BREAKING NEWS

बिहार में लगे राहुल गांधी के पोस्टर, लिखा-आरक्षण खत्म करने का सपना नहीं होगा सच◾आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत बोले- 'राष्ट्रवाद' शब्द में हिटलर की झलक◾निर्भया मामला : दोषी विनय ने तिहाड़ जेल में दीवार पर सिर मारकर खुद को नुकसान पहुंचाने की कोशिश की◾चीन में कोरोना वायरस का कहर जारी, मरने वालों की संख्या 2000 के पार◾मनमोहन ने की Modi सरकार की आलोचना, कहा - सरकार आर्थिक मंदी को स्वीकार नहीं कर रही है◾अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की भारत यात्रा के मद्देनजर J&K में सुरक्षा बल सतर्क◾राम मंदिर का मॉडल वही रहेगा, थोड़ा बदलाव किया जाएगा : नृत्यगोपाल दास ◾मुंबई के कई बड़े होटलों को बम से उड़ाने की धमकी, ई-मेल भेजने वाला लश्कर-ए-तैयबा का सदस्य◾‘हिंदू आतंकवाद’ की साजिश वाली बात को मारिया ने 12 साल तक क्यों नहीं किया सार्वजनिक - कांग्रेस◾सरकार को अयोध्या में मस्जिद के लिए ट्रस्ट और धन उपलब्ध कराना चाहिए - शरद पवार◾संसदीय क्षेत्र वाराणसी में फलों फूलों की प्रदर्शनी देख PM मोदी हुए अभिभूत, साझा की तस्वीरें !◾दुनिया भर में कोरोना वायरस का प्रकोप, विश्व में अब तक 75,000 से अधिक लोग वायरस से संक्रमित◾आर्मी हेडक्वार्टर को साउथ ब्लॉक से दिल्ली कैंट ले जाया जाएगा : सूत्र◾INDO-US के बीच व्यापार समझौता ‘अटका’ नहीं है : डोनाल्ड ट्रंप ने कहा - जल्दबाजी में यह नहीं किया जाना चाहिये◾कन्हैया ने BJP पर साधा निशाना , कहा - CAA से गरीबों एवं कमजोर वर्गों की नागरिकता खत्म करना चाहती है Modi सरकार◾महंत नृत्य गोपाल दास बने श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के अध्यक्ष , नृपेंद्र मिश्रा को निर्माण समिति की कमान◾पंजाब में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले सिद्धू के AAP में जाने की अटकलें , भगवंत बोले- कोई वार्ता नहीं हुई◾पंजाब में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले नवजोत सिद्धू AAP में जाने की अटकलें , भगवंत बोले- कोई वार्ता नहीं हुई◾प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अगले माह जाएंगे बांग्लादेश दौरे पर◾विनायक दामोदर सावरकर पर बड़े विमर्श की तैयारी, अमित शाह संभालेंगे कमान◾

खतरनाक हथियारों समेत दबोचे गए खालिस्तान आतंकी 3 अक्तूबर तक के लिए पुलिस रिमांड पर

लुधियाना-अमृतसर : पंजाब पुलिस द्वारा अमृतसर के चोहला साहिब में एक बड़े हथियारों के साथ  गिरफ्तार किए गए खालिस्तानी आतंकी मुलजिमों को अमृतसर की अदालत में पेश किया गया। 

अदालत ने दोषियों को 3 अक्तूबर तक 10 दिन के लिए पुलिस रिमांड पर दे दिया है। पुलिस ने मुलजिमों के रिमांड की मांग करते हुए कहा कि संगीन केस की संगीन परतों को खोलना जरूरी है। पुलिस अब यह पता लगाएंगी कि उक्त हथियारों को किस वारदात के लिए अंजाम देना था और यह हथियार कहां से आएं थे। आरंभिक जांच में पुलिस ने दावा किया कि दबोचे गए आतंकियों ने पंजाब के साथ-साथ लगते राज्यों में भी हमला करने की साजिश रचाई थी। 

फिलहाल तरनतारन के चोहला साहिब गांव से खालिस्तान जिंदाबाद फोर्स  के चार आतंकियों की गिरफ्तारी से पंजाब पुलिस ने बड़ी राहत महसूस की है, लेकिन चुनौती कई गुना बढ़ गई है। पंजाब के डीजीपी दिनकर गुप्ता ने कहा कि इस बात की पूरी संभावना है कि हथियार पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आइएसआइ ने भारत में आतंकी हमलों के लिए भेजे हैं। वहीं, पकड़े गए आतंकियों को आज अमृतसर कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उन्हें 11 दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया गया। 

पुलिस को शक है कि जेहादी व खालिस्तानी समर्थक आतंकी ग्रुपों ने पाकिस्तान से ड्रोन के जरिए इन्हें यहां पहुंचाया। इस गिरोह को पाकिस्तान स्थित खालिस्तान जिंदगाबाद फोर्स  के प्रमुख रणजीत सिंह उर्फ नीटा व उसका जर्मनी स्थित सहयोगी गुरमीत सिंह उर्फ बग्गा चला रहे हैं। उन्होंने ही स्लीपर सेल की मदद से स्थानीय सदस्यों को ढूंढने, कट्टर बनाने व भर्ती करने का काम किया। इस काम के लिए सरहद पार से फंड व आधुनिक हथियारों का इंतजाम किया जाता था।

स्मरण रहे कि चार सितंबर को तरनतारन के गांव पंडोरी गोला में हुए बम ब्लास्ट के मामले में पुलिस ने पाकिस्तान समर्थित मॉड्यूल के आठ सदस्यों को गिरफ्तार किया था। उनकी निशानदेही पर ही इन चार आतंकियों की अब गिरफ्तारी हुई है। मुख्यमंत्री ने केंद्र सरकार से मांग की है कि भारतीय वायु सेना व क्चस्स्न को निर्देश दें, जिससे पंजाब जैसे सरहदी राज्यों में ड्रोन हमलों की संभावना को रोका जा सके।

पुलिस की ओर से गिरफ्तार आकाशदीप और बाबा बलवंत सिंह के खिलाफ पहले भी कई पुलिस थानों में कई आपराधिक मामले दर्ज हैं। आर्म्स एक्ट और यूएपीए के केस में अमृतसर जेल में बंद मान सिंह ने जर्मनी में बैठे गुरमीत सिंह उर्फ बग्गा के कहने पर आकाशदीप सिंह को भर्ती किया था। यह दोनों अमृतसर जेल में बंद थे।

हथियारों की खेप हासिल करने वाला बाबा बलवंत सिंह बब्बर खालसा इंटरनेशनल (बीकेआइ) आतंकी ग्रुप का मेंबर है। उसे पहले भी यूएपीए और आर्म्स एक्ट के तहत थाना मुकंदपुर (शहीद भगत सिंह नगर) की पुलिस ने गिरफ्तार किया था। अब वह अदालत से मामले में जमानत पर बाहर था। हालांकि उसके खिलाफ मुकदमा अभी भी चल रहा है।

- सुनीलराय कामरेड