BREAKING NEWS

IPL 2020 : राजस्थान रायल्स ने किंग्स इलेवन पंजाब को 4 विकेट से हराया ◾महाराष्ट्र में कोरोना का कोहराम बरकरार, बीते 24 घंटे में 18,056 नए केस, 380 की मौत ◾IPL 2020 RR vs KXIP : पंजाब की तूफानी बल्लेबाजी, राजस्थान को दिया 224 रनों का लक्ष्य◾मप्र उपचुनाव : कांग्रेस ने 9 और उम्मीदवारों की दूसरी लिस्ट की जारी, भाजपा के तीन नेताओं को मिला टिकट◾कोविड-19 : सत्येंद्र जैन ने कहा- पिछले 10 दिनों में दिल्ली में मृत्यु दर एक फीसदी से नीचे रही◾संसद से पारित तीनों कृषि संबंधी विधेयकों को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने दी मंजूरी◾IPL 2020 RR vs KXIP : राजस्थान ने जीता टॉस, पंजाब को दिया बल्लेबाजी का न्योता◾फिल्मकार अनुराग कश्यप की गिरफ्तारी में देरी होने पर पायल घोष ने उठाए सवाल ◾बिहार के पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय जेडीयू में हुए शामिल, कहा- नहीं समझता राजनीति◾विधानसभा चुनाव के लिए बिहार में तैनात होंगे 30,000 जवान, गृह मंत्रालय ने दिए निर्देश◾मतदाताओं को लुभाने की कवायद में जुटे राजनीतिक दल, तेजस्वी ने 10 लाख युवाओं को नौकरी देने का किया वादा◾पूर्व सैन्य अधिकारी होने के बावजूद एक दक्ष नेता के तौर पर जसवंत ने हमेशा दिखाई राजनीतिक ताकत◾चीन को जवाब देने के लिए भारत पूरी तरह तैयार, लद्दाख में तैनात किए T-90 और T-72 टैंक◾मन की बात : PM मोदी बोले-देश का कृषि क्षेत्र, हमारे किसान, गांव आत्मनिर्भर भारत का आधार◾जिस गठबंधन में शिवसेना और अकाली दल नहीं, मैं उसको NDA नहीं मानता : संजय राउत◾देश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 60 लाख के करीब, पिछले 24 घंटे में 1124 लोगों की मौत◾राहुल गांधी का PM मोदी पर तंज- काश, कोविड एक्सेस स्ट्रैटेजी ही मन की बात होती◾क्या ड्रग चैट्स का होगा खुलासा, एनसीबी ने दीपिका, सारा और श्रद्धा के फोन किए जब्त ◾पूर्व केंद्रीय मंत्री जसवंत सिंह का निधन, पीएम मोदी ने शोक व्यक्त किया◾पूर्व केंद्रीय मंत्री उमा भारती कोरोना से संक्रमित, खुद को किया क्वारनटीन◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

बहुचर्चित बैट कांड की वजह से चर्चा में रहे मकान को इंदौर नगर निगम ने ढहाया

मध्‍य प्रदेश के इंदौर में बहुचर्चित बैट कांड की वजह रहे विवादस्पद मकान को इंदौर नगर निगम ने शुक्रवार को ढहा दिया है । जब निगम अधिकारी इस मकान को गिराने के लिए पहुंचे थे तो आकाश की उनसे झड़प हो गई थी। इससे पहले नगर निगम के फैसले पर रोक लगाए जाने वाली याचिका को मध्य प्रदेश उच्च न्यायालय ने खारिज कर दिया था।

कोर्ट ने इस अभियान से प्रभावित होने वाले परिवार को जल्द राहत प्रदान करने के लिए शहरी निकाय बोर्ड  को आदेश दिया था कि मकान ढहाए जाने से पहले प्रभावित लोगो को अस्थायी निवास की वैकल्पिक सुविधा प्रदान कराई जाए। 

उच्च न्यायालय की इंदौर पीठ के न्यायमूर्ति रोहित आर्य ने करीब सवा घंटे तक दोनों पक्षों के तर्क सुनने के बाद इस आशय का फैसला सुनाया। प्रभावित परिवार के वकील पुष्यमित्र भार्गव ने बताया, ''अदालत ने दोनों पक्षों की दलीलें सुनने के बाद कहा कि जर्जर मकानों को ढहाने की इंदौर नगर निगम की मुहिम चूंकि जनता के व्यापक हितों में है इसलिए वह इस अभियान में दखल नहीं देगी।'' 

अस्थायी निवास में तीन महीने तक रह सकता है परिवार 

भार्गव ने  कहा, 'अदालत ने मामले से संबंधित गंजी कम्पाउंड क्षेत्र के मकान को तोड़े जाने पर स्थगन आदेश पारित किए जाने की हमारी याचिका को स्वीकार नहीं किया। कोर्ट ने नगर निगम को आदेश दिया कि वह प्रभावित परिवार के लिए दो दिन के समय के अंदर किसी दूसरे निवास का इंतजाम करे और जब तक इस अस्थायी निवास में यह परिवार तीन महीने तक रह सकता है।

मकान निरीक्षक को आकाश विजयवर्गीय ने क्रिकेट के बैट से धुना 

 गंजी कम्पाउंड क्षेत्र के इसी मकान को तोड़ने की मुहिम के विरोध के समय भाजपा नेता कैलाश विजयवर्गीय के बेटे आकाश ने विवाद के बाद नगर निगम के एक भवन निरीक्षक को क्रिकेट के बैट से पीट दिया था।