पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जम्मू कश्मीर के कठुआ में एक रैली में उनकी टिप्पणी को लेकर रविवार को निशाना साधा और कहा कि BJP मुस्लिमों और अल्पसंख्यकों को “बाहर करने” के अपने “विनाशकारी एजेंडे” से देश को “बांटना” चाहती है।

प्रधानमंत्री ने कठुआ में एक चुनावी रैली में अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती परिवारों पर यह कहते हुए हमला बोला कि दोनों परिवारों ने जम्मू कश्मीर की तीन पीढ़ियों को ‘‘बर्बाद’’ कर दिया और वह उन्हें भारत को “बांटने” नहीं देंगे।

मोदी ने कहा, “अब्दुल्ला परिवार और मुफ्ती परिवार ने जम्मू कश्मीर की तीन पीढ़ियों के जीवन को नष्ट कर दिया। जम्मू कश्मीर का उज्ज्वल भविष्य उनके हटने के बाद ही सुनिश्चित किया जा सकता है। वे अपने पूरे कुनबे को मैदान में ला सकते हैं, जितना चाहें मोदी को बुरा भला कह सकते हैं लेकिन वे इस देश को बांट नहीं पाएंगे।”

pm modi

उन्होंने कहा कि राज्य के बेहतर भविष्य के लिए उन्हें सत्ता से बाहर किये जाने की जरुरत है। प्रधानमंत्री नेशनल कान्फ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला के जम्मू-कश्मीर के लिए अलग प्रधानमंत्री की मांग की ओर इशारा कर रहे थे। यद्यपि राज्य की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा जिनकी पार्टी 2015 से 2018 तक BJP के साथ गठबंधन में राज्य में सत्ता में थी, ने कहा कि प्रधानमंत्री चुनाव से पहले राजनीतिक परिवारों पर हमले करते हैं और चुनाव के बाद गठबंधन करने के लिए दूत भेजते हैं।

अब्दुल्ला और मुफ्ती परिवार ने जम्मू-कश्मीर की 3 पीढ़ियों का जीवन नष्ट कर दिया : PM मोदी

पीडीपी अध्यक्ष ने ट्विटर पर लिखा, “क्यों प्रधानमंत्री चुनाव से पहले राजनीतिक परिवारों पर हमले करते हैं और चुनाव के बाद गठबंधन करने के लिए दूत भेजते हैं? 99 में नेशनल कान्फ्रेंस और 2015 में पीडीपी। उन्होंने तब अनुच्छेद 370 पर सत्ता को क्यों चुना? BJP  मुस्लिमों और अल्पसंख्यकों को ‘‘बाहर करने’’ के अपने ‘‘विनाशकारी एजेंडे’’ से भारत को ‘‘बांटना’’ चाहती है।”

Mehbooba mufti tweet

मोदी ने कश्मीरी पंडितों के घाटी छोड़कर जाने के लिए कांग्रेस पर निशाना साधा और कहा कि उनकी सरकार विस्थापित समुदाय को उनके मूल स्थानों पर बसाने के लिए प्रतिबद्ध है और इस दिशा में काम शुरू हो चुका है।