BREAKING NEWS

बांग्लादेश : रोहिंग्या रिफ्यूजी कैंप में फायरिंग से सात लोगों की मौत◾मलिक के आरोपों पर बोले वानखेड़े- आप बड़े मंत्री हैं और मैं अदना सा सरकारी सेवक, करवा लें जांच ◾भारत के रिकॉर्ड टीकाकरण का अमेरिका ने भी माना लोहा, कहा- महामारी को हराने में दुनिया की होगी मदद ◾दुनिया ने भारत पर किया शक लेकिन देश ने सबसे पहले 100 करोड़ वैक्सीन लगाकर दिया जवाब : PM मोदी ◾सिंघु बॉर्डर पर फ्री में चिकन नहीं देने पर तोड़ी युवक की टांग, पुलिस ने निहंग नवीन को किया गिरफ्तार◾कल से तीन दिवसीय जम्मू-कश्मीर दौरे पर होंगे अमित शाह, टारगेट किलिंग पर करेंगे हाईलेवल मीटिंग ◾बांग्लादेश : कॉक्स बाजार से गिरफ्तार हुआ हिन्दुओं के खिलाफ हिंसा भड़काने वाला आरोपी◾Coronavirus : देश में पिछले 24 घंटे में 15786 नए मामलों की पुष्टि, 231 लोगों ने गंवाई जान ◾हॉलीवुड स्टार एलेक बाल्डविन ने गलती से सेट पर चला दी गोली, महिला कैमरामैन की मौत, एक घायल◾महामारी पर पीएम मोदी का लेख: ‘‘चिंता से आश्वासन’’ की ओर यात्रा है कोरोना टीकाकरण अभियान◾मायावती का तंज- समझना होगा कि जनता से छल व वादाखिलाफी के कारण कांग्रेस के आए बुरे दिन◾World Corona : दुनियाभर में महामारी का कहर बरकरार, संक्रमितों का आंकड़ा 25 करोड़ के करीब◾सुबह 10 बजे राष्ट्र को संबोधित करेंगे PM मोदी, क्या रिकॉर्ड वैक्सीनेशन पर करेंगे चर्चा ◾इतिहास रचा, भारत में अब कोविड से लड़ने का मजबूत सुरक्षा कवच है : PM मोदी◾स्मृति ईरानी एवं हेमा मालिनी पर टिप्पणी कों लेकर EC से कांग्रेस की शिकायत◾उप्र विधानसभा चुनाव जीतने के लिए नफरत फैला रही है भाजपा, हो सकता है भारत का विघटन : फारूक अब्दुल्ला◾एनसीबी के सामने पेश हुईं अभिनेत्री अनन्या पांडे, कल सुबह 11 बजे फिर होगा सवालों से सामना ◾सिद्धू का अमरिंदर सिंह पर पलटवार - कैप्टन ने ही तैयार किये है केन्द्र के तीन काले कृषि कानून◾हिमाचल के छितकुल में 13 ट्रैकरों की हुई मौत, अन्य छह लापता◾कांग्रेस का PM से सवाल- जश्न से जख्म नहीं भरेंगे, ये बताएं 70 दिनों में 106 करोड़ टीके कैसे लगेंगे ◾

अनलॉक-1 के पहले चरण में गोवा में आठ जून से नहीं खुलेंगे चर्च और मस्जिद

गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने कहा है कि राज्य के धार्मिक स्थल सोमवार से खुल सकेंगे लेकिन देश में कोविड-19 प्रकोप के मद्देनजर उनमें कोई भी सामाजिक जुटान वाली गतिविधि नहीं होगी।  गिरजाघरों और मस्जिदों को कुछ और समय के लिए बंद रखा जाएगा । हालांकि राज्य सरकार ने लॉकडाउन में रियायतों के तहत सोमवार से धार्मिक स्थानों को फिर से खोले जाने की अनुमति दे दी है। मंदिर समितियों ने श्रद्धालुओं के लिए मंदिर खोले जाने को लेकर अभी निर्णय नहीं किया है। 

शनिवार तक, गोवा में कोविड-19 के 267 मामले थे। आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार इनमें से 202 लोग अब भी संक्रमण की चपेट में हैं। गोवा चर्च के एक प्रवक्ता ने रविवार को कहा कि राज्य में कोविड-19 की स्थिति को देखते हुए गिरजाघरों को सोमवार से नहीं खोला जा सकता और वे इस पर फैसला लेने के लिए कुछ और समय तक प्रतीक्षा करेंगे। 

मुंबई की एक फार्मा कंपनी में गैस लीक होने से मचा हड़कंप, BMC ने कहा- हालात नियंत्रण में हैं

सामाजिक संचार मीडिया के लिए डायोसीस सेंटर के निदेशक फादर बैरी कोर्दाजो ने एक बयान में कहा, “हम अपने पादरियों एवं उपासकों को सूचित करना चाहते हैं कि हम राज्य में कोरोना वायरस के कारण उत्पन्न हुई स्थितियों का महत्वपूर्ण आकलन कर रहे हैं। इसलिए हम अपने प्रार्थना स्थलों को कल से खोलने की घोषणा करने की स्थिति में नहीं हैं।” उन्होंने कहा कि जब हम इन स्थलों को विवेक, सतर्कता और सावधानीपूर्वक खोलने का फैसला लेंगे तो वह राज्य सरकार की ओर से जारी मानक संचालन प्रक्रिया के अनुरूप होगा। राज्य में ईसाइयों की आबादी 30 प्रतिशत है और यहां के सभी चर्च मार्च में लॉकडाउन लागू होने के बाद से बंद हैं। कई पादरी तब से ऑनलाइन ही प्रार्थना सभाओं का आयोजन कर रहे हैं।