BREAKING NEWS

अयोध्या के विवादित ढांचा को ढहाए जाने के मामले में कल्याण सिह को समन जारी◾‘Howdy Modi’ के लिए ह्यूस्टन तैयार, 50 हजार टिकट बिके ◾‘Howdy Modi’ कार्यक्रम के लिए PM मोदी पहुंचे ह्यूस्टन◾प्रधानमंत्री का ह्यूस्टन दौरा : भारत, अमेरिका ऊर्जा सहयोग बढ़ाएंगे ◾क्या किसी प्रधानमंत्री को ऐसे बोलना चाहिए : पाक को लेकर मोदी के बयान पर पवार ने पूछा◾कश्मीर पर भारत की निंदा करने के लिये पाकिस्तान सबसे ‘अयोग्य’ : थरूर◾राजीव कुमार की अग्रिम जमानत अर्जी खारिज ◾AAP ने अनधिकृत कॉलोनियों को नियमित करने में देरी पर ‘धोखा दिवस’ मनाया ◾ शिवसेना, भाजपा को महाराष्ट्र चुनावों में 220 से ज्यादा सीटें जीतने का भरोसा◾आधारहीन है रिहाई के लिए मीरवाइज द्वारा बॉन्ड पर दस्तखत करने की रिपोर्ट : हुर्रियत ◾TOP 20 NEWS 21 September : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾रामदास अठावले ने किया दावा - गठबंधन महाराष्ट्र में 240-250 सीटें जीतेगा ◾कृषि मंत्रालय से मिले आश्वासन के बाद किसानों ने खत्म किया आंदोलन ◾फडणवीस बोले- भाजपा और शिवसेना साथ मिलकर लड़ेंगे चुनाव, मैं दोबारा मुख्यमंत्री बनूंगा◾चुनावों में जनता के मुद्दे उठाएंगे, लोग भाजपा को सत्ता से बाहर करने को तैयार : कांग्रेस◾चुनाव आयोग का ऐलान, महाराष्ट्र-हरियाणा के साथ इन राज्यों की 64 सीटों पर भी होंगे उपचुनाव◾महाराष्ट्र और हरियाणा में 21 अक्टूबर को होगी वोटिंग, 24 को आएंगे नतीजे◾ISRO प्रमुख सिवन ने कहा - चंद्रयान-2 का ऑर्बिटर अच्छे से कर रहा है काम◾विमान में तकनीकी खामी के चलते जर्मनी के फ्रैंकफर्ट में रुके PM मोदी, राजदूत मुक्ता तोमर ने की अगवानी◾जम्मू-कश्मीर के पुंछ और राजौरी जिलों में पाकिस्तान ने फिर किया संघर्ष विराम का उल्लंघन◾

अन्य राज्य

रेप प्रकरण में एसएसपी पौड़ी से जवाब तलब

कोटद्वार : लिंग परिवर्तन कर महिला बनी याची के साथ दुष्कर्म करने के आरोपी द्वारा फोन पर उसे धमकाने के मामले में हाईकोर्ट ने संज्ञान लेते हुए एसएसपी पौड़ी को 1 सप्ताह के भीतर जवाब दाखिल करने को निर्देश दिए हैं। मामले की अगली सुनवाई 23 अगस्त होगी। न्यायमूर्ति आलोक कुमार वर्मा की एकल पीठ के समक्ष मामले की सुनवाई हुई। लिंग परिवर्तन कर महिला दुष्कर्म पीड़ित याची ने कोर्ट को बताया कि कोटद्वार के तेलीपाड़ा निवासी परीक्षित जोशी नामक व्यक्ति उसे फोन पर धमका रहा है। 

उस ने कोर्ट को बताया कि उसने 17 जुलाई को कोटद्वार कोतवाली में शिकायत की थी, लेकिन पुलिस ने इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं की। उसने कहा कि मामले की शिकायत मुख्यमंत्री शिकायत पोर्टल में की। जिसके जवाब में जांच अधिकारी एसआई अरविंद पंवार ने जांच अपेक्षित नहीं लिखकर मुख्यमंत्री पोर्टल में भेज दिया। आरटीआई के तहत सूचना मांगने के बाद 10 अगस्त को पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया, लेकिन जांच पुन: एसआई अरविंद पवार को दे दी गई जबकि वह पहले ही मुख्यमंत्री पोर्टल में जांच अपेक्षित नहीं है लिख चुके हैं। ऐसे में उनसे निशुल्क जांच की उपेक्षा नहीं की जा सकती। 

याची ने जांच अधिकारी को बदलने, मामले की जांच सीबीसीआईडी या राजपत्रित अधिकारी से कराने की मांग की है। पक्षों की सुनवाई के बाद कोर्ट की एकल पीठ ने एसएसपी पौड़ी को एक सप्ताह के भीतर जबाव दाखिल करने के निर्देश दिए हैं। याची के वकी अधिवक्ता ने बताया कि मामले की अगली सुनवाई के लिए 23 अगस्त की तिथि नियत की गई है। हाई कोर्ट ने पूर्व में अपने एक आदेश में याचिकाकर्ता को सुप्रीम कोर्ट के एक आदेश के मुताबिक महिला मानने को कहा था।