BREAKING NEWS

गणतंत्र दिवस : सरकार ने पद्म पुरस्कारों का किया ऐलान, CDS रावत समेत अन्य हस्तियों को दिया जाएगा सम्मान ◾गणतंत्र दिवस : सरकार ने पद्म पुरस्कारों का किया ऐलान, CDS रावत समेत अन्य हस्तियों को दिया जाएगा सम्मान ◾गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का संबोधन- अधिकार और कर्तव्य एक सिक्के के दो पहलू◾दिल्ली कोरोना : बीते 24 घंटों में आए 6,028 मामले, 31 लोगों की हुई मौत ◾RRB-NTPC रिजल्ट को लेकर बिहार में रेलवे ट्रैक पर उतरे छात्र, कई ट्रेनों के मार्ग में बदलाव ◾BJP के बागी नेता मौर्य की बेटी संघमित्रा का बयान, पिताजी की बात PM मोदी तक पहुंची, वह शीघ्र करेंगे समाधान ◾UP चुनाव में अब नहीं है धर्म का फंदा, बाबरी मस्जिद नहीं मुसलमानों के लिए राज्य का विकास अहम मुद्दा ◾Delhi NCR में सीजन का सबसे ठंडा दिन दर्ज किया गया, सामान्य से 4.5 डिग्री कम रहा तापमान◾उत्तराखंड: सतपाल महाराज की बढ़ सकती हैं मुश्किलें, कांग्रेस हरक सिंह रावत पर दांव खेलने का कर रही विचार ◾धर्म या जिन्ना पर नहीं विकास पर हो बात, प्रियंका बोलीं- BJP नहीं जानती शासन, ध्रुवीकरण की कर रहे राजनीति ◾ नीरज चोपड़ा को पर‍म विशिष्‍ट सेवा मेडल से सम्‍मानित किया जाएगा, जानिए और किन लोगों को मिलेगा पुरस्कार◾देर आया दुरुस्त आया! RPN बोले- कांग्रेस में नहीं रही 32 साल पहले वाली बात, BJP की नीतियों से हूं प्रभावित ◾यूपी : JDU ने जारी की 20 उम्मीदवारों की सूची, BJP से गठबंधन का जवाब न आने पर अकेले लड़ रही चुनाव ◾CM केजरीवाल का एलान- कार्यालय में अंबेडकर और भगत सिंह की लगेंगी तस्वीरें, जानें इसके पीछे के सभी समीकरण◾राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर उप राष्ट्रपति ने दिया बयान, अगले लोकसभा चुनाव में कम से कम 75 % होना चाहिए मतदान ◾राहुल का हाथ छोड़ अब BJP का कमल खिलाएंगे RPN, कांग्रेस बोली- 'कायर' नहीं लड़ सकते हमारी लड़ाई... ◾अपना दल ने पहले और दूसरे चरण के लिए स्टार प्रचारकों की लिस्ट जारी की, जानें- किन किन नेताओं का है नाम?◾नमो ऐप के जरिए बोले पीएम मोदी- पहले देश, फिर दल, यह हमेशा हमारे कार्यकर्ताओं के लिए भाजपा का मंत्र रहा है◾Himachal: शादी में बर्फबारी बनी रोड़ा, तो शादी करने JCB लेकर पहुंचा दूल्हा◾RPN ने चुनावी मजधार में छोड़ा कांग्रेस का साथ, सोनिया को भेजा इस्तीफा, बोले- नए अध्याय की शुरुआत ◾

शिवसेना का NCB पर हमला, कहा- युवाओं से वसूली करने वाले अधिकारियों को गिरफ्तार किया जाना चाहिए

महाराष्ट्र की राजनीति में इस वक्त राज्य सरकार और स्वापक नियंत्रण ब्यूरो (एनसीबी) के बीच ठनी का माहौल बना हुआ है। तो उधर, शिवसेना ने सोमवार को एनसीबी पर निशाना साधते हुए कहा कि युवाओं को फंसा कर पैसों की उगाही करने की कोशिश करने वाले हर अधिकारी को गिरफ्तार किया जाना चाहिए। आर्यन खान और दो अन्य को क्रूज जहाज मादक पदार्थ बरामदगी मामले में जमानत देने से संबंधी बंबई उच्च न्यायालय का विस्तृत आदेश आने के कुछ दिनों बाद शिवसेना का यह बयान आया है। 

उनकी कार्रवाई से किसी तरह की साजिश की बू आती है  

शिवसेना ने पार्टी के मुखपत्र ‘सामना’ में केंद्रीय एजेंसियों की आलोचना करते हुए कहा कि महाराष्ट्र में उनकी कार्रवाई से किसी तरह की साजिश की बू आती है और अभिनेता शाहरूख खान के बेटे आर्यन खान तथा राज्य के पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख का जिक्र किया। 

देशमुख, प्रवर्तन निदेशालय द्वारा दर्ज धनशोधन के एक मामले में अभी न्यायिक हिरासत में हैं। शिवसेना ने आर्यन खान के मामले का जिक्र करते हुए कहा कि उच्च न्यायालय ने अपने आदेश में कहा था कि स्वापक नियंत्रण ब्यूरो (एनसीबी) द्वारा लगाये गये आरोपों में कोई सच्चाई नहीं है। आर्यन को एनसीबी ने मुंबई में पिछले महीने की शुरूआत में एक क्रूज जहाज पर मारे गये छापे के दौरान गिरफ्तार किया था। उच्च न्यायालय से जमानत मिलने से पहले वह करीब एक महीने जेल में था। 

उच्च न्यायालय ने अपने विस्तृत आदेश में कहा था कि प्रथमदृष्टया ऐसा कोई साक्ष्य आरोपियों के खिलाफ नहीं पाया गया है जो यह प्रदर्शित करता हो कि उन्होंने अपराध की साजिश रची थी। 

मलिक ने छापेमारी को फर्जी बताया था  

शिवसेना ने कहा, ‘‘यदि यह (बंबई उच्च न्यायालय की बात) सही है तो हर अधिकारी, जो युवाओं को फंसा कर उगाही कर रहा है, उसे गिरफ्तार किया जाना चाहिए। ’’ दिल्ली एनसीबी की टीम मुंबई के अपने क्षेत्रीय निदेशक समीर वानखेड़े को रकम अदायगी के आरोपों की जांच कर रही है। 

पश्चिम बंगाल में लोकतंत्र की हत्या करने वाली TMC त्रिपुरा में अशांति फैलाना चाहती है: लॉकेट चटर्जी

महाराष्ट्र में महाविकास आघाडी सरकार का नेतृत्व कर रही शिवसेना ने आर्यन खान मामले में नये तथ्य सामने लाने को लेकर राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के नेता व राज्य मंत्री नवाब मलिक की भी सराहना की। मलिक ने छापेमारी को फर्जी बताया था और वानखेड़े पर आर्यन का इस्तेमाल कर धन की उगाही करने की कोशिश करने का आरोप लगाया था। 

जिस तरह से एजेंसियों ने महाराष्ट्र में अपना डेरा डाल रखा है  

धनशोधन के एक मामले में देशमुख को गिरफ्तार करने वाले ईडी पर निशाना साधते हुए मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे नीत पार्टी ने कहा कि एजेंसी के कार्य एनसीबी की तरह है। शिवसेना ने कहा, ‘‘जिस तरह से एजेंसियों ने महाराष्ट्र में अपना डेरा डाल रखा है और जिस तरीके से वे काम कर रही हैं, उसमें किसी प्रकार की साजिश प्रतीत होती है।’’ 

‘सामना’ ने राकांपा प्रमुख शरद पवार को भी उद्धृत किया, जिन्होंने पिछले हफ्ते कहा था कि देशमुख की गिरफ्तारी में शामिल लोगों को इसकी कीमत चुकानी होगी और जोर देते हुए कहा था कि पूर्व गृह मंत्री बेकसूर हैं। शिवसेना ने कहा, ‘‘एक मामले में (आर्यन खान मामले में) एजेंसी के मुंह पर तमाचा लगा है। अन्यों का भी जल्द ही यही हश्र होगा।’’