BREAKING NEWS

आज का राशिफल ( 05 जुलाई 2022) ◾Maharashtra Politics: शिंदे ने भेजा उद्धव गुट के विधायकों को अयोग्यता नोटिस, 'बालासाहेब के सम्मान' में आदित्य ठाकरे का नाम छोड़ा◾डिजिटल प्रौद्योगिकी की सराहना करते हुए मोदी बोले- भारत ने ‘ऑनलाइन’ जाकर सभी ‘लाइन’ को खत्म किया ◾मोदी सात जुलाई को जाएंगे वाराणसी, विकास परियोजनाओं का करेंगे शिलान्यास◾ रो-कर बागियों को वापस लौटने की अपील करने वाले विधायक शिंदे गुट में शामिल◾राष्ट्रपति चुनाव : मुर्मू संकल्प ले वह निर्वाचित होने के बाद ‘रबर स्टाम्प राष्ट्रपति’ नहीं होगी - यशवंत सिन्हा ◾राष्ट्रपति चुनाव : मुर्मू संकल्प ले वह निर्वाचित होने के बाद ‘रबर स्टाम्प राष्ट्रपति’ नहीं होगी - यशवंत सिन्हा ◾दिल्ली में दरिंदों ने की हदपार! लक्ष्मीनगर इलाके में 7 साल की बच्ची के साथ किया कुर्कम, पॉस्कों एक्ट के तहत दर्ज मामला◾ PM Modi security breach : पीएम मोदी की सुरक्षा में बड़ी चूक, चॉपर के उड़ान भरते ही आसमान में उड़ाए गए काले गुब्बारे ◾Punjab News: मान ने पंजाब कैबिनेट का किया विस्तार, इन पांच विधायकों ने ली मंत्री पथ की शपथ ◾मीडिया का परिदृश्य पिछले कुछ सालों में बदल गया......., बोले केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ◾RCP Singh: भाजपा को बड़ा झटका! केंद्रीय मंत्री आरसीपी सिंह BJP में नहीं हुए शामिल ◾आप आग से नहीं खेल सकते... नूपुर शर्मा को करें गिरफ्तार! CM ममता ने फिर उठाई कड़ी कार्रवाई की मांग ◾ खाली हाथ रह गया उद्धव गुट, अजीत पवार को चुना गया महाराष्ट्र विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष ◾ ज्ञानवापी केस : जिला अदालत में सुनवाई टली, 12 को पक्ष रखेंगे मुस्लिम अधिवक्ता ◾Punjab Board Result 2022: पंजाब में कल छात्र-छात्राओं का अहम दिन, जारी होगा 10वीं का रिजल्ट, इस लिंक पर करें चेक◾ यशवंत सिन्हा की मुर्मू से अपील उनकी ओछी मानसिकता को दर्शाती है - सीटी रवि ◾शरद के बाद कांग्रेस ने भी शिंदे सरकार को लेकर की भविष्यवाणी, कहा - लंबे समय तक नही़ टिकेगी सरकार ◾महाराष्ट्र में 'कानून का शासन' नहीं, शिवसेना बोली- BJP का स्पीकर चुनाव जीतना हैरानी की बात नहीं... ◾राम रहीम को लेकर याचिकाकर्ता पर भड़का हाईकोर्ट, कहा - ये फिल्म चल रही है क्या ◾

एमपी सरकार को सबक सिखाएंगे किसान: शिवकुमार शर्मा

भोपाल ( मनीष शर्मा) किसान आंदोलन के सात महीने पूरे होने पर शनिवार को राष्ट्रपति के नाम राज्यपाल को ज्ञापन सौंपने निकलने से पहले ही शिव कुमार शर्मा सहित किसान नेताओं को पुलिस ने उनके घर में ही नजरबंद कर दिया। वहीं नर्मदा आंदोलन चलाने वाली मेघा पाटकर, डॉ.सुनीलम, सरोज बादल सहित सैकड़ों कार्यकर्ताओं को पालिटेक्निक चौराहे पर रोककर गांधी भवन में बंद कर दिया गया। इसका नेतृत्व कर रहे किसान नेता शिव कुमार शर्मा 'कक्का जी' ने पुलिस की इस कार्रवाई की निंदा की है। 

उन्होंने कहा है कि अब मध्य प्रदेश सरकार को सबक सिखाया जाएगा। पांच लोग भी ज्ञापन देने नहीं जा सकते हैं। क्या ज्ञापन देना भी अपराध है और ऐसा है तो इनके (सरकार) दिन समाप्त हो गए हैं। शर्मा ने कहा कि अब दिल्ली कूच करेंगे। इसकी रणनीति रविवार को बनाई जाएगी। वहीं अब प्रदेश के गांव-गांव में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के पुतले जलाए जाएंगे।

शर्मा ने कहा कि प्रदेश में किसानों को अपनी बात शांतिपूर्वक रखने से भी रोका जाता है। हर बार यही होता है। जैसे ही किसान अपनी बात कहने की कोशिश करता है, उसे घर में ही कैद कर लिया जाता है। आज भी किसान संगठनों का संयुक्त कार्यक्रम था। हमें सिर्फ ज्ञापन सौंपना था, पर मुझ सहित अन्य नेताओं को घर के बाहर पुलिस लगाकर रोक दिया गया।

यह अलोकतांत्रिक है और इसकी हम घोर निंदा करते हैं। शर्मा ने कहा कि आने वाले दिनों में आंदोलन मजबूती से उठेगा। उल्लेखनीय है कि तीन कृषि कानूनों के खिलाफ किसान संगठन सात माह से आंदोलन कर रहे हैं। मध्य प्रदेश के किसान दिल्ली-पलवल की सीमा पर डटे थे। इसी आंदोलन के सात माह पूरे होने पर ज्ञापन सौंपने की रणनीति थी।