BREAKING NEWS

विपक्ष के रवैये पर भड़के सभापति नायडू, कहा-1962 से हो रहा निलंबन, पहली बार नहीं हुआ ऐसा ◾प्रदूषण को लेकर SC की AAP सरकार को फटकार, जब बड़े घर पर हैं तो बच्चों के लिए क्यों खोले स्कूल? ◾शीतकालीन सत्र के चौथे दिन भी जारी रहा विपक्ष का प्रदर्शन, सांसद बोले- निलंबन वापसी तक देते रहेंगे धरना ◾Petrol-Diesel Price : दिल्ली में आज से नई कीमत लागू, जानिए आपके शहर में पेट्रोल-डीजल के दाम◾विश्व में ओमीक्रॉन के बढ़ते प्रकोप के बीच SII ने कोविशील्ड की बूस्टर डोज के लिए DCGI से मांगी मंजूरी ◾UPTET पेपर लीक: वरुण गांधी ने किया योगी सरकार पर कटाक्ष, पूछा- कब तक सब्र करे भारत का युवा... ◾ममता के 'UPA क्या है' वाले बयान पर बोले खड़गे-हमें मिलकर BJP से लड़ना है, आपस में न लड़े विपक्ष ◾राजधानी दिल्ली में हुई प्रदूषण की वापसी, बहुत खराब श्रेणी में दर्ज हुआ AQI, हल्की बारिश की संभावना ◾Today's Corona Update : 'ओमिक्रॉन' वैरिएंट के बीच भारत में बढ़ी चिंता, एक दिन में 477 लोगों की हुई मौत◾लोकसभा में विपक्ष बनाए शांति तो कई अहम विधेयक पेश करेगी सरकार, ओमीक्रॉन वेरिएंट पर भी हो सकती है चर्चा ◾ भारत आने वाले है रुस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन, 7.5 लाख AK-203 असॉल्ट राइफल डील हो सकती है फाइनल ◾मुरादाबाद : प्रियंका गांधी आज ससुराल में करेंगी ‘प्रतिज्ञा रैली’, पार्टी कार्यकर्ताओं में भरेंगी जोश◾पंजाब कांग्रेस में घमासान जारी, राहुल तक पहुंची जाखड़ Vs सिद्धू की लड़ाई, CM चन्नी ने भी की मुलाकात ◾केंद्र सरकार ने 15 दिसंबर से शुरू होने वाली अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर लगाई रोक, बाद में किया जाएगा विचार ◾विदेश सचिव श्रृंगला ने अफगानिस्तान मामलों के यूरोपीय संघ के विशेष दूत से मुलाकात की◾ममता के बयान पर वेणुगोपाल का पलटवार, बोले- यह महज एक सपना है..कि कांग्रेस के बिना BJP को हरा सकते है◾मुंबई हवाई अड्डे पर पहुंचने वाले घरेलू यात्रियों को RTPCR की निगेटिव रिपोर्ट लेकर आना अनिवार्य : BMC ◾PM मोदी के कुशल नेतृत्व के चलते भारत आज वैश्विक अर्थव्यवस्था में एक ‘‘ब्राइट स्पॉट’’ के रूप में उभर रहा है: BJP◾पंजाब इलेक्शन से पहले SAD को लगा झटका, मनजिंदर सिंह सिरसा ने थामा BJP का कमल◾केजरीवाल के पेट्रोल की कीमतों पर देर से लिए फैसले से दिल्ली वासियों को करोड़ों रुपये का नुकसान हुआ : मनोज तिवारी◾

3 नवंबर को कोर्ट में पेश होंगे कैप्टन अमरिंदर सिंह

लुधियाना  : स्थानीय चीफ ज्यूडिशियल मैजिस्ट्रेट जापिंदर सिंह की अदालत द्वारा जानबूझ कर आयकर विभाग से जानकारी छिपाने के आरोप में आयकर विभाग द्वारा दायर एक फौजदारी शिकायत के चलते तलब किए गए मुखयमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह आज अदालत में अपने वकील के माध्यम से पेश हो गए है। जिस पर अदालत ने मामले की अगली सुनवाई 3 नवंबर पर रखते हुए सीएम कैप्टन अमरेंद्र सिंह को निजी तौर पर अदालत में पेश होने को कहा। वकील गुरमुख सिंह ने अदालत में आज कैप्टन की तरफ से वकालतनामा देते हुए बाकायदा एक अर्जी भी दी। अर्जी में उन्होंने कैप्टन की आज के लिए हाजिरी माफ करने का आग्रह किया।

उन्होंने कहा कि अदालत द्वारा उनके चंडीगढ स्थित भेजे गए समन उनकी गैरहाजिरी में मिले है। इस समय दौरान वो विदेश गए हुए थे और बाकायदा मुखयमंत्री होने के चलते वो दिल्ली में कई महत्वपूर्ण मामलों जिसमें एसवाईएल नहरी विवाद का मुद्दा भी शामिल है, को लेकर विभागों के साथ व्यस्त है। इसलिए उनकी आज की हाजिरी को माफ किया जाए। मालूम रहे कि अदालत द्वारा उनकी आज की पेशी को लेकर समन भेजे गए थे वहीं आयकर विभाग के वकील राकेश कुमार गुप्ता ने बताया कि कैप्टन की ओर से आज उनके वकील अदालत में पेश हुए।

उन्होंने बताया कि आयकर विभाग ने कैप्टन अमरेंद्र सिंह के खिलाफ स्थानीय अदालत में गत वर्ष आयकर विभाग की धारा 277 व फौजधारी की धाराओं 176, 177, 181, 186, 187, 193 व 199 के तहत शिकायत दायर की हुई है। शिकायत में विभाग ने कैप्टन सिंह पर आरोप लगाया है कि कैप्टन अमरेंद्र सिंह की विदेशों में कई चल-अचल संपत्तियां है व उसने विभाग को अंधेरे में रखते हुए जरकंधा ट्रस्ट के माध्यम से कई लाभ हासिल किए। आयकर विभाग के अनुसार कैप्टन सिंह ने जानबूझ कर इस संबंधी अपने दस्तावेज भी विभाग से छिपाये। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि कैप्टन सिंह ने सरकारी अधिकारियों को अपनी ड्यूटी से रोकने व अडचनें पैदा करने की भी कोशिश की।

आयकर विभाग ने आरोप लगाया है कि उन्होंने बाकायदा कैप्टन अमरेंद्र सिंह को एक नोटिस भी भेजा था। व जवाब देने के लिए कहा था लेकिन कैप्टन सिंह ने कोई भी संतोष जनक जवाब नहीं दिया। आयकर विभाग द्वारा उपरोक्त शिकायत विभाग की अमनप्रीत कौर की ओर से दायर की गई है। यहां यह भी उल्लेखनीय है कि विभाग द्वारा पहले ही कैप्टन अमरेंद्र सिंह के पुत्र रणइंद्र सिंह के खिलाफ दो अलग अलग शिकायतें उपरोक्त अदालत में दायर की हुई है। जिसमें से एक शिकायत में बाकायदा रणइंद्र सिंह अदालत में पेश भी हो चुके है।

- सुनीलराय कामरेड