BREAKING NEWS

पाकिस्तान ने इस साल 2050 बार किया संघर्षविराम उल्लंघन, मारे गए 21 भारतीय◾संतोष गंगवार के 'नौकरी' वाले बयान पर प्रियंका का पलटवार, बोलीं- ये नहीं चलेगा◾CM विजयन ने हिंदी भाषा पर बयान को लेकर की अमित शाह की आलोचना, दिया ये बयान◾महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में 'अप्रत्याशित जीत' हासिल करने के लिए तैयार है BJP : फडणवीस◾ देश में रोजगार की कमी नहीं बल्कि उत्तर भारतीयों में है योग्यता की कमी : संतोष गंगवार ◾ममता बनर्जी पर हमलावर हुए BJP विधायक सुरेंद्र सिंह, बोले- होगा चिदंबरम जैसा हश्र◾International Day of Democracy: ममता का मोदी सरकार पर वार, आज के दौर को बताया 'सुपर इमरजेंसी'◾शरद पवार बोले - जो प्यार पाकिस्तान से मिला है, वैसा कहीं नहीं मिला◾इमरान खान ने माना, भारत से हुआ युद्ध तो हारेगा पाकिस्तान◾मंत्रियों के अटपटे बयानों से अर्थव्यवस्था का कल्याण नहीं होगा : यशवंत सिन्हा◾अर्थव्यवस्था में सुस्ती पर बोले नितिन गडकरी - मुश्किल वक्त है बीत जाएगा◾शिवपाल यादव की कमजोरी में खुद की मजबूती देख रही समाजवादी पार्टी◾चिन्मयानंद मामला : पीड़िता ने एसआईटी को सौंपे 43 वीडियो, स्वामी को बताया 'ब्लैकमेलर'◾हरियाणा के लिए कांग्रेस ने गठित की स्क्रीनिंग कमेटी ◾काशी, मथुरा में मस्जिद हटाने के लिए दी जाएगी अलग जमीन : स्वामी ◾सारदा मामला : कोलकाता के पूर्व पुलिस आयुक्त CBI के समक्ष नहीं हुए पेश◾कांग्रेस 2 अक्टूबर को करेगी पदयात्रा◾अमित शाह 18 सितंबर को जामताड़ा से रघुवर दास की जनआशीर्वाद यात्रा करेंगे शुरू◾PAK ने आतंकवाद को नहीं रोका तो उसके टुकड़े होने से कोई नहीं रोक सकता : राजनाथ ◾मॉब लिंचिंग : NCP ने मोदी सरकार पर साधा निशाना , कहा - ऐसी घटना पहले कभी सुनाई नहीं देती थी लेकिन अब अक्सर सुन सकते हैं◾

दिलचस्प खबरें

लू लगने से हुई थी शख्स की मौत,कब्रिस्तान ले जा रहे थे जनाजा अचानक हुआ ज़िंदा,जानें पूरा माजरा

हाल ही में गुजरात से एक ऐसा मामला सामने आया कि शायद यह बात सुनकर कोई भी चौक जाए। जी हां यहां पर एक शख्स मरने के बाद जिंदा हो गया। गुजरात के पालनपुर में मजदूरी करने वाले नदीम नागोरी की लू लगने की वजह से ज्यादा तबियत खराब हो गई। 

इसके बाद नदीम को अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां पर इलाज के दौरान डॉक्टरों ने नदीम को मृत घोषित कर दिया था। डॉक्टरो का कहना था कि इलाज के दौरान उसकी सांसे अचानक से ही चलना बंद हो गई।

 वहीं जैसे ही परिवार वालों ने नदीम की मौत की खबर सुनी तो उन लोगों के ऊपर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा था। पूरा परिवार सदमें में था। नदीम की मौत की खबर सुनने के बाद परिवार और रिश्तेदार उसके जनाजे की तैयारी करने लग गए। जब नदीम के जनाजे को लेकर लोग कब्रिस्तान पहुंचे तो किसी ने देखा की उसकी तो अभी सांसे चल रही हैं।

तभी तुरंत उसे अस्पताल ले जाया गया जहां उसे बचाने की बहुत कोशिश भी की गई लेकिन उसने दोबारा से दम तोड़ दिया था। वहीं नदीम के परिवार वालों का आरोप है कि अस्पताल के डॉक्टर ने नदीम को सुबह 8 बजे मृत घोषित कर दिया था। 

वहीं परिवार वालों ने भी डॉक्टर की बात मान ली थी लेकिन वह 12 बजे तक भी जिंदा ही रहा। परिवार वालों ने इस पूरी घटना पर और नदीम की मौत का जिम्मेदार अस्पताल प्रशासन को ठहराया है। नदीम के परिवार वालों के आरोप लगाने के बाद भी अस्पताल प्रशासन ने कुछ कहने से साफ -साफ माना कर दिया है।