BREAKING NEWS

यूपी की राह पर शिवराज सरकार - ‘लव जिहाद’ के दोषी को होगी 10 साल की सजा, लाएंगे विधेयक◾यूपी में योगी सरकार ने एस्मा लागू किया, अगले 6 माह तक नहीं होगी हड़ताल ◾लखनऊ विश्वविद्यालय : सामर्थ्य के इस्तेमाल का बेहतर उदाहरण है रायबरेली का रेल कोच फैक्ट्री- PM मोदी◾असंतुष्ट नेताओं से ममता बनर्जी की अपील : पार्टी को गलत मत समझिए, हम गलतियों को सुधारेंगे◾कोरोना के खिलाफ केंद्र ने कसी कमर, 31 दिसंबर तक के लिए जारी की नई गाइडलाइंस, जानें क्या हैं नियम◾लक्ष्मी विलास बैंक के DBS बैंक में विलय को मिली मंजूरी , सरकार ने निकासी की सीमा भी हटाई ◾ललन पासवान बोले-मुझे लगा लालू जी ने बधाई देने के लिए फोन किया, लेकिन वे सरकार गिराने की बात करने लगे◾पंजाब में एक दिसंबर से नाइट कर्फ्यू, कोरोना प्रोटोकॉल का पालन नहीं करने पर 1000 का जुर्माना◾'अश्विनी मिन्ना' मेमोरियल अवार्ड में आवेदन करने के लिए क्लिक करें ◾निर्वाचित प्रतिनिधियों की अनुशासनहीनता से उन्हें चुनने वाले लोगों की भावनाएं आहत होती हैं : कोविंद◾भारत में बैन हुए 43 मोबाइल ऐप पर ड्रैगन को लगी मिर्ची, व्यापार संबंधों की दी दुहाई ◾भाजपा MP के विवादित बोल - रोहिंग्याओं, पाकिस्तानियों को भगाने के लिए भाजपा करेगी 'सर्जिकल स्ट्राइक'◾विपक्ष के जबरदस्त हंगामे के बीच NDA के विजय सिन्हा बने बिहार विधानसभा के स्पीकर◾सुशील मोदी का दावा-लालू ने BJP MLA को दिया मंत्री पद का लालच, ट्विटर पर जारी किया ऑडियो◾UN में 'झूठ का डोजियर' पेश करने के लिए भारत ने पाक को लगाई फटकार, कहा- यह उसकी पुरानी आदत ◾लव जिहाद के खिलाफ UP सरकार के फैसले का अनिल विज ने किया स्वागत, बोले-योगी जिंदाबाद◾विश्व के 191 देशों में कोरोना का कहर तेज, अब तक 14 लाख से अधिक लोगों ने गंवाई जान ◾सोनिया और राजीव के विश्वासपात्र रहे अहमद पटेल थे कांग्रेस के असली संकटमोचक◾Weather update : जम्मू-कश्मीर और हिमाचल प्रदेश में बर्फबारी से उत्तर भारत में बढ़ी ठंड ◾देश में कोरोना एक्टिव केस में बढ़ोतरी, संक्रमितों का आंकड़ा 92 लाख के पार ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

असम से बाहर जाने वाले यात्रियों के लिए कोई क्वारंटाइन नहीं, अगर 96 घंटे के भीतर हुई वापसी

असम स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी किये गए आदेश में सरकार ने राज्य से बाहर आने-जाने वाले यात्रियों के लिए क्वारंटाइन के नियमों में कुछ फेरबदल किए है। नए नियमों के अनुसार अगर कोई यात्री 96 घंटे के भीतर राज्य में वापस लौट आता है तो उसे  क्वारंटाइन में जाने कि कोई आवश्यकता नहीं होगी।   

असम स्वास्थ्य विभाग द्वारा 10 सितंबर को जारी एक आदेश में कहा गया है कि असम सरकार द्वारा चरणबद्ध रूप से लॉकडाउन  खोलने (अनलॉक 4) के लिए दिशानिर्देश जारी करने के मद्देनजर। यह फैसला लिया गया है कि एक व्यक्ति, जो असम के बाहर किसी भी स्थान पर जाता है और प्रस्थान के 96 घंटे के भीतर वापस राज्य लौटता है तो उस व्यक्ति को 10 दिनों के क्वारंटाइन से गुजरने की आवश्यकता नहीं होगी।

क्या है आर्डर में दिए गए निर्देश ? 

  •  व्यक्ति को वापसी पर रैपिड एंटीजन टेस्ट से गुजरना होगा।
  •  यदि रैपिड एंटीजन टेस्ट का परिणाम सकारात्मक है, तो वह प्रोटोकॉल के अनुसार COVID अस्पताल में या फिर घर में ही क्वारंटाइन में रहेगा।
  •  यदि रैपिड एंटीजन टेस्ट परिणाम नकारात्मक है, तो उसस्के टेस्ट को आरटी-पीसीआर परीक्षण के लिए लिया जाएगा और आरटी पीसीआर परीक्षा परिणाम घोषित होने तक व्यक्ति को क्वारंटाइन में रहना होगा। यदि RT-PCR परीक्षा परिणाम सकारात्मक है, तो वह प्रोटोकॉल के अनुसार COVID अस्पताल में या घर में ही क्वारंटाइन में रहेगा और उपचार से गुजरना होगा। यदि आरटी-पीसीआर टेस्ट का परिणाम नकारात्मक आया तो व्यक्ति को आगे किसी संगरोध से गुजरने की आवश्यकता नहीं है।
  •  असम से बाहर रहने के दौरान व्यक्ति को स्वच्छता और सामाजिक दूरियों के मानदंडों का कड़ाई से पालन करना होगा।
कोरोना वायरस से असं राज्य अछूता नहीं है। राज्य में भी चूर्ण के मामले बढ़ते जा रहे हैं। एक दिन में 2,739 मामले दर्ज किए हैं। इसके बाद राज्य में कुल संक्रमितों का आंकड़ा 1 लाख 35 हजार 805 तक पहुंच गया है।