BREAKING NEWS

TOP 5 NEWS 20 JANUARY : आज की 5 सबसे बड़ी खबरें ◾कोरोना के खिलाफ टीकाकरण अभियान में अब तक 6.31 लाख स्वास्थ्यकर्मियों को टीका लगाया गया◾मोदी आज प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के लाभार्थियों को जारी करेंगे वित्तीय सहायता ◾आज का राशिफल (20 जनवरी 2021)◾कांग्रेस की बनाई भारत की छवि को नष्ट कर रहे प्रधानमंत्री : राहुल◾SC द्वारा गठित समिति कृषि कानून पर उत्पन्न संकट सुलझा नहीं पाएगी : बादल◾सोनिया ने केरल में चांडी की अगुवाई में बनाई चुनाव प्रबंधन समिति◾राहुल ने जारी किया 'खेती का खून' बुकलेट, जावड़ेकर बोले-कांग्रेस को खून शब्द से बहुत प्यार◾राहुल का वार- हिंदुस्तान के पास नहीं है कोई रणनीति, स्पष्ट संदेश नहीं दिया तो चीन उठाएगा फायदा ◾कृषि कानून पर SC द्वारा गठित समिति के सदस्यों की पहली बैठक, घनवट बोले- निजी राय को नहीं होने देंगे हावी ◾पश्चिम बंगाल : ममता बनर्जी का BJP पर जोरदार हमला, बताया नक्सलियों से ज्यादा खतरनाक◾कोविशील्ड के इस्तेमाल से कोई गंभीर एलर्जी की दिक्कत वाले लोग वैक्सीन नहीं लें : सीरम इंस्टीट्यूट ◾राहुल गांधी ने जारी की 'खेती का खून' बुकलेट, कहा- कृषि क्षेत्र पर पूंजीपतियों का हो जाएगा एकाधिकार ◾ब्रिस्बेन में चौथे टेस्ट में जीत के साथ भारत ने रचा इतिहास, कंगारुओं को सिखाया सबक ◾चीन मुद्दे को लेकर नड्डा के निशाने पर राहुल, पूछा-झूठ बोलना कब बंद करेगी कांग्रेस?◾BJP सांसद का पलटवार- 80 के दशक से जमीन पर कब्जा करके बैठा है चीन, कांग्रेस ने क्यों नहीं की कार्रवाई ◾2019 में TMC को किया आधा, 2021 में कर देंगे सफाया : दिलीप घोष◾अरुणाचल प्रदेश में चीन के गांव को बसाए जाने की रिपोर्ट पर सियासत तेज, राहुल ने PM पर साधा निशाना ◾देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना के नए मामले 10 हजार से कम, 137 लोगों ने गंवाई जान ◾कांग्रेस मुख्यालय में आज राहुल गांधी की प्रेस कॉन्फ्रेंस, कृषि कानूनों पर जारी करेंगे बुकलेट◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

PM मोदी को प्रकाश पर्व का न्योता ना मिलने पर गरमाई सियासत, अकाली दल-AAP ने फैसले को बताया सही

किसान आंदोलन के बीच सिख गुरु तेगबहादुर के प्रकाश पर्व पर गुरुद्वारा कमेटी की ओर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को न्योता ना दिए जाने पर सियासत शुरू हो गई है। पंजाब में सिखों की सर्वोच्च संस्था शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (SGPC) के इस फैसले को आम आदमी पार्टी और शिरोमणि अकाली दल ने सही बताया है तो वहीं कांग्रेस ने आपत्ति जताई है।

पंजाब में कैबिनेट मंत्री और कांग्रेस नेता सुखजिंदर सिंह ने इस फैसले पर आपत्ति जताते हुए कहा कि प्रधानमंत्री को एसजीपीसी के कार्यक्रम के नाम बुलाने का फैसला गलत है। SGPC के सभी कार्यक्रम साझा होते हैं और गुरु तेगबहादुर जी भी पूरे देश के हैं। ऐसे में प्रधानमंत्री को न्योता ना भेजना गलत है।

केंद्र में एनडीए की सहयोगी रही अकाली दल ने कहा कि गुरुद्वारा कमेटी एक संवैधानिक धार्मिक संस्था है, जिसके बकायदा चुनाव होते हैं। ऐसे में वो किसे बुलाना चाहती है और किसे नहीं यह उन पर निर्भर करता है। संस्था हालात को देखते हुए फैसला करती है। 

वहीं आप ने कहा, जिस तरह से किसान विरोधी कानून केंद्र सरकार की ओर से लाया गया है, उसका सीधा असर पंजाब के किसानों पर पड़ा है। ऐसे में केंद्र सरकार की ज्यादतियों को देखते हुए किसानों के समर्थन में अगर गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी ने प्रधानमंत्री को अपने कार्यक्रम में नहीं बुलाने का फैसला किया है तो ये बिल्कुल सही है।

SGPC के फैसले पर बीजेपी ने भी अपनी प्रतिक्रिया सामने रखी है। बीजेपी का कहना है कि प्रधानमंत्री किसी दल के नहीं बल्कि देश के होते हैं। अगर कांग्रेस के नेता ये बात कह रहे हैं कि प्रधानमंत्री को एसजीपीसी के कार्यक्रम में बुलाना चाहिए था और उसके बावजूद भी एसजीपीसी ने प्रधानमंत्री को नहीं बुलाया तो इसका जवाब मिलना चाहिए।