BREAKING NEWS

विकास दुबे के लिए मुखबिरी करने के आरोपी पुलिसकर्मी को खुद के एनकाउंटर का डर, SC में दी याचिका◾सचिन पायलट की खुली बगावत, विधायक दल की बैठक में नहीं होंगे शामिल, बोले- अल्पमत में है गहलोत सरकार◾राजस्थान में गुटबाजी के संकट को टालने के लिये अजय माकन और रणदीप सुरजेवाला जयपुर भेजे गए ◾राजस्थान में जारी सियासी घमासान के बीच, सिंधिया का ट्वीट, बोले- कांग्रेस पार्टी में प्रतिभा और क्षमता का स्थान नहीं◾नहीं थम रहा महाराष्ट्र में कोरोना का विस्फोट, बीते 24 घंटे में 7,827 नए केस, संक्रमितों का आंकड़ा 2.54 लाख के पार◾राजस्थान सियासी संकट के बीच, ज्योतिरादित्य सिंधिया से मिले सचिन पायलट ◾सियासी घमासान के बीच, मुख्यमंत्री गहलोत ने सोमवार सुबह 10:30 बजे बुलाई कांग्रेस विधायक दल की बैठक◾दिल्ली में कोरोना का विस्फोट जारी, बीते 24 घंटे में 1,573 नए केस, संक्रमितों का आंकड़ा 1.12 लाख के पार◾राजस्थान घमासान पर सिब्बल ने जताई चिंता, कहा - क्या घोड़ों के अस्तबल से निकलने के बाद ही हम जागेंगे?◾विकास दुबे प्रकरण की जांच के लिए आयोग गठित, रिटायर जज शशि कांत अग्रवाल होंगे अध्यक्ष ◾सरकार पर संकट के बीच CM गहलोत ने आज रात 9 बजे बुलाई विधायकों की बैठक◾राजस्थान सरकार संकट : विधायकों की खरीद-फरोख्त मामले में SOG के नोटिस को CM गहलोत ने बताया सामान्य ◾अमिताभ-अभिषेक के बाद ऐश्वर्या और आराध्या भी कोरोना पॉजिटिव ◾PAK ने फिर शुरू किए आतंकी सरगना हाफिज सईद समेत JuD के नेताओं के बैंक अकाउंट◾राजस्थान में गहलोत सरकार पर संकट, सचिन पायलट विधायकों के साथ दिल्ली पहुंचे ◾कोरोना से निपटने के लिए UP में अब होगा वीकेंड लॉकडाउन, हर शनिवार और रविवार बंद रहेंगे बाजार ◾अनुपम खेर का भी परिवार आया कोरोना की चपेट में, मां समेत 4 सदस्य पॉजिटिव ◾अमित शाह बोले-कोरोना के खिलाफ देश की लड़ाई में बड़ी भूमिका निभा रहे हैं सुरक्षा बल◾राहुल ने किया ट्वीट- ऐसा क्या हुआ कि मोदी जी के रहते भारत माता की पवित्र जमीन को चीन ने छीन लिया?◾देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या साढ़े आठ लाख के करीब, अब तक 22674 लोगों की मौत ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

गुजरात से नहीं टकराएगा तूफान ‘महा’, दीव तट से 40 किमी पहले ही तीव्र दबाव में हो जाएगा तब्दील

अरब सागर में उठा अति गंभीर तूफान महा कुछ और कमजोर पड़ कर अब मात्र गंभीर श्रेणी के तूफान के तौर पर गुजरात की ओर बढ़ रहा है पर राहत की बात यह है कि अब यह गुजरात तट से नहीं टकराएगा और दीव तट से 40 किमी की दूरी पर ही कल दोपहर तक मात्र तीव्र दबाव अथवा डीप डिप्रेशन में बदल जाएगा।

अहमदाबाद मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक जयंत सरकार ने बताया कि तूफान महा अनुमान से तेजी के साथ कमजोर पड़ रहा है। यह अपनी दिशा को और थोड़ बदल सकता है और तट से टकराने से पहले ही तूफान का स्चरूप खो देगा। यह दीव तट के निकट पहुंचने से पहले ही तीव्र दबाव में बदल जाएगा और कल शाम तक मात्र दबाव के क्षेत्र में परिवर्तित हो जाएगा। 

इसके असर से हालांकि राज्यभर में हल्की से मध्यम वर्षा होगी पर आज तटीय सौराष्ट्र के जिलो गिर सोमनाथ, भावनगर, अमरेली आदि में भारी वर्षा तथा कल भरूच, भावनगर, वडोदरा और दक्षिणी अहमदाबाद में ऐसी वर्षा हो सकती है। तटीय इलाकों में कल लगभग 65 से 75 किमी प्रति घंटे तक की गति से हवायें चल सकती है। 

आज सुबह साढ़ पांच बजे तूफान महा पोरबंदर से 450 किमी तथा दीव से 540 किमी पश्चिम दक्षिणपश्चिम में स्थित था। यह 15 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से आगे बढ़ रहा था। पहले इसके कल दोपहर दीव तट के आसपास सामान्य तूफान के तौर पर तट से टकराने और इसके प्रभाव से आज अहमदाबाद, राजकोट, सूरत, भरूच, जूनागढ़, गिर सोमनाथ, अमरेली, भावनगर, बोटाद और पोरबंदर जिलों में भारी से अति भारी वर्षा तथा कल अहमदाबाद, आणंद, सूरत, भरूच, वडोदरा, बोटाद और भावनगर जिलों में इस तरह की वर्षा होने की संभावना जतायी गयी थी। 

तमिलनाडु: यात्री विमान में करने लगा योग, ‘असुविधा’ के कारण उतारा गया

इस बीच राज्य सरकार का तंत्र संभावित राहत और बचाव कार्य के लिए पूरी तरह तैयार है। एक अधिकारी ने बताया कि तूफान के कमजोर पड़ना राहत की बात है पर एहतियात के तौर पर तटीय इलाकों में एनडीआरएफ की 30 कंपनियां तैनात की जायेंगी। राहत और बचावकेंद्र भी बनाए गए हैं। 

लोगों को समुद, तटीय इलाकों में नहीं जाने देने के लिए एहतियाती उपाय किए जा रहे हैं। उधर, मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने मौजूदा परिस्थिति में कल राजकोट में भारत बंगलादेश के बीच होने वाले टी 20 क्रिकेट मैच देखने के अपने कार्यक्रम को रद्द कर दिया है। 

इस मैच पर भी मौसम के चलते खतरा मंडरा रहा है। सौराष्ट्र क्षेत्र से लगे केंद्रशासित प्रदेश दीव में भी तूफान के तट के काफी निकट तक पहुंचने के चलते व्यापक तैयारियां की गयी है। वहां एनडीआरएफ की पांच कंपनियां तैनात की जा रही हैं। तटवर्ती इलाकों से पर्यटकों और अन्य लोगों को हटने के आदेश दिए गए हैं। ऐसे क्षेत्रों में पुलिस भी तैनात की जा रही है।