BREAKING NEWS

महिला अपराध पर सीएम योगी सख्त, छेड़खानी और बलात्कारियों के पोस्टर लगाने का दिया आदेश ◾कांग्रेस का बड़ा आरोप - केंद्र सरकार ने कृषि विधेयकों के जरिए नयी जमींदारी प्रथा का उद्घाटन किया◾IPL 2020 KXIP vs RCB: रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का किया फैसला◾कृषि बिल के विरोध पर बोले केंद्रीय मंत्री तोमर, कांग्रेस पहले अपने घोषणापत्र से मुकरने की करे घोषणा◾महीनों के लॉकडाउन के बाद भी नहीं थम रहा है कोरोना, जानिये भारत क्यों चुका रहा है भारी कीमत◾केंद्रीय मंत्री जावड़ेकर ने कहा- विपक्षी दलों की राजनीति हो गई है दिशाहीन ◾ICU में भर्ती डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया की हालत स्थिर, अगले कुछ दिनों में फिर होगा कोरोना टेस्ट ◾रेलवे ने जताई चिंता - 'रेल रोको आंदोलन' से जरूरी सामानों और राशन की आवाजाही पर पड़ेगा असर ◾महाराष्ट्र : एकनाथ शिंदे भी कोरोना वायरस से संक्रमित, संपर्क में आए लोगों से जांच करवाने की अपील की ◾कांग्रेस ने अमित शाह की रैली को बताया जनता का अपमान, कोरोना संकट में धनबल की राजनीति का लगाया आरोप◾Fit India Movement के एक वर्ष पूरा होने पर बोले PM मोदी-जितना फिट होगा इंडिया, उतना हिट होगा इंडिया◾कैग की रिपोर्ट में खुलासा: दिल्ली में लगे 44% CCTV कैमरे खराब, 20 साल पुरानी तकनीक के भरोसे पुलिस◾ श्रम कानून : राहुल गांधी ने सरकार पर साधा निशाना, बोले-किसानों के बाद मजदूरों पर किया वार ◾लफ्फाजी का लॉलीपॉप हो गए हैं राहुल गांधी : मुख्तार अब्बास नकवी◾J&K के पुलवामा में सुरक्षाबलों ने एक आतंकवादी को मार गिराया, बडगाम में 1 जवान शहीद ◾देश में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 86,508 नए मामले दर्ज, संक्रमितों का आंकड़ा 57 लाख से अधिक◾ड्रग्स केस : बॉलीवुड की ड्रग्स मंडली का होगा खुलासा, सिमोन खंबाटा से NCB की पूछताछ जारी◾भारत और चीन तनाव के बीच आज रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह 43 पुलों का करेंगे उद्घाटन◾वैश्विक स्तर पर कोरोना संक्रमितों की संख्या 3 करोड़ 17 लाख से अधिक, 9 लाख 75 हजार से अधिक लोगों की मौत◾ ONGC प्लांट में लगी भयंकर आग, दमकल विभाग मौके पर ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

अपने निर्वाचन क्षेत्र में कम दिखने वाले सांसदों को मुश्किल समय का करना पड़ता है सामना : थरूर

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शशि थरूर ने कहा है कि अपने निर्वाचन क्षेत्र से अलग तरह का संबंध रखने वाले और वहां बहुत कम दिखने वाले सांसदों को मुश्किल समय का सामना करना पड़ता है। केरल के तिरूवनंतपुरम से 2009 से लगातार तीन बार लोकसभा के लिए निर्वाचित हुए थरूर ने यहां एक कार्यक्रम में कहा कि उन्हें लगता है कि उन्होंने अपना काम बखूबी किया और यही कारण है कि लोगों ने उन पर एक बार फिर से भरोसा जताया। 

उल्लेखनीय है कि हालिया लोकसभा चुनाव के नतीजों के बाद राजनीतिक विश्लेषकों ने उत्तर प्रदेश में कांग्रेस के गढ़ अमेठी में राहुल गांधी की हार का कारण इस क्षेत्र के मतदाताओं से उनका कटे रहना या संपर्क में नहीं रहना बताया था। हालांकि, थरूर ने इस बात का जिक्र किया कि सिर्फ भाजपा के सांसद और उत्तर भारत के सांसद उनकी इस दलील के समर्थन में हैं। 

राज्यसभा में सीतारमण बोली- बजट में किय गये उपायों से निवेश को मिलेगी गति

कांग्रेस नेता ने कहा, ‘‘खास तौर पर उत्तर (भारत) के सांसद, जिनके अपने निर्वाचन क्षेत्रों से कुछ अलग तरह के संबंध हैं और जो वहां कम दिखते हैं, उन्हें मुश्किल समय का सामना करना पड़ता है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘वे लोग उनमें शामिल हैं जो शायद नरेंद्र मोदी के नाम पर जीत सकते है और इस बार भी ऐसा ही हुआ। लेकिन हममें से बहुतों को जो चीज उनसे अलग करती है वह निर्वाचन क्षेत्र में हमारे द्वारा किया गया काम है।’’ 

उन्होंने कहा कि लोगों ने उन्हें दोबारा चुना क्योंकि लोगों ने यह माना कि उन्होंने अपना काम बखूबी किया है। थरूर ने कहा, ‘‘लोगों ने मुझे देखा, अपने सुख-दुख में शामिल होते देखा और यही कारण है कि उन लोगों ने भरोसा जताया तथा मुझे वोट दिया।’’ थरूर ने यहां बृहस्पतिवार को ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी प्रेस द्वारा आयोजित दक्षिण एशिया परिचर्चा के तीसरे सत्र में यह कहा। इसमें शोधार्थियों, नीति निर्माता, नौकरशाह और पत्रकारों ने आधुनिक दक्षिण एशिया को परिभाषित करने वाले समकालिक विचारों को परिभाषित किया।