लुधियाना-बठिण्डा : पंजाब के बठिण्डा शहर के नजदीक मोड़ मंडी के गांव रामनगर में गुटका साहिब के पावन अंगों की बेअदबी का मामला सामने आया है। बेअदबी की जानकारी पाते ही आसपास के दर्जनों गांवा के लोगों में गुस्सा पनपा हुआ है। लोगों का रोष देखते ही घटना की सूचना पाते ही समस्त इलाका पुलिस छावनी में तबदील कर दिया।

बताया जा रहा है कि एक स्थानीय डेरे से चोरी हुए गुटका साहिब के अंग गलियों में बिखरे मिले थे। घटना की जानकारी मिलने के बाद पंजाब के केबिनेट मंत्री गुरप्रीत सिंह कांगड़, आप विधायक सुखपाल सिंह खैहरा, जगदेव सिंह कमालू, तिरमल सिंह धोला आदि अन्य विधायकों समेत सरबत खालसा के जत्थेदार भाई बलजीत सिंह दादूवाल और अन्य पंथक आगु मोके पर पहुंचे और पुलिस ने भी तत्परता दिखाते हुए मोके पर पहुंचकर मामले की जांच शुरू कर दी।

पंजाब : काला-कच्छा गिरोह का होशियारपुर और गढ़शंकर में आतंक, 3 खूनी वारदातों को दिया अंजाम

प्राप्त जानकारी के मुताबिक अधिकांश सिखों की रिहायश वाली गली औ किसी शरारती तत्व द्वारा जपुज साहिब के अंगों को क्षतिग्रस्त करके स्थान-स्थान पर बिखेर दिया था। जिसका पता सुबह-सवेरे 6 बजे गुरूद्वारा साहिब में माथा टेेकने जा रही गांववासी तलविंद्र कोर पत्नी गुरप्रेम सिंह को लगा तो उसने पुलिस को दिए बयान में बताया कि वह खुशवंत कौर पत्नी दिलविंद्र सिंह से मिलकर बेअदबी किए गए अंगों केा इकटठा करके डेरा गंगा दास के गुरूद्वारा साहिब में ग्रंथी गुरप्रीत सिंह के सुपुर्द कर दिया है।

घटना की सूचना मिलते ही इलाके के एसएसपी नानक सिंह अन्य पुलिस मुलाजिमों के साथ मोके पर पहुंचे और उन्होंने रोष में आई सिख संगत को आश्वासन दिया कि ऐसी घटना केा अंजाम देने वाले शरारती तत्व का चेहरा 48 घंटों में जगजाहिर कर देंगे। उन्होंने यह भी बताया कि अज्ञात व्यकित के खिलाफ धारा 295 के तहत मामला दर्ज किया गया है। केबिनेट मंत्री गुरप्रीत सिंह कांगड़ ने लोगों को विश्वास दिलाया कि पंजाब सरकार ऐसी घटनाओं को अंजाम देने वाले केे विरूद्ध सख्त कार्यवाही करने के लिए वचनबद्ध है।

सरबत खालसा के जत्थेदार दादूवाल ने इन घटनाओं के पीछे शिरोमणि अकाली दल के संरक्षक और पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल और शिअद अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल को सीधे तौर पर जिम्मेदार बताया। उन्होंने जस्टिस रंजीत सिंह कमीशन की रिपोर्ट के अनुसार मामला दर्ज करके गिरफतार करने की मांग की।