BREAKING NEWS

CM केजरीवाल का एलान- कार्यालय में अंबेडकर और भगत सिंह की लगेंगी तस्वीरें, जानें इसके पीछे के सभी समीकरण◾राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर उप राष्ट्रपति ने दिया बयान, अगले लोकसभा चुनाव में कम से कम 75 % होना चाहिए मतदान ◾राहुल का हाथ छोड़ अब BJP का कमल खिलाएंगे RPN, कांग्रेस बोली- 'कायर' नहीं लड़ सकते हमारी लड़ाई... ◾अपना दल ने पहले और दूसरे चरण के लिए स्टार प्रचारकों की लिस्ट जारी की, जानें- किन किन नेताओं का है नाम?◾नमो ऐप के जरिए बोले पीएम मोदी- पहले देश, फिर दल, यह हमेशा हमारे कार्यकर्ताओं के लिए भाजपा का मंत्र रहा है◾Himachal: शादी में बर्फबारी बनी रोड़ा, तो शादी करने JCB लेकर पहुंचा दूल्हा◾RPN ने चुनावी मजधार में छोड़ा कांग्रेस का साथ, सोनिया को भेजा इस्तीफा, बोले- नए अध्याय की शुरुआत ◾यूपी चुनाव : BSP प्रमुख फरवरी से करेंगी चुनाव प्रचार का आगाज, इस जिले में होगी पहली जनसभा ◾कर्नाटक: मंत्रिमंडल विस्तार पर मचा बवाल, BJP नेता अपना रहे बागी रुख, कांग्रेस में हो सकते हैं शामिल ◾यूपी: CM योगी ने अखिलेश पर किया जुबानी हमला, कहा- सपा के नेता समाजवादी नहीं बल्कि तमंचावादी हैं ◾दिल्ली: कोरोना के दैनिक मामलों में दर्ज हुई गिरावट, CM केजरीवाल बोले- जल्द मिलेगी प्रतिबंधों से राहत ◾दिल्ली में शराब प्रेमियों के लिए अच्छी खबर, सालभर में 21 की जगह अब सिर्फ 3 Dry Day◾यूपी: AIMIM ने उमैर मदनी को मैदान में उतारा, चुनावी घमासान में तेज हुई मुस्लिम वोटों के लिए खींचतान◾फिर आमने-सामने शिवसेना और BJP, राउत बोले-हिंदुत्व के मुद्दे पर सबसे पहले हमने लड़ा था चुनाव◾कांग्रेस को लगेगा बहुत बड़ा झटका! स्टार प्रचारक RPN हो सकते हैं BJP में शामिल, स्वामी मौर्य की बढ़ेंगी मुश्किलें ◾राष्ट्रपति और PM मोदी समेत इन नेताओं ने दी हिमाचल के स्थापना दिवस पर राज्यवासियों को बधाई◾BJP सांसद गौतम गंभीर हुए कोरोना पॉजिटिव, संपर्क में आए लोगों से की टेस्ट कराने की अपील ◾मायावती का विरोधियों पर निशाना, कहा- बसपा को छोड़ बाकी सभी सरकारों ने किया राजनीति का अपराधीकरण ◾महाराष्ट्र : पुल से गिरी कार, भीषण सड़क हादसे में BJP विधायक के बेटे समेत 7 छात्रों की मौत◾Corona Update : कोरोना केस में गिरावट, 2 लाख 55 हज़ार नए मामले, एक्टिव केस 22 लाख से ज्यादा◾

पश्चिम बंगाल : चुनाव के बाद रेप और हत्या से जुड़े मामलों की CBI करेगी जांच, HC ने दिए आदेश

पश्चिम बंगाल में चुनाव के बाद हुई हिंसा के दौरा हुई हत्या और बलात्कार के मामलों की सीबीआई जांच करेगी। कोलकाता हाई कोर्ट ने ममता सरकार को झटका देते हुए गुरुवार को ये फैसला किया। इसके साथ ही कोर्ट ने विशेष जांच दल (एसआईटी) का गठन किया है, जो अन्य अपराधों की जांच करेगा।

एसआईटी में पश्चिम बंगाल काडर के सीनियर अधिकारियों को भी शामिल किया जाएगा। केंद्रीय एजेंसी को छह सप्ताह के अंदर रिपोर्ट दाखिल करनी होगी। हाई कोर्ट ने बताया कि एसआईटी और सीबीआई की निगरानी भी कोर्ट करेगा। मामले की सुनवाई कर रहे मुख्य न्यायाधीश राजेश बिंदल ने कहा कि अलग-अलग फैसले हैं लेकिन सभी सहमत हैं। 

हाई कोर्ट के आदेश पर बीजेपी के महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि हम हाई कोर्ट के आदेश का स्वागत करते हैं। ममता बनर्जी सरकार निशाना साधते हुए उन्होंने कहा, 'पश्चिम बंगाल में चुनाव के बाद राज्य सरकार के संरक्षण में हिंसा हुई थी। उच्च न्यायालय के आदेश ने सरकार को एक्सपोज कर दिया है।'

बता दें कि कोर्ट के समक्ष कई जनहित याचिकाएं दायर की गई थीं, जिसमें आरोप लगाया गया था कि चुनाव के बाद की हिंसा में लोगों के साथ मारपीट की गई, उन्हें घर से भागने के लिए मजबूर किया गया और उनकी संपत्ति को नष्ट कर दिया गया और इन आरोपों की निष्पक्ष जांच की मांग की गई।