अगर आप कर रहे है विदेश घूमने का प्लान , तो यहाँ जाना न भूले


अगर आप विदेश घूमने का प्लान बना रहे है पर आपके पास बजट की समस्या है तो आपके लिए बहुत अच्छा मौका है। जी हाँ , हम बात कर रहे है नेपाल की ! बता दे कि नेपाल पर्यटन का अच्छा केंद्र है यहाँ विश्व की 10 सबसे ऊंचे पर्वतों में से 8 नेपाल में होने के कारण यह पर्वतारोहियों, रॉक पर्वतारोहियों तथा रोमांच की तलाश करने वाले लोगों के लिए नेपाल एक अच्छी जगह है नेपाल की हिंदू और बौद्ध विरासत तथा वहां का ठंडा मौसम भी उसका सशक्त अकर्षण हैं।

Source

आपको बता दे कि नेपाल जाने में बहुत ज्यादा खर्च भी नहीं आता है। प्राकृतिक सुंदरता से परिपूर्ण नेपाल में इसके साथ-साथ और भी कई पर्यटन स्थल हैं जहां आप अपना छुट्टियों का मजा ले सकते हैं।

Source

चांगुनारायण मंदिर
नेपाल में चांगुनारायण मंदिर स्थित यह सबसे प्राचीन मंदिर कहा जाता है । चांगुनारायण मंदिर का निर्माण चौथी शताब्दी में किया गया था बता दे कि 1702 ई. में इस मंदिर का दोबारा से निर्माण किया गया।

Source

चांगुनारायण मंदिर शिवपुरी पहाड़ियों पर स्थित है। वही इस मंदिर में आपको विष्णु भगवान के अलावा शेषनाग की प्रतिमा देखने को मिलती है।

Source

बुदानिकंथा
ये नेपाल के काठमांडू से 8 किलोमीटर दूर शिवपुरी पहाड़ी की तलहटी में स्थित है। यहां एक प्राकृतिक पानी के सोते के ऊपर 11 नागों की सर्पिलाकार कुंडली में भगवान विष्णु विराजमान हैं। एक किसान द्वारा काम करते समय यह मूर्ति प्राप्त हुई थी। उस समय गलती से इस मूर्ति के अंगूठे पर चोट लग जाने पर रक्त बहने लगा था।

Source

ऐसा कहा जाता है कि राज परिवार का कोई भी सदस्य इस मूर्ति के दर्शन कर लेगा तो उसकी मौत हो जाएगी। इस वजह से राज परिवार के लिए इस मूर्ति का एक छोटा रूप प्रार्थना के लिए बनाया गया है।

Source

लुंबिनी
लुम्बिनी हिमालय की गोद में बसे देश नेपाल के दक्षिण में स्थित है यह गौतम बुद्ध की जन्मस्थली लुंबिनी दुनिया भर के बौद्ध अनुयायियों का तीर्थस्थल है। भारत नेपाल सीमा पर स्थित लुम्बिनी बुद्ध की जन्मस्थली है। बुद्ध के जीवन से सम्बंधित, बोध गया, सारनाथ व कुशीनगर के अलावा, यह चौथा मुख्य स्थल है।

Source

सम्राट अशोक के स्मारक स्तंभ के लिए जाने जाना वाला यह स्थल यूनेस्को की विश्व विरासत सूची में भी शामिल है।  सम्राट अशोक ने इसे अपनी नेपाल यात्रा की स्मृति में बनावाया था। यहां का प्रमुख आकर्षण केंद्र 8 वर्ग किलोमीटर में फैला हुआ बाग है। वही मायादेवी मंदिर वास्तव में पर्यटकों के लिए रोचक कई स्मारकों का समूह है।

Source

मुक्तिनाथ
यह स्थान हिन्दू धर्म के वैष्णव संप्रदाय का प्रमुख स्थान माना जाता है। यहां पर मुक्तिनाथ शालिग्राम भगवान की उपासना की जाती है। इस क्षेत्र को मुक्ति क्षेत्र भी कहा जाता है वही मान्यता है कि यहां आने से मोक्ष प्राप्त किया जा सकता है ।

Source

बता दे कि यहां की तीर्थयात्रा करना थोड़ा मुश्किल है क्योंकि इस क्षेत्र की यात्रा में हिमालय क्षेत्र की बड़ी पर्वत श्रृंखलाओं को पार करना होता है ।

 

Source

देवघाटन धाम
देवघाट धाम भी नेपाल के प्रमुख पर्यटन स्थलो में से एक है। यह काली गंडकी तथा त्रिशुली नदियों के संगम स्थल पर स्थित है। बता दे कि मकर संक्रांति के दिन बहुत से लोग यहां पर दर्शन करने के लिए आते हैं और इन पवित्र नदियों में स्नान करते हैं। इसके अलावा यहां पर घूमने लायक कई ऐतिहासिक स्थल भी हैं।

Source

पशुपतिनाथ
नेपाल का नाम लेते ही सबसे पहले पशुपतिनाथ मंदिर का नाम ही याद आता है बागपति नदी के किनारे स्थित पशुपतिनाथ मंदिर यूनेस्को विश्व सांस्कृतिक विरासत स्थल की सूची में शामिल है। हिंदू धर्म के मंदिरों में इसका प्रमुख स्थान है। हिंदू धर्म के आठ प्रमुख स्थलों में पशुपतिनाथ मंदिर भी शामिल है।

Source

पशुपितनाथ भगवान शिव को ही कहा जाता है। यह सिर्फ धार्मिक स्थल के रूप में ही नहीं बल्कि सांस्कृतिक स्थल के रूप में भी प्रसिद्ध है। हिंदू धर्म के अलावा गैर हिंदू पर्यटक भी दुनिया भर से यहां आते हैं। यह मंदिर अपने संरचना के शिल्प के लिए भी जाना जाता है।