कटहल की मसालेदार सब्जी देखकर तो किसी के भी मुंह में पानी आ जाए। ये दुनिया के सबसे बड़े फलों में से एक है। कटहल का प्रयोग सिर्फ सब्जी बनाने में ही नहीं बल्कि अचार,पकौड़े और फोफ्ता बनाने के लिए भी किया जाता है।

 

बता दें कि कटहल में कई सारे ऐसे तत्व होते हैं जो शरीर की कई सारी आवश्कताओं को पूरा करने में हमारी सहायता करते हैं। इसमें विटामिन ए,विटामिन सी,थायमीन,पोटैशियम,कैल्शियम,आयरन औश्र जिंक प्रचुर मात्रा में होता है।

इन दिनों सोशल मीडिया पर एक अजीब से मुद्दे को लेकर बहस छिड़ी हुई है। दरअसल ये मुद्दा कुछ और नहीं बल्कि सब्जी में प्रयोग किए जाने वाली सब्जी कटहल है। जिसे लेकर सोशल मीडिया पर खूब बातें हो रही हैं।

तो आइए आपको बताते हैं कि आखिर माजरा क्या है। हुआ कुछ यूं कि ब्रिटेन का एक प्रमुख अखबार गार्जियन की वेबसाइट पर कटहल से जुड़ा एक लेख लिखा गया जिसमें कटहल को सबसे बदसूरत और बदूबदार फल बताया गया है।

यहाँ पढ़े ट्विटर पोस्ट:https://twitter.com/snigskitchen/status/1111285490060324866

हैरान कर देने वाली ये बात है कि इस लेख में आगे ये भी लिखा है कि इस फल को भारत में पेडों पर सडऩे के लिए ऐसे ही छोड़ दिया जाता था और तभी इसको खाते थे जब उनके पास खाने को कुछ भी नहीं होता था। इस आर्टिकल को पढऩे के बाद कई सोशल मीडिया यूजर्स ने अपनी प्रतिक्रियाएं देते हुए आपत्ति जताई है। कटहल को भारत के लोगों ने फूड रेसिज्म करार दिया है। वहीं कुछ लोगों ने कटहल के बारे में तर्क देते हुए कहा कि भारत में इसे नॉनवेज की तरह बनाकर खाया जाता है।

आइए जानते हैं कि आखिर क्या लिखा था इस लेख में। इस लेख में 5 साल के पहले कटहलक को उपजाया भी जाता था लेकिन अब ऐसी हालत है कि इसे एक्सपोर्ट किया जाने लगा है। एक यूजर ने लिखा-एक समय में पश्चिमी देशों ने हल्दी को भी बदबूदार मसाला बता दिया था।

यहाँ पढ़े ट्विटर पोस्ट:https://twitter.com/thefraudbrahmin/status/1111511506544263170

@thefraudbrahmin श्री नाम के एक शख्स ने लिखा- जिस किसी इडियट ने ये लेख लिखा है उसने लगता है आज से पहले कभी कटहल देखा नहीं है। लेख कहता है कि भारत में इसे अब बैन कर दिया गया है। जबकि ऐसा कुछ भी नहीं है। यदि मुझे इसका लेखक मिल जाए तो सच में मैं एक बड़े कटहल से उसका सिर कुचल डालूं।

यहाँ देखिये लोगों द्वारा दी गयी प्रतिक्रियाएं…

1#

2#

3#

4#