BREAKING NEWS

TOP 20 NEWS 7 DEC : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾दिल्ली विधानसभा चुनाव में भाजपा का नारा 'अबकी बार, तीन पार' होगा : केजरीवाल◾एनआरसी के खिलाफ कल जंतर-मंतर पर प्रदर्शन करेगी पार्टी : संजय सिंह◾राकांपा नेता उमाशंकर यादव बोले- नैतिकता के आधार पर तत्काल इस्तीफा दें CM योगी◾बलात्कारी के लिए मृत्युदंड से सख्त सजा कुछ नहीं हो सकती, पालक भी जिम्मेदारी समझें : स्मृति ईरानी◾CM केजरीवाल ने उन्नाव बलात्कार पीड़िता की मौत को बताया शर्मनाक, ट्वीट कर कही ये बात ◾बलात्कार की घटनाओं पर स्वत: संज्ञान लें सुप्रीम कोर्ट : मायावती◾PM मोदी, अमित शाह और अजीत डोभाल पुणे में शीर्ष पुलिस अधिकारियों के सम्मेलन में हुए शामिल ◾केरल में बोले राहुल गांधी- महिलाओं के खिलाफ हिंसा और ज्यादतियों में हुई बढ़ोतरी◾सशस्त्र सेना झंडा दिवस के अवसर PM मोदी ने लोगों से किया अनुरोध, बोले- सशस्त्र बल के कल्याण के लिए योगदान दें◾उन्नाव रेप पीड़िता की मौत के विरोध में BJP मुख्यालय पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं का प्रदर्शन, पुलिस ने किया लाठीचार्ज◾उन्नाव रेप पीड़िता की मौत के बाद विधानसभा के बाहर धरने पर बैठे अखिलेश यादव, कहा- वो जिंदा रहना चाहती थी◾उन्नाव पीड़िता की मौत पर बोली स्वाति मालीवाल- सरकार बलात्कार पीड़िताओं के प्रति असंवेदनशील ◾उन्नाव बलात्कार पीड़िता की मौत पर बोली प्रियंका गांधी- यह हम सबकी नाकामयाबी है हम उसे न्याय नहीं दिला पाए◾उन्नाव रेप केस: बुजुर्ग पिता की गुहार, बेटी के गुनहगारों को मिले मौत की सजा◾उन्नाव रेप पीड़िता की दर्दनाक मौत अति-कष्टदायक : मायावती◾सीएम बनने के बाद PM मोदी से पहली बार मिले उद्धव ठाकरे, सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए मुम्बई रवाना हुए मोदी ◾झारखंड विधानसभा चुनाव : सिल्ली में जीत का 'चौका' लगा पाएंगे सुदेश महतो?◾झारखंड: विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण के लिए 20 सीटों पर मतदान जारी, PM मोदी ने की लोगों से वोट डालने की अपील ◾जिंदगी की जंग हार गई उन्नाव रेप पीड़िता, सफदरजंग अस्पताल में हुई मौत◾

अन्य राज्य

बहुचर्चित बैट कांड की वजह से चर्चा में रहे मकान को इंदौर नगर निगम ने ढहाया

 aakash

मध्‍य प्रदेश के इंदौर में बहुचर्चित बैट कांड की वजह रहे विवादस्पद मकान को इंदौर नगर निगम ने शुक्रवार को ढहा दिया है । जब निगम अधिकारी इस मकान को गिराने के लिए पहुंचे थे तो आकाश की उनसे झड़प हो गई थी। इससे पहले नगर निगम के फैसले पर रोक लगाए जाने वाली याचिका को मध्य प्रदेश उच्च न्यायालय ने खारिज कर दिया था।

कोर्ट ने इस अभियान से प्रभावित होने वाले परिवार को जल्द राहत प्रदान करने के लिए शहरी निकाय बोर्ड  को आदेश दिया था कि मकान ढहाए जाने से पहले प्रभावित लोगो को अस्थायी निवास की वैकल्पिक सुविधा प्रदान कराई जाए। 

उच्च न्यायालय की इंदौर पीठ के न्यायमूर्ति रोहित आर्य ने करीब सवा घंटे तक दोनों पक्षों के तर्क सुनने के बाद इस आशय का फैसला सुनाया। प्रभावित परिवार के वकील पुष्यमित्र भार्गव ने बताया, ''अदालत ने दोनों पक्षों की दलीलें सुनने के बाद कहा कि जर्जर मकानों को ढहाने की इंदौर नगर निगम की मुहिम चूंकि जनता के व्यापक हितों में है इसलिए वह इस अभियान में दखल नहीं देगी।'' 

अस्थायी निवास में तीन महीने तक रह सकता है परिवार 

भार्गव ने  कहा, 'अदालत ने मामले से संबंधित गंजी कम्पाउंड क्षेत्र के मकान को तोड़े जाने पर स्थगन आदेश पारित किए जाने की हमारी याचिका को स्वीकार नहीं किया। कोर्ट ने नगर निगम को आदेश दिया कि वह प्रभावित परिवार के लिए दो दिन के समय के अंदर किसी दूसरे निवास का इंतजाम करे और जब तक इस अस्थायी निवास में यह परिवार तीन महीने तक रह सकता है।

मकान निरीक्षक को आकाश विजयवर्गीय ने क्रिकेट के बैट से धुना 

 गंजी कम्पाउंड क्षेत्र के इसी मकान को तोड़ने की मुहिम के विरोध के समय भाजपा नेता कैलाश विजयवर्गीय के बेटे आकाश ने विवाद के बाद नगर निगम के एक भवन निरीक्षक को क्रिकेट के बैट से पीट दिया था।