BREAKING NEWS

ईरान में कोरोना संकट के बीच फंसे 275 भारतीयो को दिल्ली लाया गया ◾कोरोना वायरस से अमेरिका में संक्रमितों की संख्या 121,000 के पार हुई, अबतक 2000 अधिक से लोगों की मौत ◾कोरोना संकट : देश में कोरोना संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 1000 के पार, मौत का आंकड़ा पहुंचा 24◾कोरोना महामारी के बीच प्रधानमंत्री मोदी आज करेंगे मन की बात◾कोरोना : लॉकडाउन को देखते हुए अमित शाह ने स्थिति की समीक्षा की◾इटली में कोरोना वायरस का प्रकोप जारी, मरने वालों की संख्या बढ़कर 10,000 के पार, 92,472 लोग इससे संक्रमित◾स्पेन में कोरोना वायरस महामारी से पिछले 24 घंटों में 832 लोगों की मौत , 5,600 से इससे संक्रमित◾Covid -19 प्रकोप के मद्देनजर ITBP प्रमुख ने जवानों को सभी तरह के कार्य के लिए तैयार रहने को कहा◾विशेषज्ञों ने उम्मीद जताई - महामारी आगामी कुछ समय में अपने चरम पर पहुंच जाएगी◾कोविड-19 : राष्ट्रीय योजना के तहत 22 लाख से अधिक सार्वजनिक स्वास्थ्य सेवा कर्मियों को मिलेगा 50 लाख रुपये का बीमा कवर◾कोविड-19 से लड़ने के लिए टाटा ट्रस्ट और टाटा संस देंगे 1,500 करोड़ रुपये◾लॉकडाउन : दिल्ली बॉर्डर पर हजारों लोग उमड़े, कर रहे बस-वाहनों का इंतजार◾देश में कोविड-19 संक्रमण के मरीजों की संख्या 918 हुई, अब तक 19 लोगों की मौत ◾कोरोना से निपटने के लिए PM मोदी ने देशवासियों से की प्रधानमंत्री राहत कोष में दान करने की अपील◾कोरोना के डर से पलायन न करें, दिल्ली सरकार की तैयारी पूरी : CM केजरीवाल◾Coronavirus : केंद्रीय राहत कोष में सभी BJP सांसद और विधायक एक माह का वेतन देंगे◾लोगों को बसों से भेजने के कदम को CM नीतीश ने बताया गलत, कहा- लॉकडाउन पूरी तरह असफल हो जाएगा◾गृह मंत्रालय का बड़ा ऐलान - लॉकडाउन के दौरान राज्य आपदा राहत कोष से मजदूरों को मिलेगी मदद◾वुहान से भारत लौटे कश्मीरी छात्र ने की PM मोदी से बात, साझा किया अनुभव◾लॉकडाउन को लेकर कपिल सिब्बल ने अमित शाह पर कसा तंज, कहा - चुप हैं गृहमंत्री◾

इन मजदूरों की रोजी-रोटी पर भी कोरोना ने पैर पसारे,लॉकडाउन में हजारों KM पैदल चल घर लौटने को हुए मजबूर

चीन के वुहान शहर से जन्मा कोरोना वायरस अब विश्वभर के लोगों पर हावी हो चुका है। कोरोना वायरस की वजह से अब तक करीब 21,308 लोगों की जान जा चुकी है,जबकि 5 लाख लोग इस वायरस की चपेट में आए हुए हैं। चीन,इटली और अमेरिका के बाद अब भारत में भी कोरोना वायरस की वजह से हड़कम मचा हुआ है। क्योंकि देशभर में कोरोना के करीब 600 से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं। वहीं इस वायरस की वजह से 14 लोगों की मौत भी हो चुकी है। 

कोरोना वायरस से होने वाली तबाही से लोगों की सुरक्षा के चलते सरकार ने पूरे देश को लॉकडाउन कर दिया है। ये लॉकडाउन करीब 21 दिनों तक का है जो 14 अप्रैल तक चलेगा। 

लॉकडाउन की वजह से सड़कों पर सन्नाटा छाया हुआ है। लेकिन कुछ लोग ऐसे भी है जिनके पास कोई विकल्प नहीं होने की वजह से उन्हें सड़को पर देखा जा रहा है। बता दें कि यह लोग कोई और नहीं बल्कि वो हैं जिन्हें शहर में एक वक्त की रोटी के लिए भी जूझना पड़ रहा है। 

अब इन मजदूरों के पास कोई और सहारा ना होते हुए इन्होंने लॉकडाउन में भी अपने घर जाने का फैसला किया है और अपने परिवार का पेट भरने के लिए यह अपने घरों से सैकड़ों किलोमीटर दूर रहने वाले हजारों मजदूर हिम्मत जुटा कर अपने घर जाने के लिए रवाना हुए हैं।

 इनमें से कोई पैदल चले जा रहा है तो कोई साइकिल से तो इनमें कई सारे रिक्शे से जानें वाले भी हैं। यह लोग इस वजह से भी पैदल चलने की हिम्मत जुटा रहे हैं क्योंकि इन्हें पूरी उम्मीद है कि शहर से निकलकर अपने गांव जाकर कम से कम इन्हें भूखा नहीं मरना पड़ेगा। 

भले ही सरकार ने देशभर में 21 दिनों के लिए पूरी तरह से लॉकडाउन कर दिया हो,मगर शायद वो इस बात से पूरी तरह अंजान रह गई कि यह सभी मजदूर भला 21 दिनों में कोरोना से जरूर अपना बचाव कर लें,लेकिन शायद भूख से अपना दम भी तोड़ सकते हैं।