BREAKING NEWS

CAA को लेकर कन्हैया कुमार ने केंद्र पर साधा निशाना, कहा- सरकार देश में भड़की आग में घी डालने का काम कर रही◾दिल्ली विधानसभा चुनाव : EC ने अनुराग ठाकुर, प्रवेश वर्मा को भाजपा की स्टार प्रचारक की सूची से बाहर किया ◾दिल्ली चुनाव : CM केजरीवाल बोले- भाजपा का मुझे ‘‘आतंकवादी’’ कहना बेहद दुखद◾कांग्रेस नेता चिदंबरम ने भाजपा पर साधा निशाना, ट्वीट कर कही ये बात◾दिल्ली चुनाव : जे पी नड्डा बोले- दिल्ली में पोस्टरबाजी वाली सरकार नहीं, डबल इंजन की भाजपा सरकार चाहिए◾बैडमिंटन खिलाड़ी साइना नेहवाल भाजपा में हुई शामिल, दिल्ली विधानसभा चुनाव में करेंगी प्रचार ◾राहुल ने प्रधानमंत्री और वित्त मंत्री पर साधा निशाना, कहा- अर्थव्यवस्था को लेकर हैं अनभिज्ञ ◾निर्भया केस : सुप्रीम कोर्ट ने दोषी मुकेश कुमार की दया याचिका की ख़ारिज ◾सड़क हादसे में 26 लोगों की मौत पर PM मोदी ने जताया शोक, बोले- नासिक में हुई दुर्घटना दुर्भाग्यपूर्ण◾अनुराग ठाकुर के बयान पर ओवैसी बोले- जगह बताइए जहां मुझे गोली मारेंगे, मैं आने को तैयार◾सीएए पर केरल विधानसभा में हंगामा : यूडीएफ विधायकों ने राज्यपाल का रोका रास्ता, मार्शलों ने रास्ता बनाया◾दिल्ली पुलिस शरजील इमाम को पटना से लेकर हुई रवाना, खुलेंगे कई राज ◾सीएए और एनआरसी के खिलाफ दलित संगठनों का आज भारत बंद, सुरक्षा के कड़े इंतजाम◾कोरोना वायरस से चीन में मरने वालों की संख्या 132 हुई, 6,000 से ज्यादा मामलों की पुष्टि ◾वुहान में फंसे अपने नागरिकों को निकालेगा भारत : जयशंकर ◾चुनाव आयोग ने अनुराग ठाकुर के आपत्तिजनक बयान को देखते हुए जारी किया नोटिस◾शाहीन बाग में कोई प्रदर्शनकारी मर क्यों नहीं रहा है? : दिलीप घोष◾देशद्रोह के आरोपी शरजील को बिहार से दिल्ली ले जाने की तैयारी◾केन्द्र सरकार, राज्यों के साथ बेहतर समन्वय बनाकर विकास की नई दिशा तय करना चाहती है : शाह◾चुनाव दिल्ली के 2 करोड़ लोगों व 200 भाजपा सांसदों के बीच : केजरीवाल ◾

बहुचर्चित बैट कांड की वजह से चर्चा में रहे मकान को इंदौर नगर निगम ने ढहाया

मध्‍य प्रदेश के इंदौर में बहुचर्चित बैट कांड की वजह रहे विवादस्पद मकान को इंदौर नगर निगम ने शुक्रवार को ढहा दिया है । जब निगम अधिकारी इस मकान को गिराने के लिए पहुंचे थे तो आकाश की उनसे झड़प हो गई थी। इससे पहले नगर निगम के फैसले पर रोक लगाए जाने वाली याचिका को मध्य प्रदेश उच्च न्यायालय ने खारिज कर दिया था।

कोर्ट ने इस अभियान से प्रभावित होने वाले परिवार को जल्द राहत प्रदान करने के लिए शहरी निकाय बोर्ड  को आदेश दिया था कि मकान ढहाए जाने से पहले प्रभावित लोगो को अस्थायी निवास की वैकल्पिक सुविधा प्रदान कराई जाए। 

उच्च न्यायालय की इंदौर पीठ के न्यायमूर्ति रोहित आर्य ने करीब सवा घंटे तक दोनों पक्षों के तर्क सुनने के बाद इस आशय का फैसला सुनाया। प्रभावित परिवार के वकील पुष्यमित्र भार्गव ने बताया, ''अदालत ने दोनों पक्षों की दलीलें सुनने के बाद कहा कि जर्जर मकानों को ढहाने की इंदौर नगर निगम की मुहिम चूंकि जनता के व्यापक हितों में है इसलिए वह इस अभियान में दखल नहीं देगी।'' 

अस्थायी निवास में तीन महीने तक रह सकता है परिवार 

भार्गव ने  कहा, 'अदालत ने मामले से संबंधित गंजी कम्पाउंड क्षेत्र के मकान को तोड़े जाने पर स्थगन आदेश पारित किए जाने की हमारी याचिका को स्वीकार नहीं किया। कोर्ट ने नगर निगम को आदेश दिया कि वह प्रभावित परिवार के लिए दो दिन के समय के अंदर किसी दूसरे निवास का इंतजाम करे और जब तक इस अस्थायी निवास में यह परिवार तीन महीने तक रह सकता है।

मकान निरीक्षक को आकाश विजयवर्गीय ने क्रिकेट के बैट से धुना 

 गंजी कम्पाउंड क्षेत्र के इसी मकान को तोड़ने की मुहिम के विरोध के समय भाजपा नेता कैलाश विजयवर्गीय के बेटे आकाश ने विवाद के बाद नगर निगम के एक भवन निरीक्षक को क्रिकेट के बैट से पीट दिया था।