BREAKING NEWS

आज सोनभद्र जाएंगे CM योगी, पीड़ित परिवार से करेंगे मुलाकात ◾LIVE : निगमबोध घाट पर होगा शीला दीक्षित का अंतिम संस्कार, श्रद्धांजलि देने पहुंची सुषमा स्वराज◾शीला दीक्षित की पहले भी हो चुकी थी कई सर्जरी◾BJP को बड़ा झटका, पूर्व अध्यक्ष मांगे राम गर्ग का निधन◾पार्टी की समर्पित कार्यकर्ता और कर्तव्यनिष्ठ प्रशासक थीं शीला दीक्षित : रणदीप सुरजेवाला ◾सोनभद्र घटना : ममता ने भाजपा पर साधा निशाना ◾मोदी-शी की अनौपचारिक शिखर बैठक से पहले अगले महीने चीन का दौरा करेंगे जयशंकर ◾दीक्षित के बाद दिल्ली कांग्रेस के सामने नया नेता तलाशने की चुनौती ◾अन्य राजनेताओं से हटकर था शीला दीक्षित का व्यक्तित्व ◾जम्मू कश्मीर मुद्दे के अंतिम समाधान तक बना रहेगा अनुच्छेद 370 : फारुक अब्दुल्ला ◾दिल्ली की सूरत बदलने वाली शिल्पकार थीं शीला ◾शीला दीक्षित के आवास पहुंचे PM मोदी, उनके निधन पर जताया शोक ◾शीला दीक्षित कांग्रेस की प्रिय बेटी थीं : राहुल गांधी ◾जीवनी : पंजाब में जन्मी, दिल्ली से पढाई कर यूपी की बहू बनी शीला, फिर बनी दिल्ली की मुख्यमंत्री◾शीला दीक्षित ने दिल्ली एवं देश के विकास में दिया योगदान : प्रियंका◾शीला दीक्षित के निधन पर दिल्ली में 2 दिन का राजकीय शोक◾Top 20 News 20 July - आज की 20 सबसे बड़ी ख़बरें◾राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने शीला दीक्षित के निधन पर जताया दुख ◾दिल्ली की पूर्व सीएम शीला दीक्षित का निधन, PM मोदी सहित कई नेताओं ने जताया दुख◾दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित का 81 साल की उम्र में निधन◾

पंजाब

अमृतसर में प्रेम संबंधों के कारण बाप ने इज्जत की खातिर बेटी और उसके प्रेमी का सरेआम किया कत्ल

लुधियाना-अमृतसर : गुरू की नगरी अमृतसर के नाम से विख्यात एक 15 वर्षीय बेटी को 18 वर्षीय युवक के साथ प्रेम करना इतना महंगा पड़ा कि बाप की नाराजगी के चलते दोनों को अपनी जिंदगी से हाथ धोने पड़े। प्राप्त जानकारी के मुताबिक अमृतसर के मजीठा इलाके में खोखली इज्जत की खातिर युवक -युवती के जोड़े के कत्ल का मामला सामने आया है। 

यह घटना मजीठा स्थित कथूनंगल रोड़ ओबीसी बैंक के नजदीक की है, जिसमें पूर्व कोंसलर चौधरी शिंगारा सिंह का पौत्रा पवन सिंह आयु 18 वर्ष पुत्र राजपाल सिंह का 15 वर्षीय अनु सुपुत्री दिलबाग सिंह निवासी मजीठा रोड़ के साथ कुछ समय से प्रेम संबंध चल रहे थे, जिससे लडक़ी के पिता दिलबाग सिंह, चाचा हरपाल सिंह पुत्र बलदेव द्वारा अपने कुछ जिगरी दोस्तों के साथ मिलकर पवन सिंह को तेज हथियारों से वार करके गंभीर जख्मी कर दिया, जिसको अमृतसर के गुरूनानक अस्पताल में इलाज के लिए ले जाया गया किंतु डॉक्टरों द्वारा वहां पहुंचते ही मृत घोषित कर दिया। 

हमलावर दिलबाग सिंह और हरपाल सिंह द्वारा पवन सिंह का कत्ल करने के बाद अपने ही घर के बाहर अपनी बेटी अनु को भी तेज कार की लपेट में ले लिया और फिर तेज हथियारों से उसपर वार करते हुए उसका भी कत्ल कर दिया। हमलावर दिलबाग सिंह, हरपाल सिंह अपने साथियों समेत मोके से फरार हो गया। डीएसपी रविंद्र सिंह, पुलिस प्रमुख हरकीरत सिंह, एएसआइ राजबीर सिंह समेत अन्य पुलिस मुलाजिमों ने मोके पर पहुंचकर जांच शुरू कर दी।

सूत्रों के मुताबिक दिलबाग सिंह मजीठा में बेटी के प्रेम प्रसंग से खफा होकर अपने साथियों के साथ अपनी बेटी के प्रेमी के घर पहुंचा था और उसने दिनदिहाड़े तेज हथियार दात्रे के साथ सडक़ किनारे खड़े पवन सिंह की गर्दन काट डाली। गर्दन कटने के उपरांत धड़ के साथ लटकती नजर आई और उसे लोगों ने अस्पताल ले जाकर दाखिल करवाया, जहां उसकी मौत हो गई।

बताया जा रहा है कि युवक अमनदीप का काफी लंबे समय से पड़ोस में रहने वाले दिलबाग सिंह की बेटी से प्रेम प्रसंग चल रहा था। उनके प्रेम प्रसंग से लडक़ी का परिवार खफा था। यह भी पता चला है कि मृतक लडक़े की बहन की 2 दिन बाद शादी थी। लडक़ी का पिता दिलबाग सिंह कुछ दिन पहले भी बेटी के प्रेमी को सबक सिखाने के मकसद उसके घर गया था। हालांकि तब घरवालों ने शादी का हवाला देकर मामला रफा-दफा कर दिया था। 

किंतु आज अनु अपने प्रेमी को मिलने उसके घर की तरफ गई थी, यह भी पता लगा है कि दोनों घर से भागने की फिराक में थे, जिससे खफा होकर दिलबाग सिंह ने मौका देखते ही हथियारों से वार कर उसकी हत्या कर दी। बाद में घर लौटकर बेटी अनु को भी मार डाला।

-  सुनीलराय कामरेड