BREAKING NEWS

KKR vs RR ( IPL 2020 ) : केकेआर की ‘युवा ब्रिगेड’ ने दिलाई रॉयल्स पर शाही जीत, राजस्थान को 37 रन से हराया◾पूर्वी लद्दाख में सीमा विवाद पर विदेश मंत्रालय ने कहा - दोनों देशों ने छठे दौर की वार्ता के नतीजों का सकारात्मक मूल्यांकन किया◾बंगाल BJP के वरिष्ठ नेता 1 अक्टूबर को करेंगे अमित शाह से मुलाकात◾सोमनाथ ट्रस्ट की बैठक में शामिल हुए PM मोदी◾बाबरी विध्वंस फैसले पर जमीयत का सवाल- जब मस्जिद तोड़ी गई तो फिर सब निर्दोष कैसे, क्या यह न्याय है?◾अनलॉक 5 की गाइडलाइन्स : 15 अक्टूबर से सिनेमा हाल, स्विमिंग पूल और मनोरंजन पार्क खोलने की अनुमति ◾अनलॉक 5 की गाइडलाइन्स : 15 अक्टूबर से सिनेमा हाल, स्विमिंग पूल और मनोरंजन पार्क खोलने की अनुमति ◾बाबरी विध्वंस मामला : सीबीआई कानूनी विभाग से विमर्श के बाद करेगी फैसले को चुनौती देने का निर्णय ◾मथुरा के श्रीकृष्ण जन्मस्थान परिसर से नहीं हटेगी शाही ईदगाह, अदालत में खारिज हुई याचिका◾हाथरस बलात्कार कांड: CM योगी ने युवती के पिता से की बात , 25 लाख रुपए, घर और नौकरी का भी ऐलान◾आईपीएल-13 RR vs KKR : राजस्थान ने टॉस जीतकर गेंदबाजी का किया फैसला ◾हाथरस घटना : सीएम योगी पर बरसी प्रियंका गांधी, पूछा - कैसे मुख्यमंत्री हैं आप, इतनी अमानवीयता◾दिल्लीवासियों के लिए राहत : कोरोना के मद्देनजर पानी के बिल पर 25 से लेकर 100 फीसदी तक की छूट ◾हाथरस घटना को लेकर संजय राउत ने दागा सवाल - क्या न्याय सिर्फ अभिनेत्री के लिए मांगा जाता है ?◾भारत और चीन के बीच पूर्वी लद्दाख में सीमा गतिरोध पर एक और दौर की वार्ता हुई ◾जेपी नड्डा ने बिहार विधानसभा चुनाव के लिए फडणवीस को किया चुनाव प्रभारी नियुक्त ◾बाबरी विध्वंस पर अदालत के फैसले को उच्च न्यायालय में चुनौती देगा मुस्लिम पक्ष : जफरयाब जिलानी ◾बाबरी विध्वंस पर विशेष अदालत का फैसला 'तर्कविहीन निर्णय', उच्च अदालत में अपील दायर होनी चाहिए : कांग्रेस ◾बाबरी मस्जिद फैसले पर 'जय श्री राम' के नारे के साथ आडवाणी बोले - आज हम सबके लिए है ख़ुशी का दिन◾बाबरी विध्वंस मामले में सीबीआई कोर्ट ने सभी 32 आरोपियों को किया बरी, नियोजित नहीं थी योजना ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

आंध्र प्रदेश : मतदान के दौरान TDP-YSR कार्यकर्ताओं के बीच झड़प

आंध्र प्रदेश में गुरुवार को कई जगह मतदान शुरू होने के बाद तेलुगू देशम पार्टी और वाईएसआर कांग्रेस के कार्यकर्ताओं के बीच झड़प हो गई। वहीं कई जगह ईवीएम में तकनीकी खराबी के कारण मतदान प्रक्रिया में देरी भी हुई। लोकसभा की 25 एवं विधानसभा की 175 सीटों पर चुनाव सुबह सात बजे शुरू हुआ था। गुंतकल से पूर्व विधायक और जन सेना पार्टी के उम्मीदवार मधुसूदन गुप्ता ने मतपत्र इकाई पर पार्टी चिन्ह के सही से छपे ना होने का आरोप लगाते हुए गुस्से में ईवीएम तोड़ दिया। वह ड्यूटी पर तैनात चुनाव कर्मियों पर भी चिल्लाए।

गुप्ता को तत्काल हिरासत में ले लिया गया। दूसरी ओर, एलुरु में मतदान केन्द्र पर तेदेपा कार्यकर्ताओं के कथित हमले में वाईएसआरसी के मंडल परिषद का एक सदस्य गंभीर रूप से घायल हो गया। कडप्पा जिले के जम्मलमडुगु में वाईएसआरसी और तेदेपा कार्यकर्ताओं के पथराव करने से पोन्नतोट गांव में स्थिति तनावपूर्ण हो गई है। गुंतूर जिले की नरसराओपेट निर्वाचन क्षेत्र में वाईएसआरसी नेता ने आरोप लगाया कि तेदेपा के लोगों ने याल्लामंदा गांव में मतदान केन्द्र पर तोड़फोड़ कर फर्नीचर को नुकसान पहुंचाया।

\"Andhra

उन्होंने पुलिस कर्मी के वाईएसआरसी समर्थकों को मतदान केन्द्र में ना जाने देने का भी आरोप लगाया। गुंटूर, प्रकाशम और अनूपपुर जिला स्थित अन्य निर्वाचन क्षेत्रों में भी छोटी-मोटी शिकायतें दर्ज की गई। चुनाव अधिकारियों या पुलिस ने इसकी पुष्टि नहीं की है। राज्य के मुख्य चुनाव अधिकारी गोपाल कृष्ण द्विवेदी ने हालांकि कहा कि राज्य में मतदान शांतिपूर्ण तरीके से जारी है।

सीईओ ने एक बयान में लोगों से अफवाहों पर विश्वास ना करने की अपील की क्योंकि मतदान प्रक्रिया शांतिपूर्ण तरीके से जारी है। उन्होंने बताया कि कई स्थानों पर ईवीएम में तकनीकी खराबी पाई गई लेकिन उसे ठीक कर लिया गया। मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू और उनका परिवार राज्य की राजधानी अमरावती के उडावल्ली गांव स्थित मतदान केन्द्र में वोट डालने पहुंचा।

उनके बेटे नारा लोकेश मंगलगिरि विधानसभा क्षेत्र से तेदेपा के उम्मीदवार हैं जो उडावल्ली के अंतर्गत आता है। पत्रकारों से बात करते हुए मुख्यमंत्री ने ईवीएम में तकनीकी खराबी का जिक्र करते हुए कहा कि वह तो मतपत्र वापस लाए जाने की मांग कर रहे थे। नायडू ने कहा, ‘‘कोई विकासशील देश ईवीएम को इस्तेमाल नहीं कर रहा है क्योंकि इसमें हेरफेर की गुंजाइश रहती है। इसलिए हम मतपत्र प्रणाली वापस लाने की मांग कर रहे थे।’’

वाईएसआर कांग्रेस अध्यक्ष वाई एस जगमोहन रेड्डी ने भी कड्प्पा जिले के अपने पैतृक गांव पुलिवेन्दुला में वोट डाला, जहां से वह दोबारा मैदान में हैं। मुख्यमंत्री पद की आशा रखने वाले जगन ने कहा, ‘‘ मुझे पूरा विश्वास है कि लोग बदलाव चाहते हैं।’’ जन सेना के अध्यक्ष पवन कल्याण और राज्य मुख्य सचिव एल वी सुब्रह्मण्यम ने विजयवाड़ा में वोट डाला।

राज्य के मुख्य चुनाव अधिकारी गोपाल कृष्ण द्विवेदी ने तदेपल्ली में अपना वोट डाला। हैरत की बात यह है कि द्विवेदी जब वोट डालने पहुंचे तब वीवीपीएटी मशीन काम नहीं कर रही थी। आंध्र प्रदेश के बंटवारे के बाद राज्य में यह पहला चुनाव है। राज्य में कुल 3,93,45,717 मतदाता हैं, जिनमें 1,94,62,339 पुरुष, 1,98,79,421 महिलाएं और 3,957 ट्रांसजेंडर शामिल हैं। इनमें से 18-19 वायु वर्ग के 10.5 लाख मतदाता पहली बार मतदान करेंगे।

राज्य में लोकसभा की 25 सीटों के लिए 319 उम्मीदवार और विधानसभा की 175 सीटों के लिए 2,118 उम्मीदवार मैदान में हैं। राज्य में कुल 46,120 मतदान केंद्र बनाए गए हैं जिनमें 8,514 की पहचान संवेदनशील और 520 की वाम चरमपंथ प्रभावित इलाके के तौर पर की गई है। वामपंथी चरमपंथी इलाकों में मतदान शाम पांच बजे तक ही चलेगा। ये इलाके अधिकतर ओडिशा और छत्तीसगढ़ की सीमा से लगे हैं।