लुधियाना-बरनाला : जिला बरनाला के गांव उगोके में आज सुबह-सवेरे एक गद्दा फैक्ट्री को भयानक आग लग गई। आग बुझाने के लिए अगिन शमन की दर्जनों गाडिय़ों ने मोके पर पहुंचकर अंथक प्रयासों से काफी समय पश्चात भभकती आग पर काबू पाया। आग लगने के कारण करोड़ों रूपए के नुकसान होने की संभावनाएं है जबकि इस आग में कई कर्मचारी फंस गए थे, जिन्हें अंथक प्रयासों से काफी संघर्ष के बाद बाहर निकाला गया।

सूत्रों के मुताबिक फैक्टरी के मलबे से अब तक तीन शव निकाले गए हैं। तीनों शव इतनी बुरी तरह जले हुए हैं उनकी पहचान के बारे में बरनाला के एसएसपी हरजीत सिंह ने बताया कि आग में 32 वर्षीय साधु सिंह, 23 वर्षीय सिकंदर सिंह और 25 वर्षीय जगजीत सिंह के रूप में हुई है। जगजीत सिंह की शादी एक साल पहले ही हुई थी।

बा-इज्जत बरी होने के बाद अकाल पुर्ख का शुक्राना करने के लिए श्री हरिमंदिर साहिब पहुंची बीबी जगीर कौर

उधर बरनाला के डिप्टी कमीश्रर धर्मपाल गुप्ता ने कहा कि मृतक के पारिवारिक सदस्यों को मुआवजे के लिए राज्य सरकार को लिखा जाएंगा। इस आग का कुछ और लोगों के शिकार होने की आशंका जताई जा रही है। आग पर काबू पाने के लिए दोपहर बाद तक फायर ब्रिगेड की कई गाडिय़ां जुटी रहीं। आग के कारण फैक्टरी में रखे गैस सिलेंडर धमाके के साथ फट रहे हैं और इस कारण इलाके में दहशत है।

जानकारी के अनुसार यह फैक्ट्री आठ माह पहले ही स्थापित हुई थी। मंगलवार सुबह फैक्टरी में रोज की तरह काम हो रहा था। तभी करीब साढ़े नौ बजे फैक्टरी में आग लग गई। आग भडक़ता देख वहां काम कर रहे लोग बाहर भागे और देखते-देखते आग ने भीषण रूप धारण कर लिया। इस बारे में फायरब्रिगेड कर्मियों को सूचना दी गई।

बरनाला से फायर ब्रिगेड की गाडियां आग पर काबू पाने को पहुंचीं। आग को काबू से बाहर होता देख ट्राइडेंट ग्रुप बरनाला, एयरफोर्स स्टेशन बरनाला, संगरुर, मानसा,रामपूरा, बठिंडा आदि से भी फायर ब्रिगेड की गाडिय़ां आग बुझाने के लिए पहुंचीं। बरनाला के एसएसपी हरजीत सिंह ने बताया कि अभी यह नहीं पता चल सका है कि आग के अंदर कुछ लोग फंसे है या नहीं। बड़ी संख्या में पुलिस बल व जिले की काफी एबुलेंस को फैक्टरी के आगे खड़ा कर दिया गया है व अस्पताल में इलाज के लिए प्रबंध तैयार कर रखे गए हैं।

– सुनीलराय कामरेड