BREAKING NEWS

हिंसा के बाद किसान आंदोलन में पड़ी दरार, दो संगठनों ने खुद को किया अलग◾26 जनवरी हिंसा: राकेश टिकैत, अन्य किसान नेताओं के खिलाफ एफआईआर दर्ज◾गणतंत्र दिवस पर हुई हिंसा के बाद गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली में कानून-व्यवस्था की समीक्षा की ◾संयुक्त किसान मोर्चा की सफाई - असामाजिक तत्वों ने शांतिपूर्ण प्रदर्शनों को नष्ट करने की कोशिश की◾दिल्ली पुलिस ने ट्रैक्टर परेड में हिंसा के संबंध 200 लोगों को हिरासत में लिया, पूछताछ जारी ◾BCCI प्रमुख सौरव गांगुली को सीने में दर्द, अपोलो हॉस्पिटल में कराया गया एडमिट ◾नेपाल में कोविड टीकाकरण का पहला चरण शुरू, भारत ने तोहफे में दी है 10 लाख वैक्सीन डोज◾ किसान ट्रैक्टर परेड: गणतंत्र दिवस पर हिंसा की जांच के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल◾दो दिवसीय दौरे पर केरल पहुंचे राहुल, मलप्पुरम में गर्ल्स स्कूल के भवन का किया उद्घाटन ◾किसान आंदोलन को बदनाम करने की साजिश हुई कामयाब : हन्नान मोल्लाह◾किसानों की ट्रैक्टर रैली के दौरान भड़की हिंसा में 300 पुलिसकर्मी हुए घायल, क्राइम ब्रांच करेगी जांच◾ट्रैक्टर परेड हिंसा : संयुक्त किसान मोर्चा ने बुलाई बैठक, सभी पहलुओं पर होगी चर्चा ◾DND फ्लाईओवर पर लगा भारी जाम, लाल किला मेट्रो स्टेशन की एंट्री व एग्जिट बंद ◾Today's Corona Update : देश में पिछले 24 घंटे में 12 हजार नए केस, 137 मरीजों की हुई मौत ◾वीडियो वायरल होने के बाद बोले राकेश टिकैत-लाठी कोई हथियार नहीं◾विश्व में कोरोना का प्रकोप जारी, मरीजों का आंकड़ा 10 करोड़ से पार ◾किसानों की ट्रैक्टर परेड में बवाल, दिल्ली पुलिस ने हिंसा के मामले में 22 FIR दर्ज की ◾TOP 5 NEWS 27 DECEMBER : आज की 5 सबसे बड़ी खबरें ◾राकांपा अध्यक्ष शरद पवार बोले- दिल्ली में जो कुछ हुआ, उसका समर्थन नहीं किया जा सकता ◾संयुक्त किसान मोर्चा ने की दिल्ली में ट्रैक्टर परेड के दौरान भड़की हिंसा की निंदा ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

सीकेडी के सदस्यों के खिलाफ जत्थेदार अकाल तख्त को सौंपी शिकायत

लुधियाना-अमृतसर : चीफ खालसा दीवान के गुरुद्वारा श्री कलगीधर साहिब में कार्यकारिणी व जनरल हाउस की बैठक के दौरान कुछ सदस्यों की ओर से आपत्तिजनक शब्दों का उपयोग करने की शिकायत श्री अकाल तख्त साहिब पर पहुंच गई है। मांग की है कि श्री गुरु ग्रंथ साहिब की हजूरी में गलत भाषा का उपयोग करने वाले प्रो. हरि सिह, जसपाल सिंह ढिल्लों, राजिंदर सिंह मरवाहा समेत उनके साथियों के खिलाफ धार्मिक मर्यादा के अनुसार कार्रवाई करने के लिए इनको श्री अकाल तख्त साहिब पर तलब किया जाए।

चीफ खालसा दीवान के सदस्यों संतोख सिंह सेठी , एचएस फ्रीडम और अन्य ने सारे घटनाक्रम की सीडी और अन्य दस्तावेज भी श्री अकाल तख्त साहिब के जत्थेदार ज्ञानी गुरबचन सिह को सौंपे।

सुखबीर की विरोधता के बाद अब बड़े बादल के विरोध की कोशिश

दस्तावेज सौंपते हुए ज्ञापन देने गए सदस्यों ने जत्थेदार को बताया कि 22 सितंबर को दीवान की कार्यकारिणी कमेटी और जरनल हाउस की बैठक सीकेडी के गुरुद्वारा साहिब में बुलाई गई थी। इस बैठक के दौरान अणखी ग्रुप के कुछ सदस्य भाग सिह अणखी, अवतार सिह और हरभजन सिह सोच को दीवान में शामिल करने के लिए टेबल एजेंडा पेश करने लगे।

जब कार्यकारिणी के सदस्यों ने इस टेबल एजेंडा का विरोध करते हुए कहा कि चोर रास्ते से किसी को भी दीवान में शामिल नहीं किया जाएगा। इसके लिए योग्य विधि अपनाई जाए। तो अणखी ग्रुप के लोगों ने वहां झगड़ा शुरू कर दिया। अपशब्दों का उपयोग किया गया। नौबत हाथापाई तक भी पहुंची। कई बार अध्यक्ष और सचिव ने इन को शांति बनाए रखने की भी अपील की।

परंतु फिर भी इनकी ओर से हर बात अनसुनी कर दी गई। जिस को रोकने के लिए बाहर खड़ी पुलिस को गुरुद्वारा के अंदर प्रवेश करना पड़ा। इस लिए जिन लोगों ने श्री गुरु ग्रंथ साहिब की हजूरी में गलत शब्दों का उपयोग किया है उनके खिलाफ धार्मिक नियमों के अनुसार कार्रवाई करते हुए सख्त सजाएं दी जाए। उधर ङ्क्षसह साहिब ने कहा कि वह इस मामले को पांच सिह साहिबान की बैठक में विचार करेंगे और भी फैसला लिया जाएगा उनके अनुसार कार्रवाई की जाएगी।