BREAKING NEWS

डॉक्टरों के साथ दुर्व्यवहार करने वालों के खिलाफ की जाएगी सख्त कार्रवाई : CM केजरीवाल◾शिया वक्फ बोर्ड ने तबलीगी जमात पर लगाया गंभीर आरोप, कहा- 1 लाख से ज्यादा लोग मारने की बनाई थी योजना◾कोरोना वायरस : स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा- देश में आवश्यक उपकरणों का स्टॉक मौजूद, PPE और वेंटिलेटर की खरीद शुरु◾देश में कोरोना फैलने के लिए अनिल देशमुख ने दिल्ली पुलिस को ठहराया जिम्मेदार◾कोरोना संकट से जारी जंग में मदद के तौर पर केंद्र सरकार ने राज्यों के लिए आपात पैकेज की दी मंजूरी◾महाराष्ट्र कैबिनेट ने उद्धव ठाकरे को MLC बनाने का लिया निर्णय, राज्यपाल को भेजेंगे प्रस्ताव ◾कोरोना संकट : ओडिशा सरकार ने 30 अप्रैल तक बढ़ाई लॉकडाउन की अवधि, केंद्र से किया ये अनुरोध◾गुजरात में कोरोना के 55 नए मरीज, अकेले अहमदाबाद के 50 लोग हुए संक्रमित◾PM मोदी ने किया ट्रम्प का समर्थन, कहा- मुश्किल वक्त ही दोस्तों को लाती है करीब◾जमात प्रमुख मौलाना साद के ठिकाने का हुआ खुलासा, पुलिस फिलहाल नहीं करेगी पूछताछ ◾झारखंड में कोरोना वायरस से 1 की मौत, मरीजों की संख्या एक दिन में तिगुनी हुई ◾Coronavirus : अमेरिका में मरने वालों की संख्या 14000 के पार, 11 भारतीयों के मौत की पुष्टि◾चीन में कोविड-19 के 63 नए मामलें सामने आए, अबतक करीब 3,335 लोगों की हुई मौत ◾पूरे विश्व कोरोना वायरस का कहर जारी, अब तक वायरस से संक्रमितों की संख्या 15 लाख से अधिक हुई ◾कोविड-19 : देश में 5,734 संक्रमित मामलों की पुष्टि वहीं 166 लोगों की अब तक मौत◾Covid-19 : दवा मिलने पर भारत के फैसले से डोनाल्ड ट्रम्प के सुर बदले नजर आए, कहा- थैंक्यू PM मोदी ◾कोरोना संकट : सरकार ने 20 करोड़ महिलाओं के जनधन खातों में पांच-पांच सौ रूपये की सहायता राशि डाली ◾देश में कोरोना का कहर जारी, वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या पांच हजार के पार,140 से ज्यादा लोगों की मौत◾जमात के कार्यक्रम में शामिल हुए लोगों के खिलाफ होगा मामला दर्ज, दिया हुआ समय-सीमा समाप्त : अनिल विज ◾Covid 19 : लखनऊ समेत 15 जिलों में चुनिंदा इलाकों को किया जायेगा सील◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaLast Update :

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

पुणे कॉलेज के इन तीनों लड़कों ने Annual Day पर साड़ी पहनकर दिया ये संदेश, देखें तस्वीरें

आज के इस दौर में इंसान, उसके लिंग और जाति-धर्म की पहचान उसके कपड़ों से हो रही है वहीं पुणे के एक कॉलेज के तीन लड़कों ने नई मिसाल पेश की है। उन्होंने समाज को जेंडर इक्वेलिटी यानी लैंगिक समानता पर एक संदेश देने की कोशिश की है। पुणे के फग्युुर्सन कॉलेज में ये तीनों छात्र पढ़ते हैं और इन्होंने अपेन कॉलेज के एनुअन ट्रेडिशन डे पर साड़ी पहनीं थी। 

सामान्य कपड़े पहने थे बाकी सारे बच्चों ने

पुणे के इस कॉलेज में बीते गुरुवार को यह आयोजन आयोजित किया गया था जिसमें सैकड़ों बच्चों ने सामान्य कपड़े धारण किए थे। लेकिन इन तीन लड़कों ने साड़ी पहनी थी। बता दें कि इन तीनों लड़कों का नमा आकाश पवार, सुमित होनवाडकर और रुशिकेष सनप है। 

आकाश ने एक वेब पोर्टल से बात करते हुए कहा कि, ऐसा कहीं नहीं लिखा है कि लड़कों को लड़कों वाले ही कपड़े पहनने चाहिए और लड़कियों को साड़ी, सलवार कमीज और स्कर्ट ही पहनी चाहिए। यही वजह है कि हमने साड़ी पहनने का फैसला किया। 

सहेली श्रद्धा ने साड़ी बांधने में मदद की


आकाश ने आगे बात करते हुए कहा कि कॉलेज के बाकी साथियों की राय की परवाह उन्होंने नहीं की। इन लड़कों को साड़ी बांधने में थोड़ी बहुत मेहनत करनी पड़ी और इसमें इनका साथ इनकी दोस्त श्रद्धा ने दिया। तीन लड़कों ने बताया कि साड़ी पहनकर कार्यक्रम में जाने के बाद यह एहसास हुआ कि साड़ी को पहनने और संभालने में बहुत मेहनत लगती है। 

सराहना की कॉलेज के प्रोफेसर्स और छात्रों ने 

कॉलेज के दूसरे छात्रों ने बल्कि कॉलेज के प्रोफेसर्स ने भी इन तीनों के इस साहसिक कदम की सराहना की। खबरों के अनुसार, इसी कॉलेज के एक और लड़के ने दो साल पहले साड़ी पहनी थी। लेकन उस दौरान सचिन चौहान की ट्रांसजेंडर दिशा पिंकी ने बहुत आलोचना की थी।