BREAKING NEWS

दिल्ली शराब नीति मामला : 11 दिसंबर को कविता से पूछताछ करेगी CBI◾MP Borewell Incident : एमपी के बैतूल में 8 साल का बच्चा बोरवेल में गिरा, बचाव अभियान जारी◾भारत अंतरराष्ट्रीय मोटा अनाज वर्ष के जश्न को आगे बढ़ाएगा - PM मोदी◾गुजरात में भी विफल मीम-भीम गठजोड़, सर्वे ने सभी को चौंकाया, भाजपा को सबसे आगे दिखाया ◾Tamil Nadu: सीएम स्टालिन ने कहा- उत्तर भारत के पेरियार हैं अंबेडकर◾UP News: सपा विधायक अतुल प्रधान ने किया सदन की कार्यवाही का फेसबुक पर सीधा प्रसारण, हुई कार्रवाई◾संसद में मचेगा घमासान! विपक्ष की महंगाई, बेरोजगारी जैसे मुद्दे पर मोदी सरकार को घेरने की तैयारी◾Uttarakhand: अदालत का अहम फैसला- पत्नी का गला घोंटकर मारने वाले पति को आजीवन कारावास दिया ◾Gold Rate Today Price: दिन के खत्म होते ही सोने में भारी चमक, 118 रूपये दर्ज की गई बढ़ोत्तरी◾UP News: विधानसभा का शीतकालीन सत्र अनिश्चितकाल के लिए स्थगित◾UP News: योगी आदित्यनाथ ने कहा- देश में सर्वश्रेष्ठ मानकों पर कार्य कर रहा है उप्र का होमगार्ड विभाग◾Border dispute: शरद पवार ने कर्नाटक के मुख्यमंत्री को दिया अल्टीमेटम, क्या थमेगा विवाद? ◾TMC, JD(U), SAD की महिला आरक्षण विधेयक पर आमसहमति बनाने के लिये सर्वदलीय बैठक की मांग◾किसानों का बड़ा ऐलान: केंद्र सरकार के खिलाफ शुक्रवार को जंतर-मंतर पर करेंगे प्रदर्शन◾केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा- अवैध खनन रोकने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है ड्रोन◾ईदगाह मस्जिद में हनुमान चालीसा का पाठ करने जा रहे अखिल भारत हिंदू महासभा का नेता हुआ गिरफ्तार ◾गोखले को हिरासत में लेने पर बयानबाजी शुरू, अभिषेक बनर्जी बोले- डरी हुई है भाजपा◾आतंकियों के निशाने पर कश्मीरी हिन्दू, TRF ने हिटलिस्ट जारी कर दी धमकी ◾CBI को मिली बड़ी कामयाबी, उत्तर रेलवे के एक इंजीनियर को दबोचा, दो करोड़ रूपए किए बरामद◾गुजरात में भाजपा की होगी जीत! सीएम बोम्मई ने कहा- इसका सीधा सकारात्मक प्रभाव कर्नाटक में पडे़गा◾

उत्तराखंड में भारी बारिश के बाद एक बार फिर चारधाम यात्रा ठप्प, बिगड़े मौसम से जहां-तहां फंसे लोग

उत्तराखंड में सोमवार को दूसरे दिन भी लगातार भारी बारिश और उंची पहाड़ियों पर बर्फबारी जारी रही जिससे चारधाम यात्रा ठप पड़ गई है। इस बीच, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से फोन पर राज्य में भारी बारिश के मद्देनजर बचाव हेतु की जा रही तैयारियों के विषय में जानकारी ली और केंद्र सरकार से हर संभव मदद का आश्वासन दिया ।

श्रद्धालुओं को यात्रा पडावों पर ही रोक लिया गया

बड़ी संख्या में तीर्थयात्रियों के चारधाम क्षेत्रों में होने के मद्देनजर मुख्यमंत्री धामी ने उन्हें सुरक्षित स्थानों पर ठहराए जाने के निर्देश दिए जिसके बाद श्रद्धालुओं को यात्रा पडावों पर ही रोक लिया गया । दशहरे के बाद सप्ताहांत की छुटिटयों के कारण इस समय प्रदेश में हजारों की संख्या में श्रद्धालु और पर्यटक हैं । प्रदेश में मंगलवार तक भारी बारिश की चेतावनी को देखते हुए मुख्यमंत्री सभी जिलाधिकारियों और आपदा प्रबंधन से जुड़े विभागों और एजेंसियों के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ लगातार संपर्क में हैं और स्थिति का जायजा ले रहे हैं ।

यात्रियों से सावधानी बरतने की अपील की और इस अवधि में यात्रा टालने का अनुरोध किया है

धामी ने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि यात्रियों और पर्यटकों के रहने और भोजन आदि की व्यवस्था भी सुनिश्चित की जाए और इसमें कोई लापरवाही नहीं हो । उन्होंने जिलाधिकारियों तथा वरिष्ठ पुलिस अधीक्षकों से स्वयं निगरानी करने को कहा । मुख्यमंत्री ने यात्रियों से भी सावधानी बरतने की अपील की और इस अवधि में यात्रा टालने का अनुरोध किया है । हालांकि, उन्होंने कहा कि घबराने वाले कोई हालात नहीं हैं। मुख्यमंत्री के निर्देश पर एहतियात के तौर पर प्रदेश में कक्षा एक से बारह तक के सभी स्कूल बंद रखे गए हैं ।

सभी जिलों में राज्य आपदा मोचन बल (एसडीआरएफ) की टीमें सतर्क

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य, जिलों और तहसील स्तरों पर नियंत्रण कक्ष 24 घंटे संचालित हों तथा सोमवार और मंगलवार तक दो दिनों में जिलों से हर घंटे रिपोर्ट भेजी जाए। रविवार को केदारनाथ का दौरा करने वाले प्रदेश के पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार ने बताया कि मौसम विभाग की चेतावनी के बाद सभी जिलों में राज्य आपदा मोचन बल (एसडीआरएफ) की टीमें सतर्क हैं ।

मौसम ठीक होने तक यात्रियों से आगे की यात्रा स्थगित करने का अनुरोध किया गया है

इस बीच बदरीनाथ और केदारनाथ धाम की यात्रा पर जा रहे तीर्थयात्रियों को मौसम सुधरने तक उनके पड़ाव पर ही रोका गया है। चमोली के जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी एनके जोशी ने बताया कि मौसम ठीक होने तक यात्रियों से आगे की यात्रा स्थगित करने का अनुरोध किया गया है। उन्होंने कहा कि बदरीनाथ जाने वाले यात्रियों से उसी पडाव पर रुकने को कहा गया है जहां वे रविवार को रुके थे। अधिकतर लोग जोशीमठ, पीपलकोटी, चमोली और बदरीनाथ में रुके हुए हैं ।

चार हजार तीर्थयात्रियों को एहतियातन मौसम ठीक होने तक यात्रा न करने की सलाह पर रोका गया

इसी प्रकार, केदारनाथ यात्रा मार्ग पर भी लगभग पांच हजार यात्रियों को मौसम ठीक होने तक अलग अलग स्थानों पर रोका गया है । रुद्रप्रयाग के जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी एनएस सिंह ने बताया कि केदारनाथ पैदल मार्ग पर गौरीकुंड से केदारनाथ तक,लिनचौली और भीमबली में लगभग चार हजार तीर्थयात्रियों को एहतियातन मौसम ठीक होने तक यात्रा न करने की सलाह पर रोका गया है ।

लगातार बारिश और उंची पहाडियों पर बर्फबारी होने से प्रदेश में ठंड ने दस्तक

इस बीच, लगातार बारिश और उंची पहाडियों पर बर्फबारी होने से प्रदेश में ठंड ने दस्तक दे दी है । राजधानी देहरादून में केवल एक ही दिन में पारा नौ डिग्री तक लुढक गया । शनिवार को देहरादून में जहां अधिकतम तापमान 30 डिग्री दर्ज किया गया था वहीं रविवार को यह 21 डिग्री सेल्सियस पर आ पहुंचा ।

केरल में भारी बारिश ने मचाई तबाही, शहर-शहर डूबे, अब तक 26 लोगों ने गंवाई जान