BREAKING NEWS

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव LIVE: फडणवीस समेत कई नामी फिल्मी सितारों ने डाला वोट◾उपचुनाव LIVE : 18 राज्यों की 51 विधानसभा और 2 लोकसभा सीटों पर मतदान जारी, रामपुर में 7 फर्जी एजेंट पकड़े गए◾संघ प्रमुख मोहन भागवत बोले- बीते 90 वर्षों से हमें निशाना बनाया जा रहा है ◾LIVE: हरियाणा विधानसभा चुनाव के लिए मतदान जारी, दंगल गर्ल्स ने डाला वोट◾हरियाणा में मुकाबला सिर्फ BJP और कांग्रेस के बीच : भूपिंदर सिंह हुड्डा◾केजरीवाल ने BJP पर साधा निशाना - बिजली सब्सिडी खत्म कर देगी भाजपा◾पोस्ट पेमेंट बैंक ने चुनौतियों को अवसर में बदला : PM मोदी ◾प्याज के मुद्दे पर भाजपा का केजरीवाल पर हमला, मुख्यमंत्री आवास का होगा घेराव◾सीमा पार तीन आतंकी शिविर ध्वस्त किये गए, 6-10 पाक सैनिक ढेर : सेना प्रमुख ◾PoK में भारतीय सेना की बड़ी कार्रवाई : सेना ने LoC पार जैश, हिजबुल के 35 आतंकी मार गिराए◾30 अक्टूबर को जामिया के दीक्षांत समारोह में राष्ट्रपति कोविंद होंगे मुख्य अतिथि◾महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के लिए कल होगा मतदान, BJP लगातार दूसरे कार्यकाल की कोशिश में ◾वैश्विक आर्थिक जोखिमों के कारण बहुपक्षीय सहयोग को मजबूत करने की जरूरत : सीतारमण ◾मनमोहन सिंह करतारपुर गलियारे के औपचारिक उद्घाटन में नहीं होंगे शामिल : सूत्र◾TOP 20 NEWS 20 October : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾भारत की तरफ से गोलीबारी में हमारे 4 जवान शहीद, हमने भारतीय सेना के 9 सैनिकों को मार गिराया : PAK◾कमलेश तिवारी हत्याकांड: योगी से मिले परिजन, पत्नी बोली- CM ने हर संभव कार्रवाई का दिया आश्‍वासन◾भारतीय सेना ने PoK में तबाह किए आतंकी कैंप, 5 पाकिस्तानी सैनिक ढेर◾अभिजीत बनर्जी को लेकर BJP पर राहुल ने साधा निशाना, कहा- ये बड़े लोग नफरत से अंधे हो गए है◾अभिजीत बनर्जी के नोबेल पुरस्कार को राजनीतिक चश्मे से न देखा जाए : मायावती◾

दिलचस्प खबरें

Pitru Paksha 2019: पूर्वजों को ऐसे दें गया पिंडदान से सम्मान, महत्व, विधि और श्रेष्ठ मुहूर्त के बारे में जानिए

पितरों की शांति के लिए श्राद्ध पक्ष में एक खास महत्व पिंडदान को बताया गया है। पिंडदान करने के कई तीर्थ स्‍थल भारत में हैं लेकिन सबसे प्रमुख स्‍थान गया को माना जाता है। शास्‍त्रों में कहा गया है कि पितरों का पिंडदान और श्राद्ध पूजा गया में करने से उन्हें मुक्ति मिल जाती है। 

भारत के बिहार राज्य में गया है। शास्‍त्रों में कहा गया है कि गया में ही भगवान विष्‍णु के चरण हैं। वहां पर ही पिंडदान किया जा सकता है। चलिए आपको बताते हैं कैसे कर सकते हैं पिंडदान-


ये है पिंडदान की विधि

- श्वेत वस्‍त्र पहन कर ही पिंडदान या श्राद्ध कर्म करें

- पिंड का निर्माण जौ के आटे या खोये से ही करें। पिंड का पूजन उसके बाद चावल, कच्चा सूत, फूल, चंदन, मिठाई, फल, अगरबत्ती, तिल, जौ, दही आदि से करें। 

- पिंड को हाथ में लेकर इदं पिंड यानी पितर का नाम लें तेभ्यः खधा के बाद इस मंत्र का जाप करते हुए पिंड को अंगूठा और तर्जनी उंगली के मध्य से छोड़ें। 

-तीन पीढ़ी के पितरों का पिंडदान इस तरह से करना चाहिए। 

-पितरों की अराधना पिंडदान करने के बाद करें। फिर जल में पिंड को उठाकर प्रवाहित कर दें। 

- दोपहर के समय ही हमेशा श्राद्ध किया जाता है। 

पिंडदान क्या होता है?

विद्वानों के अनुसार, गोलाकर रुप पिंड किसी वस्तु का कहा जाता है। मृतक के निमित्त अर्पित पिंडदान के समय किए जाने वाले पदार्थ में जौ या चावल का आटा गूंथकर उसका गोलाकृति बनाते हैं जिसे पिंड कहा जाता है।

दक्षिण की ओर मुख करके, जनेऊ को दाएं कंधे पर रखकर चावल, गाय के दूध, घी, शक्कर और शहद को मिलाकर तैयार किए गए पिंडों को श्राद्ध भाव के साथ अपने पितरों को अर्पित करना ही पिंडदान कहलाता है। 

15 सितंबर, 2019 द्वितीय श्राद्ध मुहूर्त-

कुतुप मुहूर्त - 11:29 AM से 12:17 PM तक

अवधि - 49 मिनट

रौहिण मुहूर्त -12:17 PM से 01:06 PM तक

अवधि - 49 मिनट

अपराह्न काल - 01:06 PM से 03:33 PM तक

अवधि - 2 घंटे 26 मिनट

द्वितीया तिथि आरंभ - 12:24 PM, सितंबर 15, 2019

द्वितीया तिथि समाप्त - 02:35 PM, सितंबर 16, 2019