BREAKING NEWS

आजादी के 75 वर्ष बाद भी खत्म नहीं हुआ जातिवाद, ऑनर किलिंग पर बोला SC- यह सही समय है ◾त्रिपुरा नगर निकाय चुनाव में BJP का दमदार प्रदर्शन, TMC और CPI का नहीं खुला खाता ◾केन्द्र सरकार की नीतियों से राज्यों का वित्तीय प्रबंधन गड़बढ़ा रहा है, महंगाई बढ़ी है : अशोक गहलोत◾NFHS के सर्वे से खुलासा, 30 फीसदी से अधिक महिलाओं ने पति के हाथों पत्नी की पिटाई को उचित ठहराया◾कोरोना के नए वेरिएंट ओमीक्रॉन को लेकर सरकार सख्त, केंद्र ने लिखा राज्यों को पत्र, जानें क्या है नई सावधानियां ◾AIIMS चीफ गुलेरिया बोले- 'ओमिक्रोन' के स्पाइक प्रोटीन में अधिक परिवर्तन, वैक्सीन की प्रभावशीलता हो सकती है कम◾मन की बात में बोले मोदी -मेरे लिए प्रधानमंत्री पद सत्ता के लिए नहीं, सेवा के लिए है ◾केजरीवाल ने PM मोदी को लिखा पत्र, कोरोना के नए स्वरूप से प्रभावित देशों से उड़ानों पर रोक लगाने का किया आग्रह◾शीतकालीन सत्र को लेकर मायावती की केंद्र को नसीहत- सदन को विश्वास में लेकर काम करे सरकार तो बेहतर होगा ◾संजय सिंह ने सरकार पर लगाया बोलने नहीं देने का आरोप, सर्वदलीय बैठक से किया वॉकआउट◾TMC के दावे खोखले, चुनाव परिणामों ने बता दिया कि त्रिपुरा के लोगों को BJP पर भरोसा है: दिलीप घोष◾'मन की बात' में प्रधानमंत्री ने स्टार्टअप्स के महत्व पर दिया जोर, कहा- भारत की विकास गाथा के लिए है 'टर्निग पॉइंट' ◾शीतकालीन सत्र से पूर्व विपक्ष में आई दरार, कल होने वाली कांग्रेस नेता खड़गे की बैठक से TMC ने बनाई दूरियां ◾उद्धव ठाकरे की सरकार के दो साल के कार्यकाल में विपक्ष पूरी तरह से दिशाहीन रहा : संजय राउत◾कांग्रेस Vs कांग्रेस : अधीर रंजन चौधरी के वार पर मनीष तिवारी का पलटवार◾कल से शुरू हो रहा है संसद का शीतकालीन सत्र, पेश होंगे ये 30 विधेयक◾BJP प्रवक्ता ने फूलन देवी को कहा 'डकैत', अखिलेश ने बताया 'निषाद समाज' का अपमान ◾तमिलनाडु बारिश : चेन्नई के कई इलाकों में जलभराव, IMD ने तटीय जिलों के लिए जारी किया रेड अलर्ट ◾गौतम गंभीर की जान को खतरा, ISIS कश्मीर ने तीसरी बार दी धमकी, कहा- कुछ नहीं कर सकती IPS श्वेता ◾महाराष्ट्र सरकार के 2 साल हुए पूरे, सीएम उद्धव ठाकरे ने कहा- एमवीए सरकार ने आपदा को अवसर में बदला◾

AAP ने पंजाब सरकार पर लगाया आरोप, कहा - सरकार ने कीटों के हमले से खराब हुई फसल का मुआवजा नहीं दिया

आम आदमी पार्टी (आप) के नेता राघव चड्ढा ने शुक्रवार को पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी पर केवल तस्वीर खिंचवाने वाले कार्यक्रमों में शामिल होने का आरोप लगाते हुए कहा कि राज्य सरकार ने उन कपास किसानों को मुआवजा देने का वादा पूरा नहीं किया जिनकी फसल को कीटों (गुलाबी सुंडियों) के हमले से नुकसान हुआ है।

आप के पंजाब प्रभारी चड्ढा ने यहां संवाददाता सम्मेलन में दावा किया कि कीटों के हमले की वजह से राज्य में एक लाख हेक्टेयर से अधिक क्षेत्र में लगी कपास की फसल बर्बाद हो गई। उन्होंने कहा कि चन्नी ने बठिंडा क्षेत्र के प्रभावित किसानों से करीब एक महीने पहले मुलाकात की थी और राज्य सरकार की ओर से उन्हें मुआवजा देने का वादा किया था जिनकी फसल को कीटों के हमले से भारी नुकसान हुआ है।

सरकार ने पूरे राज्य में खुद को किसान हितैषी बताने के लिए इस्तेमाल किया

आप नेता ने आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री ने उन किसानों को मुआवजा देने के अपने वादे का भी सम्मान नहीं किया जिनके साथ उन्होंने फोटो खिंचवाई थी और बाद में उन तस्वीरों को सरकार द्वारा पूरे राज्य में खुद को किसान हितैषी बताने के लिए इस्तेमाल किया गया। संवाददाता सम्मेलन के दौरान चड्ढा ने बाद-बार चन्नी का संदर्भ ‘ ड्रामेबाज मुख्यमंत्री’ के तौर पर दिया जो जमीन पर कार्य करने के बजाय केवल कैमरों के आगे आना और चर्चा में रहना पसंद करते हैं।

चड्ढा ने दावा किया, ‘‘ करतार सिंह वाला गांव के अपने दौरे में उन्होंने (चन्नी ने) किसानों से कहा था कि सरकार उन लोगों को मुआवजा देगी जिनकी फसल कीटों के हमले में खराब हुई है, लेकिन एक महीने बीतने के बाद भी किसी किसान को मुआवजा नहीं मिला है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ ड्रामेबाज मुख्यमंत्री ने किसान बलविंदर सिंह खालसा के साथ तस्वीर खिंचवाई। उन्होंने इस तस्वीर का पूरे पंजाब में प्रचार किया लेकिन खालसा तक को कोई मुआवजा नहीं मिला है। 

चन्नी काम करने में नहीं लाइट और कैमरों में विश्वास करते हैं - चड्ढा 

एक और होर्डिंग पूरे राज्य में बस अड्डों पर, बसों में लगाया गया जिसमें हरप्रीत सिंह नामक किसान की तस्वीर है...उनकी फसल भी बर्बाद हुई है लेकिन उनको भी मुआवजा नहीं दिया गया। अन्य किसानों की तरह ये दोनों किसान भी महसूस कर रहे हैं कि उन्हें छला गया और उनका इस्तेमाल किया गया।’’ चड्ढा ने कहा, ‘‘चन्नी काम करने में नहीं बल्कि लाइट और कैमरों में विश्वास करते हैं।’’ उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री प्रभावित किसानों के साथ खिंचवाई गई तस्वीरों का इस्तेमाल केवल वोट हासिल करने के लिए कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस द्वारा ‘झूठे वादे’ करना नयी बात नहीं है। उन्होंने चन्नी और उनके पूर्ववर्ती अमरिंदर सिंह को इस मामले में ‘‘ जुड़वां भाई’’ करार दिया। आप नेता ने कहा, ‘‘जब अमरिंदर सिंह मुख्यमंत्री थे तो वह यह कह कर अभियान चला रहे थे कि सभी किसानों का कर्ज माफ कर दिया जाएगा। उन्होंने भी गुरदासपुर के किसान बुद्ध सिंह के साथ तस्वीर खिंचवाई जिन पर ढाई लाख रुपये का कर्ज था लेकिन उनका कर्ज माफ नहीं किया गया।

किसान कि तस्वीर वोट हासिल करने के लिए 

आप ने सरकार से मांग की कि उसे किसानों का इस्तेमाल तस्वीर खिंचवाने के लिए नहीं करना चाहिए बल्कि उन्हें मुआवजा देना चाहिए। चड्ढा ने कहा, ‘‘आम आदमी पार्टी गुलाबी सुंडियों के हमले से बर्बाद फसल के लिए किसानों को 75 हजार रुपये प्रति एकड़ की दर से मुआवजा देने की मांग करती है।’

उन्होंने कहा, ‘‘पंजाब का किसान कोई सामान नहीं है जिसकी तस्वीर वोट हासिल करने के लिए प्रदर्शित की जाए।’’ गौरतलब है कि पंजाब विधानसभा के लिए अगले साल चुनाव होने हैं और आप ने सरकार पर हमले तीखे कर दिए हैं।