BREAKING NEWS

KKR vs MI IPL 2020: मुंबई ने कोलकाता को दिया 196 रनों का टारगेट◾महाराष्ट्र में कोरोना के 21 हजार से अधिक नए केस, 479 और लोगों की मौत◾कोरोना प्रभावित राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बोले PM मोदी- 7 दिन तक 1 घंटा लोगों से सीधे करें बात◾ड्रग केस में बड़ी कार्यवाही : NCB ने दीपिका, सारा , श्रद्धा कपूर और रकुल प्रीत सिंह को भेजा समन◾दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया की तबीयत बिगड़ी, LNJP हॉस्पिटल में भर्ती◾राहुल गांधी का तीखा वार : मप्र में कांग्रेस ने किसानों का कर्ज माफ किया, भाजपा ने झूठे वादे किए◾कृषि बिल पर विरोध : दिल्ली की ओर कूच कर रहे युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को पुलिस ने रोका, कई हिरासत में◾धोनी पर बरसे गंभीर , कहा - सातवें नंबर पर बल्लेबाजी करना मोर्चे से अगुवाई नहीं◾DRDO ने टैंक रोधी मिसाइल का किया सफल परीक्षण, रक्षा मंत्री ने दी बधाई ◾कोविड-19: देश में स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या में लगातार तेजी, रिकवरी रेट 81.25 प्रतिशत ◾कृषि बिल पर विरोध जारी, संसद परिसर में गांधी प्रतिमा से अंबेडकर प्रतिमा तक विपक्ष का मार्च ◾कृषि बिल : विपक्ष का संसद परिसर में प्रदर्शन, आज शाम 5 बजे 5 नेताओं से मिलेंगे राष्ट्रपति◾बारिश की वजह से डूबी मुंबई, सड़क और रेल यातायात बुरी तरह प्रभावित ◾सुशांत केस : ड्रग्स मामले में रिया-शोविक की सुनवाई टली, मुंबई में बारिश के चलते आज HC की छुट्टी◾कश्मीर के मुद्दे को लेकर तुर्की के राष्ट्रपति पर भड़का भारत, कहा- आंतरिक मामलों में दखल स्वीकार नहीं◾राहुल ने पीएम मोदी पर पड़ोसी देशों के साथ संबंधों को नष्ट करने का लगाया आरोप◾कोरोना संक्रमण के फैलते प्रकोप की वजह से संसद का मानसून सत्र आज से अनिश्चित काल के लिए स्थगित ◾देश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 56 लाख के पार, 90 हजार से अधिक लोगों ने गंवाई जान◾पीएम मोदी की 7 राज्यों के CM के साथ बैठक आज, कोरोना महामारी पर करेंगे चर्चा ◾अमेरिका में वैश्विक महामारी के नए मामलों में कमी, कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा 2 लाख के पार ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

बेंगलुरु हिंसा : शहर में धारा 144 लागू, 110 लोग गिरफ्तार, CM येदियुरप्पा ने की शांति की अपील

कर्नाटक के बेंगलुरु में आपत्तिजनक फेसबुक पोस्ट को लेकर मंगलवार देर रात हिंसक विरोध प्रदर्शन हुआ। फेसबुक पोस्ट से आहत हुई भीड़ ने थाने और और कांग्रेस विधायक के आवास में तोड़फोड़ कर आग के हवाले कर दिया। गुस्साई भीड़ ने पत्थरबाजी भी की, जिसमें दो लोगों की मौत और करीब 60 पुलिस के जवान घायल हो गए।

घटना के बाद इलाके में धारा 144 लागू कर दी गई है। डीजे हल्ली और केजी हल्ली पुलिस स्टेशन की सीमा में कर्फ्यू लगा दिया गया। पुलिस ने इस घटना में शामिल 110 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने हिंसा की निंदा करते हुए लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की।

मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर लिखा कि उन्होंने दोषियों पर कड़ी कार्रवाई करने के आदेश दिए हैं, साथ ही सरकार भीड़ के खिलाफ सही एक्शन ले रही है। येदियुरप्पा ने लिखा कि मीडिया, पुलिस और लोगों पर हमला करना ठीक नहीं है, ये बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। लोग शांति बनाकर रखें।

दरअसल, कांग्रेस विधायक अकांदा श्रीनिवास मूर्ति के करीबी द्वारा एक फेसबुक पोस्ट लिखा गया। इस पर कुछ लोगों को आपत्ति हुई और वो इसकी शिकायत दर्ज कराने पुलिस स्टेशन में पहुंचे। लेकिन, पुलिस ने आपसी तरीके से मामला सुलझाने के लिए कह दिया। लोग श्रीनिवास मूर्ति के रिश्तेदार की गिरफ्तारी की मांग कर रहे है। 

कांग्रेस विधायक ने वीडियो में अपील करते हुए कह रहे थे, "कृपया कुछ बदमाशों के शरारती कार्य को लेकर हिंसा का सहारा न लें।" शहर में केजी हल्ली पुलिस स्टेशन के सामने भी बड़ी भीड़ नजर आई। वहीं अन्य हिंसक भीड़ ने डीजे हल्ली पुलिस स्टेशन में घुसकर कुछ वाहनों और फर्नीचर की तोड़फोड़ की और कुछ पुलिसकर्मियों पर हमला करने की भी कोशिश की। कई तस्वीरें वायरल हुई हैं, जिनमें डीजे हल्ली पुलिस स्टेशन के बाहर बर्बरता स्पष्ट नजर आ रही है। 

चामाराजपेट से विधायक बी. जेड. जमीर अहमद खान ने भी हिंसक भीड़ से अनुरोध किया कि वे शांत रहें और इलाके में शांति बनाए रखें। खान ने कहा, "कवल बिसंद्रा में होने वाली घटना दुर्भाग्यपूर्ण है। मुझे उम्मीद है कि पुलिस उन सभी के खिलाफ कार्रवाई करेगी जो इसके लिए जिम्मेदार हैं।" 

एक अधिकारी ने बुधवार को बताया कि शहर के पुलिस आयुक्त कमल पंत ने विरोध प्रदर्शन प्रभावित इलाकों का दौरा किया, जहां भारी पुलिस की तैनाती की गई है। एक पुलिस अधिकारी ने कहा, "डीजे हल्ली और केजी हल्ली जैसे इलाकों में दुर्भाग्यपूर्ण घटनाएं हुई हैं। 

स्थिति को नियंत्रण में लाने के लिए पुलिस प्रयास कर रही है।" राज्य के गृह मंत्री बसवराज बोम्मई ने भी कानून को हाथ में लेने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की चेतावनी दी है।