BREAKING NEWS

नेताओं की ‘बेवकूफी’ एक्सेलरेटर पर और पार्टी का वजूद वेंटिलेटर पर.. नकवी ने साधा कांग्रेस पर निशाना! ◾वाराणसी : गंगा में डूबी नाव, 2 शव बरामद, 2 की तलाश जारी, कुल 6 लोग थे सवार◾ BJP मुस्लिमों को रिएक्ट करने पर कर रही है मजबूर ताकि गुजरात जैसी घटना दोहरा सके: महबूबा मुफ्ती◾ज्ञानवापी मामले में अगली सुनवाई को लेकर कल आएगा वाराणसी कोर्ट का फैसला◾ पटरियों के सहारे पंजाब को निशाना बना रहा ISI ! इंटेलिजेंस एजेंसियों ने किया PAK का पर्दाफाश◾जापानी कंपनियों के टॉप 4 बिजनेस लीडर्स से PM मोदी ने की मुलाकात, भारत में बिजनेस और इन्वेस्टमेंट की दी जानकारी ◾टिकैत ब्रदर्स पर टुटा मुश्किलों का पहाड़, BKU में बगावत के बाद लगा यह आरोप... ◾बाइडन चीन पर भड़के, कहा- ड्रैगन ने ताइवन पर हमला किया तो उसे बख्शा नहीं जाएगा, जानें पूरा मामला◾मानहानि मामले में किरीट सोमैया की पत्नी ने संजय राउत को भेजा 100 करोड़ का नोटिस◾बिहार की सियासत में बहुत नाजुक हैं अगले 72 घंटे, CM नीतीश ने जारी किया यह फरमान, जानें पूरा मामला ◾UP विधानसभा : बजट सत्र के पहले दिन SP का जोरदार हंगामा, CM योगी बोले-हर विषय पर चर्चा के लिए तैयार◾बिहार के पूर्णिया में बड़ा सड़क हादसा, ट्रक पलटने से 8 मजदूरों की मौत, आठ घायल◾संभाजी राजे को राज्यसभा का टिकट देगी शिवसेना? संजय राउत ने दिया ये जवाब◾जेल की रोटी खाने से नवजोत सिंह सिद्धू ने किया इंकार... अब पहुंचे अस्पताल, जानें क्या है पूरा मामला ◾ज्ञानवापी को लेकर SC में एक और याचिका, वाराणसी कोर्ट में भी आज होगी सुनवाई ◾SP की बैठक से नदारद आजम.. लखनऊ में ली MLA पद की शपथ, अखिलेश के लिए कोई बड़ा संदेश? ◾Share Market : तेजी के साथ हुआ शेयर मार्किट चंद मिनटों में हुआ डाउन, रेड जोन में गए Nifty-Sensex◾देश में एक बार फिर Down हुआ कोरोना का ग्राफ, पिछले 24 घंटे में 2 हजार नए केस ◾दिल्ली-NCR में आंधी-तूफान से टूटे कई पेड़, जाम हुई सड़कें, गुरुग्राम में ट्रैफिक अलर्ट ◾जापान पहुंचे PM मोदी, आज शाम 4 बजे भारतीय समुदाय को करेंगे संबोधित◾

असम और मिजोरम के बीच शांति बनाए रखने के लिए विवादित सीमा पर तटस्थ बल की होगी तैनात

असम और मिजोरम के बीच सीमा संघर्ष को हल करने के लिए केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा बुधवार को बैठक बुलाई गई।  इस बैठक में दोनों राज्यों के मुख्य सचिवों और पुलिस प्रमुखों शामिल हुए।  इस दौरान सीमा पर शांति बनाए रखने के लिए राष्ट्रीय राजमार्ग 306 के पास तटस्थ केंद्रीय बलों की तैनाती पर सहमति व्यक्त की। सीमा पर संघर्ष में पांच पुलिस कर्मियों और एक नागरिक की मौत के बाद दोनों राज्यों में यह सहमति बनी है।अधिकारियों ने बुधवार को बताया कि केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला की अध्यक्षता में दो घंटे तक चली बैठक में यह निर्णय लिया गया है जिसमें असम के मुख्य सचिव जिष्णु बरुआ और पुलिस महानिदेशक भास्कर ज्योति महंत तथा मिजोरम के उनके संबंधित समकक्षों लालनुनमाविया चुआंगो और एसबीके सिंह ने हिस्सा लिया। गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि दोनों राज्य सरकारों ने राष्ट्रीय राजमार्ग 306 पर अशांत अंतरराज्यीय सीमा पर तटस्थ केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल (सीएपीएफ) की तैनाती के लिए सहमति व्यक्त की है।

तटस्थ बल की कमान सीएपीएफ के एक वरिष्ठ अधिकारी के हाथ में होगी। इसके अलावा, बल के कामकाज को सुविधाजनक बनाने के लिए, दोनों राज्य सरकारें उचित समय सीमा में केंद्रीय गृह मंत्रालय के समन्वय से व्यवस्था करेंगी। अधिकारियों ने बताया कि गृह सचिव ने असम और मिजोरम के प्रतिनिधिमंडलों को यह भी बताया कि दोनों सरकारों को सीमा मुद्दे को सौहार्दपूर्ण तरीके से हल करने के लिए पारस्परिक रूप से चर्चा जारी रखनी चाहिए।

असम और मिजोरम के बीच चल रहे सीमा संघर्ष को सुलझाने के लिए केंद्रीय गृह मंत्रालय ने दोनों राज्यों के मुख्य सचिवों और पुलिस प्रमुखों को बुलाया था। बाद में, मिजोरम के मुख्य सचिव ने संवाददाताओं से बात करते हुए कहा कि अंतरराज्यीय सीमा पर स्थिति फिलहाल शांतिपूर्ण है और बैठक में इस बात पर सहमति बनी है कि हर कोई शांति बनाए रखने की कोशिश करेगा और हिंसा में शामिल होने का कोई मतलब नहीं है। उन्होंने कहा कि विवादित क्षेत्र से राज्य बलों को हटाया जा रहा है।

असम के मुख्य सचिव ने कहा कि सीएपीएफ अंतरराज्यीय सीमा की जिम्मेदारी संभालेगा। उन्होंने कहा कि पुलिस बलों की वापसी की प्रक्रिया पर काम किया जा रहा है। इससे पहले मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा, “केंद्र सरकार असम-मिजोरम सीमा विवाद से चिंतित है जिसके कारण हिंसा हुई और छह लोगों की मौत हो गई। बैठक का उद्देश्य तनाव कम करना, शांति स्थापित करना और संभावित समाधान खोजना है।”

अधिकारी ने बताया कि सीआरपीएफ के महानिदेशक भी बैठक में शामिल हुए क्योंकि अर्धसैनिक बल के जवानों को असम-मिजोरम के तनावग्रस्त सीमावर्ती क्षेत्रों में तैनात किया गया है।मिजोरम पुलिस ने असम के अधिकारियों की एक टीम पर सोमवार को गोलीबारी कर दी, जिसमें में असम पुलिस के पांच कर्मियों और एक नागरिक की मौत हो गई और एक पुलिस अधीक्षक सहित 50 से अधिक अन्य लोग जख्मी हो गए।

असम के बराक घाटी के जिले कछार, करीमगंज और हैलाकांडी की मिजोरम के तीन जिलों आइजोल, कोलासिब और मामित के साथ 164 किलोमीटर लंबी सीमा लगती है। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने आठ पूर्वोत्तर राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बातचीत की थी और सीमा विवादों को सुलझाने की जरूरत को रेखांकित किया था, जिसके दो दिन बाद यह घटना हुई थी।

जम्मू कश्मीर, हिमाचल और लद्दाख में बादल फटे, 17 लोगों की मौत