BREAKING NEWS

दिल्ली हिंसा : AAP पार्षद ताहिर हुसैन के घर को किया गया सील, SIT करेगी हिंसा की जांच◾दिल्ली HC में अरविंद केजरीवाल, सिसोदिया के निर्वाचन को दी गई चुनौती◾दिल्ली हिंसा की निष्पक्ष जांच हो, दोषियों को मिले कड़ी से कड़ी सजा -पासवान◾CAA पर पीछे हटने का सवाल नहीं : रविशंकर प्रसाद◾बंगाल नगर निकाय चुनाव 2020 : राज्य निर्वाचन आयुक्त मिले पश्चिम बंगाल के गवर्नर से◾दिल्ली हिंसा : आप पार्षद ताहिर हुसैन के घर से मिले पेट्रोल बम और एसिड, हिंसा भड़काने की थी पूरी तैयारी ◾TOP 20 NEWS 27 February : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾T20 महिला विश्व कप : भारत ने लगाई जीत की हैट्रिक, शान से पहुंची सेमीफाइनल में ◾पार्षद ताहिर हुसैन पर लगे आरोपों पर बोले केजरीवाल : आप का कोई कार्यकर्ता दोषी है तो दुगनी सजा दो ◾दिल्ली हिंसा में मारे गए लोगों के परिवार को 10-10 लाख का मुआवजा देगी केजरीवाल सरकार◾दिल्ली में हुई हिंसा का राजनीतिकरण कर रही है कांग्रेस और आम आदमी पार्टी : प्रकाश जावड़ेकर ◾दिल्ली हिंसा : केंद्र ने कोर्ट से कहा-सामान्य स्थिति होने तक न्यायिक हस्तक्षेप की जरूरत नहीं ◾ताहिर हुसैन को ना जनता माफ करेगी, ना कानून और ना भगवान : गौतम गंभीर ◾सीएए हिंसा : चांदबाग इलाके में नाले से मिले दो और शव, मरने वालो की संख्या बढ़कर 34 हुई◾दिल्ली हिंसा को लेकर कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल ने राष्ट्रपति को सौंपा ज्ञापन, गृह मंत्री को हटाने की हुई मांग◾न्यायधीश के तबादले पर बोले रणदीप सुरजेवाला : भाजपा की दबाव और बदले की राजनीति का हुआ पर्दाफाश ◾दिल्ली हिंसा : दंगाग्रस्त इलाकों में दुकानें बंद, शांति लेकिन दहशत का माहौल ◾जज मुरलीधर के ट्रांसफर पर बोले रविशंकर- कोलेजियम की सिफारिश पर हुआ तबादला ◾उत्तर-पूर्वी दिल्ली में सीएए को लेकर हुई हिंसा में मरने वालों का आकंड़ा 32 पहुंचा◾दिल्ली हिंसा : जज मुरलीधर के ट्रांसफर को कांग्रेस ने बताया दुखद और शर्मनाक◾

सिख धर्म पर अपने अपने दावे व चुनौतियां

लुधियाना : 34 सिंह शहीद गुरूद्वारा साहिब के मुखय प्रबंधक व तखत श्री दमदमा साहिब के सरबत खालसा द्वारा नियुक्त सिंह साहिबॉन सिंह साहिब बलजीत सिंह दादुवाल ने तखत श्री केसगढ साहिब में माथा टेकने के उपरांत कीर्तन सरवण किया। 13 सितंबर को हर साल की तरह 34 सिंह शहीदों की याद को समर्पित सिख धर्म की रिति-रिवाजों के अनुसर गुरू घर में वार्षिक महान गुरमति समागम करवाया जा रहा है। इस संबंधी जानकारी देते हुए जत्थेदार बलजीत सिंह दादुवाल ने कहा कि बडे दुख की बात है धर्म प्रचार में ड्यूटी निभानी वाली शिरोमणि गुरूद्वारा प्रबंधक कमेटी धर्म प्रचार करने की बजाये उनके धर्म प्रचार में निरंत रूकावटें खडी कर रही है।

दादूवाल ने यह भी कहा कि शिरोमणि कमेटी की इन रूकावटों के बावजूद उनकी सभाओं में संगत भारी उत्साह के साथ उपस्थित हो रही है। दादूवाल के अनुसार चूंकी 2015 में तरनतारन स्थित चब्बे की पावन धरती पर सरबत खालसा ने अन्य के साथ सिख प्रचार के लिए जत्थेदार की सेवा सौंपी है। जिसे वह बाखूबी निभा रहे है।

बीतें दिनों कलवां में हुए धाॢमक समागम के दौरान की बात है कि शिरोमणि कमेटी ने शहीदों की याद में समागम करवाने की याद आई। चाहे इसके लिए कई बरस गुजर गए। चूंकी शिरोमणि कमेटी संगत के उत्साह को देखकर बौखलाई है। दादूवाल ने मीडिया से बातचीत करते हुए एसजपीसी अध्यक्ष प्रो. किरपाल सिंह बंडूगर को चुनौँती देते हुए कहा कि उन्हें कांग्रेस का एजेंट बताने वाले उनसे किसी भी मंच पर खुली बहस करके देख लें।

जबकि बडूंगर ने भी कहा कि वह बहस के लिए हर दम तैयार है। दादूवाल ने कहा कि 1998 से डेरा प्रमुख की सिख विरोधी गतिविधियों के खिलाफ वह लडते आ रहे है। उन्होंने कहा कि अकाली सरकार नाम चर्चा रूकवाने के नाम सुरक्षा दृष्टि का हवाला देकर उन्हें रोक देती थी। उन्होंने कहा कि पूर्व जत्थेदार ज्ञानी गुरमुख सिंह द्वारा डेरा प्रमुख के खिलाफ माफीनामे संंबंधी बादल परिवार पर लगाए गए आरोपों पर प्रो. बंडूगर चुप क्यों है।

- सुनीलराय कामरेड