BREAKING NEWS

सावधान ! चीनी मांझे का खतरा बरकरार, कुछ लोगों की जा चुकी है जान, कई लोग घायल◾उद्धव ने CM शिंदे पर साधा निशाना , कहा - शिवसेना कोई खुले में रखी चीज नहीं कि कोई उसे उठा ले जाए◾Independence Day : देशभक्ति के जोश में डूबी दिल्ली, तिरंगे से जगमगाती दिखी प्रतिष्ठित इमारतें◾दिल्ली में शनिवार को सामने आए कोरोना वायरस संक्रमण के 2,031 नए मामले, साथ ही दर्ज हुई नौ और मरीजों की मौत ◾स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर राष्ट्र को संबोधित करेंगी राष्ट्रपति मुर्मू◾आज का राशिफल (14 अगस्त 2022)◾‘हर घर तिरंगा’ मुहिम को मिली प्रतिक्रिया से बहुत खुश एवं गौरवान्वित हूं : PM मोदी◾हर घर तिरंगा अभियान : मोहन भागवत ने RSS मुख्यालय पर फहराया तिरंगा ◾CM योगी ने वीर जवानों की सराहना की , कहा - देश के लिए बलिदान देने की जरूरत पड़ी, तो जवानों ने कभी संकोच नहीं किया◾NGT चीफ और जयराम रमेश ने उपराष्ट्रपति धनखड़ से की मुलाकात ◾विपक्ष के 11 दलों ने ईवीएम, धनबल और मीडिया के ‘दुरुपयोग’ के खिलाफ लड़ने का किया संकल्प◾ पाक : बारूदी सुरंग हमले में एक जवान की मौत, दो घायल◾ केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी बोलीं- लोगों से अपने घरों पर तिरंगा फहराने का आग्रह करने वाले पहले प्रधानमंत्री हैं मोदी ◾J-K News: जम्मू कश्मीर में आतंकियों का कहर! श्रीनगर में ग्रेनेड हमले में CRPF का एक जवान घायल◾जयराम ठाकुर ने कहा- पुरानी पेंशन योजना बहाल करने की मांग से केंद्र को अवगत कराऊंगा◾ उपराज्यपाल सिन्हा का दावा - आतंकवाद के ताबूत में आखिरी कील ठोकेगी सरकार◾Delhi: सिसोदिया ने कहा- स्कूलों के छात्र उद्यमिता......... कम उम्र में स्टार्ट-अप स्थापित कर रहे◾16 को होगा महागठबंधन सरकार का शपथ ग्रहण समारोह, कांग्रेस की भागीदारी तय ◾तिरंगा अभियान पर मोदी की मां ने बढ़ चढ़कर लिया भाग, पीएम की मां ने बाटे तिरंगे◾आत्मनिर्भर चाय वाली मोना पटेल की चर्चा देश में होगी और वह ब्रांड बनेगी:चिराग पासवान◾

Maharashtra News: मोदी और शाह अपनी दया दृष्टि महाराष्ट्र पर बनाए रखेंगे......., बोले मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे

 महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने उन्हें राज्य के विकास के लिए पूर्ण समर्थन देने का आश्वासन दिया है।

मोदी करेंगे हमारा समर्थन- एकनाथ शिंदे

मुख्यमंत्री पद का कार्यभार संभालने के बाद पहली बार गृहनगर ठाणे पहुंचे शिंदे ने सोमवार रात सैकड़ों शिवसैनिकों को संबोधित करते हुए कहा कि एक तबकों की आलोचना के बावजूद, उन्होंने जो जोखिम उठाया (हालिया राजनीतिक घटनाक्रम के संदर्भ में) उसकी लोगों ने सराहना की है। उन्होंने कहा, ‘‘ मैं पूरे राज्य का दौरा करने जा रहा हूं और हर निर्वाचन क्षेत्र में परियोजनाओं का आवंटन करूंगा। राज्य का पूरी तरह से कायापलट किया जाएगा। मैं बढ़ा-चढ़ाकर बात नहीं करना चाहता, मैं काम करता हूं और फिर बोलता हूं।’’उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने उन्हें राज्य के विकास के लिए काम करने को कहा है। शिंदे ने कहा, ‘‘ उन्होंने (प्रधानमंत्री ने) मुझसे कहा कि वह और केंद्र सरकार मेरा समर्थन करेंगे। यहां तक कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने भी अपना पूरा समर्थन दिया है। उन्होंने कहा कि मैं हिंदुत्व के लिए अच्छा काम कर रहा हूं।’’

हम अन्याय के खिलाफ खड़े हुए- मुख्यमंत्री

शिंदे ने पिछले एक पखवाड़े के राजनीतिक घटनाक्रम का जिक्र करते हुए कहा कि 50 विधायकों को उन पर विश्वास और भरोसा था। महाराष्ट्र में शिवसेना से बगावत करने के बाद बागी विधायकों के साथ वह पहले सूरत, फिर गुवाहाटी और आखिर में गोवा पहुंचे थे। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘ हम अन्याय के खिलाफ खड़े हुए थे, विद्रोह नहीं किया। (शिवसेना के संस्थापक) बालासाहेब ठाकरे ने हमें अन्याय के खिलाफ आवाज उठाने को कहा था, यह उनकी और आनंद दिघे (शिंदे के गुरु) की दी शिक्षा ही है।’’ उन्होंने कहा कि यह दोनों नेताओं के आशीर्वाद और नागरिकों की शुभकामनाओं के कारण ही संभव हो पाया है।

50 विधायकों ने किया था शिंदे से वादा

शिंदे ने कहा,‘‘ हम 15 दिनों के लिए बाहर थे और जितना आप मुझसे मिलना चाहते थे, उतना ही मैं भी अपने शिवसैनिकों तथा कार्यकर्ताओं से मिलने के लिए उत्सुक था। अब मुझे ऐसा महसूस नहीं हो रहा कि मैं मुख्यमंत्री हूं। मैं आप लोगों में से ही एक हूं। इसलिए मैं आप सभी के बीच एक कार्यकर्ता की तरह ही रहूंगा।’’ शिंदे ने कहा कि उनका कद कितना भी बड़ा हो जाए, उनमें एक शिवसैनिक हमेशा जिंदा रहेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने उनका साथ देने वाले 50 विधायकों से वादा किया है कि उनमें से किसी को भी अगले चुनाव में हार का सामना नहीं करना पड़ेगा। मुख्यमंत्री ने यहां भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के कार्यालय का भी दौरा किया। भाजपा के नगर अध्यक्ष एवं विधान पार्षद निरंजन दावखरे ने वहां उनका स्वागत किया।