BREAKING NEWS

वैक्सीन सर्टिफिकेट पर छपी PM मोदी की फोटो पर TMC ने जताया ऐतराज, EC से की शिकायत ◾भारत बायोटेक की कोवैक्सिन के तीसरे चरण के ट्रायल नतीजे जारी, टीका 81 फीसदी तक प्रभावी◾कोविड-19 वैक्सीनेशन के लिए समयसीमा खत्म, अब चौबीसों घंटे लगवा सकते हैं टीका : हर्षवर्धन◾यौन उत्पीड़न के आरोपों में फंसने के बाद रमेश जारकिहोली ने दिया इस्तीफा, कही ये बात ◾एमसीडी उप चुनावों में AAP का जलवा, केजरीवाल बोले- जनता ने ‘काम के नाम’ पर किया मतदान ◾बॉलीवुड सितारों पर लटकी इनकम टैक्स की तलवार, अभिनेता और निर्माताओं के ठिकानों पर छापेमारी ◾SC ने खारिज की फारूक अब्दुल्ला के खिलाफ याचिका, सरकार की राय से अलग विचार रखने वाला देशद्रोह नहीं◾वेबिनार के संबोधन में PM मोदी बोले- कई क्षेत्रों में प्रतिभावान युवाओं के लिये खुल रहे दरवाजे◾दिल्ली MCD उपचुनाव में नहीं चली मोदी लहर, AAP ने 5 वॉर्ड में से 4 पर किया कब्जा, 1 पर कांग्रेस ◾BJP सांसद के बेटे पर बदमाशों के हमले को लेकर पुलिस ने किया दावा- रिश्तेदार से खुद पर चलवाई गोली◾Covid-19 : पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना के 14989 नए मामलों की पुष्टि, 98 लोगों की मौत ◾दुनियाभर में कोरोना वायरस का कहर जारी, संक्रमितों का आंकड़ा 11.47 करोड़ के पार ◾राहुल लाना चाहते हैं कांग्रेस में बदलाव, कहा- BJP के अहंकार से लड़ने के लिए विनम्र बने रहने की जरूरत ◾ सौरव गांगुली को फैसला करना है कि वह PM की रैली में शामिल होना चाहते हैं या नहीं : भाजपा ◾लखनऊ में भाजपा सासंद के बेटे को बाइक सवार हमलावरों ने मारी गोली, हॉस्पिटल में एडमिट ◾TOP - 5 NEWS 03 MARCH : आज की 5 सबसे बड़ी खबरें◾आज का राशिफल (03 मार्च 2021)◾आपातकाल एक गलती थी : राहुल गांधी◾यूएई में पहली बार ‘एक्सरसाइज डेजर्ट फ्लैग-6’ युद्धाभ्यास में भाग लेगी भारतीय वायु सेना ◾असम में पहले चरण के चुनाव के लिए अधिसूचना जारी ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

किसान नेताओं और केंद्रीय मंत्रियों की वार्ता में ये होंगे अहम मुद्दे, तीनों कानूनों को लेकर उठा है सारा विवाद

नये कृषि कानूनों के विरोध में सड़कों पर उतरे किसान संगठनों के प्रतिनिधि आज (मंगलवार) जब विज्ञान-भवन में केंद्रीय मंत्रियों के साथ बैठक करेंगे तो वे इन कानूनों से जुड़े मसलों के साथ-साथ कुछ अन्य मुद्दों पर भी चर्चा करेंगे। किसानों के मसलों को लेकर केंद्र सरकार से बातचीत करने के लिए प्रदर्शन स्थल से दिल्ली के लिए रवाना होने से पहले उन्होंने बताया कि वे किसानों से जुड़ी सभी समस्याओं पर सरकार से बात करना चाहते हैं। 

हालांकि उनका कहना है कि वार्ता के दौरान जो प्रमुख मसले रहेंगे उनमें तीनों नये कृषि कानूनों को वापस लेने के साथ-साथ एमएसपी की गारंटी की मांग शामिल हैं। इनके अलावा, पराली दहन अध्यादेश में किसानों पर जेल की सजा और भारी जुर्माना वापस लेना और बिजली सब्सिडी से जुड़े मसलों पर भी किसान बातचीत करना चाहते हैं। 

किसान संगठन मोदी सरकार द्वारा लागू तीन नये कृषि कानून, कृषक उपज व्यापार और वाणिज्य (संवर्धन और सरलीकरण) कानून 2020, कृषक (सशक्तिकरण व संरक्षण) कीमत आश्वासन व कृषि सेवा पर करार कानून 2020 और आवश्यक वस्तु (संशोधन) अधिनियम 2020 को वापस लेने की मांग कर रहे हैं। उनका कहना है कि इन कानूनों का फायदा किसानों को नहीं, बल्कि कॉरपोरेट को होगा। केंद्रीय मंत्रियों के साथ मंगलवार को बैठक में इन तीनों कानूनों पर चर्चा होगी। 

PM मोदी ने विपक्ष पर किसानों को 'बरगलाने' का लगाया आरोप, कांग्रेस ने किया पलटवार

दूसरा बड़ा मसला न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर फसलों की खरीद की गारंटी का है। किसान चाहते हैं कि केंद्र सरकार उन्हें एमएसपी पर फसलों की खरीद की गारंटी दे। तीसरा मसला पराली दहन से संबंधित है। केंद्र सरकार ने हाल ही में पराली दहन पर रोक लगाने के लिए एक अध्यादेश लाया है जिसमें नियमों का उल्लंघन करने पर पांच साल तक जेल की सजा या एक करोड़ रुपये तक जुर्माना या दोनों का प्रावधान है। किसान नेता इस अध्यादेश के मसले पर भी बातचीत करेंगे। 

वहीं, चौथा अहम मुद्दा बिजली से संबंधित है। पंजाब में किसानों को ट्यूबवेल के लिए मुफ्त में बिजली मिलती है। उन्हें आशंका है कि सरकार द्वारा बिजली वितरण निजी हाथों में देने पर उन्हें यह छूट नहीं मिलेगी। इसलिए किसान नेता इस वार्ता के दौरान बिजली के मसले पर भी चर्चा करना चाहते हैं। 

केंद्र सरकार द्वारा वार्ता के लिए आमंत्रित किसान संगठनों के नेता प्रदर्शन स्थल से विज्ञान भवन के लिए रवाना हो चुके हैं। जानकारी के अनुसार, किसान संगठनों के प्रतिनिधियों के साथ रक्षामंत्री राजनाथ सिंह की अगुवाई में वार्ता होगी जिसमें केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर और रेलमंत्री पीयूष गोयल भी मौजूद रहेंगे। 

कृषि सचिव ने सोमवार को उन्हें एक पत्र भेजकर केंद्रीय मंत्रियों से बातचीत के लिए एक दिसंबर को आमंत्रित किया है। किसान संगठनों के प्रतिनिधियों को केंद्रीय मंत्रियों से वार्ता के लिए मंगलवार को दोपहर तीन बजे विज्ञान भवन बुलाया गया है। 

किसानों के साथ केंद्र की बातचीत से पहले BJP की बैठक, नड्डा के आवास पर राजनाथ सिंह और शाह मौजूद