BREAKING NEWS

Coimbatore Blast Case: तमिलनाडु में मंदिर के बाहर कार बम विस्फोट मामले में 3 गिरफ्तार, जांच जारी ◾Draupadi Murmu: द्रोपदी मुर्मू ने कहा- नागरिकों के कल्याण पर विशेष ध्यान दें अधिकारी◾Border dispute: फडणवीस ने महाराष्ट्र-कर्नाटक सीमा विवाद पर गृह मंत्री अमित शाह को दी जानकारी◾लव जिहाद फिर बना चर्चा का केंद्र; कांग्रेस ने बताया फर्जी, नरोत्तम मिश्रा ने किया पलटवार ◾RBI ने कहा- भारतीय संस्थाएं आईएफएससी में सोने की कीमत के जोखिम को कम कर सकती ◾MCD नतीजों को लेकर बोले केजरीवाल- दिल्ली का फैसला देश के लिए सकारात्मक राजनीति करने का संदेश◾Indonesia: इंडोनेशिया में पुलिस थाने के बाहर विस्फोट में एक अधिकारी की मौत, 11 घायल ◾यूपी के गाजीपुर में हैवानियत! प्रेमी जोड़े को गांव के प्रधान ने दी क्रूर सजा, जमकर की पिटाई , फिर चटवाया धूक◾पाकिस्तान से निकले तालिबान ने कर दी, 17 पाकिस्तानी सैनिकों का सिर कलम ◾हिमाचल विश्वविद्यालय में मचा बवाल, लेफ्ट-राइट फिर आमने-सामने, पुलिस ने डाला डेरा ◾केजरीवाल ने MCD में फेरी झाड़ू, CM बोले- दिल्ली को बदलने के लिए PM मोदी के आशीर्वाद की जरूरत ◾Bihar News: एक मुस्लिम और दूसरा हिन्दू बेटा, मां के अंतिम संस्कार को लेकर भाई के बीच हुआ विवाद ◾खुद को पैगम्बर बताने वाले बेटमैन की 20 नाबालिग पत्नियां, बेटी के साथ भी की शादी◾पंजाब: पॉपुलर गायक बब्बू मान से मानसा में पूछताछ हो रही, मारने की मिली थी धमकी, जानें पूरा मामला ◾MCD Election Result: क्या गुजरात-हिमाचल में भी पलटेगी बाजी? दिल्ली में Exit Polls क्यों हुए फेल◾MCD Results: दिल्ली में बड़ा चेहरा न होने से फंसी भाजपा, केजरीवाल के इलाके में किसने मारी बाजी, यहां देखे ◾Kanpur News: BJP नेता को घसीटकर MCD के दफ्तर से बाहर फेंका, जानें पूरा मामला◾राजधानी में 'मेयर' भी केजरीवाल का! जश्न में जुटी 'AAP' पार्टी ने दी BJP को चुनौती- अब बनाकर दिखाओ◾लगेगा ट्रैफिक जाम की समस्या पर लगाम, दिल्ली-गुरुग्राम सीमा पर बनेगी 6 लेन वाली टनल, जानें इसके फायदे ◾MCD ELECTION 2022 : आप ने दर्ज की जीत, भाजपा प्रवक्ता ने CM केजरीवाल के दावे को याद दिलाया ◾

कर्नाटक सरकार को खतरा नहीं : जी टी देवेगौडा

कर्नाटक के उच्च शिक्षा मंत्री जी. टी. देवगौडा ने शनिवार को कहा कि हाल के लोकसभा चुनाव परिणाम से सबक लेना चाहिए लेकिन राज्य में कांग्रेस-जनता दल (सेक्युलर) गठबंधन सरकार को कोई खतरा नहीं है। श्री देवेगौडा ने कहा,‘‘ यह हमारे लिए बड़ सबक है। गठबंधन दल के नेताओं को हार स्वीकार करनी चाहिये और हमें जनता के फैसले का सम्मान करना चाहिये।’’

उच्च शिक्षा मंत्री ने यहां संवाददाताओं से बातचीत करते हुए कहा,‘‘ यह सच है कि चुनाव में मतदाताओं ने हमें नकार दिया लेकिन इस फैसले से गठबंधन सरकार के लिए कोई खतरा नहीं है। क्योंकि हमने राज्य के लोगों की सेवा के लिए एक-दूसरे से हाथ मिलाया है और सरकार अपना पांच साल का कार्यकाल पूरा करेगी।’’

वरिष्ठ जद (एस) नेता ने एक प्रश्न के उत्तर में कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री एच. डी. देवगौडा सहित सभी नेताओं ने जनता के फैसले को स्वीकार किया है। पूर्व प्रधानमंत्री तुमकुर लोकसभा सीट से चुनाव हार गये हैं। उन्होंने कहा कि इस पराजय को गठबंधन दल एक चुनौती के रूप में लेगा और अपनी गलतियों को सुधार कर गठबंधन को और मजबूत करेगा।

उन्होंने कहा कि हम सत्ता में बने रहेंगे और सत्तारूढ़ पार्टी के विधायकों को लुभाने का भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को मौका नहीं होने देंगे। श्री देवगौडा ने कहा कि उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को बधाई भेजी है और उनसे अपील की कि वह राज्य और किसानों की मांग पर विचार करें।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस-जनता दल (सेक्युलर) दोनों दलों में निराशा का माहौल नहीं है क्योंकि लोकतंत्र मे हार और जीत आम बात है। इस बीच, वरिष्ठ नेता बी। सी। पाटिल ने स्पष्ट कहा कि उनका कांग्रेस छोड़ने और भाजपा में शामिल होने का कोई इरादा नहीं है।

 मीडिया के कुछ वर्ग में इस तरह की अफवाहें चल रही हैं। यह रिपोर्ट दूर-दूर तक सच नहीं है और उनका भाजपा में शामिल होने का कोई इरादा नहीं है। श्री पाटिल ने एक प्रश्न का उत्तर देते हुए कहा कि भाजपा की ओर से किसी ने भी उन्हें अपनी पार्टी में शामिल होने के लिए संपर्क नहीं किया है। भगवा दल में शामिल होने के लिए उन्हें मंत्री पद की कोई पेशकश नहीं की गयी है।