिन्होंने छात्र राजनीति से ही जीवन का सर्वाधिक उत्तम समय, बिना किसी ब्रेक के समाज की किसी न किसी गतिविधि में व्यतीत किया है। 

इससे पहले नए चुने हुए सांसदों को प्रोटेम स्पीकर की उपस्थिति में शपथ दिलाई गई। जिसमें 17वीं लोकसभा में चुने गए सभी सांसदों ने शपथ ली।