BREAKING NEWS

दिल्ली में हिंसा के लिए गृह मंत्री जिम्मेदार, कांग्रेस ने कहा- केवल 30 से 40 ट्रैक्टर लेकर उपद्रवी लाल किले में कैसे घुस पाए?◾हिंसा के बाद किसान आंदोलन में पड़ी दरार, दो संगठनों ने खुद को किया अलग◾26 जनवरी हिंसा: राकेश टिकैत, अन्य किसान नेताओं के खिलाफ एफआईआर दर्ज◾गणतंत्र दिवस पर हुई हिंसा के बाद गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली में कानून-व्यवस्था की समीक्षा की ◾संयुक्त किसान मोर्चा की सफाई - असामाजिक तत्वों ने शांतिपूर्ण प्रदर्शनों को नष्ट करने की कोशिश की◾दिल्ली पुलिस ने ट्रैक्टर परेड में हिंसा के संबंध 200 लोगों को हिरासत में लिया, पूछताछ जारी ◾BCCI प्रमुख सौरव गांगुली को सीने में दर्द, अपोलो हॉस्पिटल में कराया गया एडमिट ◾नेपाल में कोविड टीकाकरण का पहला चरण शुरू, भारत ने तोहफे में दी है 10 लाख वैक्सीन डोज◾ किसान ट्रैक्टर परेड: गणतंत्र दिवस पर हिंसा की जांच के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल◾दो दिवसीय दौरे पर केरल पहुंचे राहुल, मलप्पुरम में गर्ल्स स्कूल के भवन का किया उद्घाटन ◾किसान आंदोलन को बदनाम करने की साजिश हुई कामयाब : हन्नान मोल्लाह◾किसानों की ट्रैक्टर रैली के दौरान भड़की हिंसा में 300 पुलिसकर्मी हुए घायल, क्राइम ब्रांच करेगी जांच◾ट्रैक्टर परेड हिंसा : संयुक्त किसान मोर्चा ने बुलाई बैठक, सभी पहलुओं पर होगी चर्चा ◾DND फ्लाईओवर पर लगा भारी जाम, लाल किला मेट्रो स्टेशन की एंट्री व एग्जिट बंद ◾Today's Corona Update : देश में पिछले 24 घंटे में 12 हजार नए केस, 137 मरीजों की हुई मौत ◾वीडियो वायरल होने के बाद बोले राकेश टिकैत-लाठी कोई हथियार नहीं◾विश्व में कोरोना का प्रकोप जारी, मरीजों का आंकड़ा 10 करोड़ से पार ◾किसानों की ट्रैक्टर परेड में बवाल, दिल्ली पुलिस ने हिंसा के मामले में 22 FIR दर्ज की ◾TOP 5 NEWS 27 DECEMBER : आज की 5 सबसे बड़ी खबरें ◾राकांपा अध्यक्ष शरद पवार बोले- दिल्ली में जो कुछ हुआ, उसका समर्थन नहीं किया जा सकता ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

दुनिया के करीब-करीब हर नेता के साथ बातचीत की शुरूआत योग से हुई - PM मोदी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुक्रवार को कहा कि दुनिया के करीब करीब हर नेता के साथ उनकी बातचीत की शुरूआत योग से होती है और शायद ही विश्व का कोई नेता होगा जिसने योग पर बात करने में उनके साथ 5-10 मिनट नहीं लगाए होंगे। 

एक योग पुरस्कार वितरण कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि लेकिन भूटान की उनकी हाल की यात्रा के दौरान इसमें बदलाव आया जहां डिस्कवरी के कार्यक्रम ‘मैन वर्सेज वाइल्ड’ में उनकी मौजूदगी को लेकर ज्यादा चर्चा थी । 

प्रधानमंत्री ने कहा कि दुनिया का कोई व्यक्ति जो भारत की भाषा भी नहीं जानता हो, वह भी जब योग की बात आती है तो सोचता है कि अच्छा होता कि वह योग से जुड़ जाता। 

उन्होंने कहा कि हमारे महापुरुषों ने इस एक विधा को लेकर जो समर्पण किया है उसने दुनिया के स्वास्थ्य क्षेत्र में कितना बड़ा योगदान दिया है, इसका हमें गर्व होता है। 

उन्होंने कहा कि अब हमें योग के अलावा आयुष की अन्य विद्याओं को भी दुनिया भर में पहुंचाना है। योग ने खिड़की खोल दी है, दरवाजे खुलने में देर नहीं लगेगी । 

मोदी ने कहा, ‘‘ मैं दुनिया में कहीं भी जाता हूं, कोई कितना ही बड़ा लीडर हो, उनसे बात की शुरुआत योग से ही होती है । शायद ही विश्व का कोई लीडर होगा जिसने योग पर बात करने में मेरे साथ 5-10 मिनट न खपाए हों । ’’ 

प्रधानमंत्री ने कहा कि आज योग, स्वास्थ्य के साथ दुनिया को भारत के साथ जोड़ने का माध्यम बन रहा है। यानी योग की अब नई परिभाषा निकलकर आई है। योग शरीर, मन, बुद्धि आत्मा को तो जोड़ता था, अब योग दुनिया को भी जोड़ता है । 

उन्होंने कहा कि बीते 5 वर्षों में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर दुनियाभर में योग के लिए अभूतपूर्व उत्साह दिखा है। वह दुनिया में जहां भी जाते हैं, वहां के नेताओं से बात की शुरुआत योग पर बातचीत से ही होती है। 

मोदी ने कहा कि आज हम देखते हैं कि जिस भोजन को हमने छोड़ दिया, उसको दुनिया ने अपनाना शुरु कर दिया है। जौ, ज्वार, रागी, कोदो, सामा, बाजरा, सांवा, ऐसे अनेक अनाज कभी हमारे खान-पान का हिस्सा हुआ करते थे। लेकिन अब ये सब चीजें हमारी थालियों से गायब हो गई हैं ।