BREAKING NEWS

Winter Session: निलंबन वापसी के मुद्दे पर राज्यसभा में जारी गतिरोध, शून्यकाल और प्रश्नकाल हुआ बाधित ◾12 निलंबित सदस्यों को लेकर विपक्ष का समर्थन,संसद परिसर में दिया धरना, राज्यसभा की कार्यवाही स्थगित ◾JNU में फिर सुलगी नए विवाद की चिंगारी, छात्रसंघ ने की बाबरी मस्जिद दोबारा बनाने की मांग, निकाला मार्च ◾भारत में होने जा रहा कोरोना की तीसरी लहर का आगाज? ओमीक्रॉन के खतरे के बीच मुंबई लौटे 109 यात्री लापता ◾देश में आखिर कब थमेगा कोरोना महामारी का कहर, पिछले 24 घंटे में संक्रमण के इतने नए मामलों की हुई पुष्टि ◾लोकसभा में न्यायाधीशों के वेतन में संशोधन की मांग वाले विधेयक पर होगी चर्चा, कई दस्तावेज भी होंगे पेश ◾PM मोदी के वाराणसी दौरे से पहले 'गेरुआ' रंग में रंगी गई मस्जिद, मुस्लिम समुदाय में नाराजगी◾ओमीक्रॉन के बढ़ते खतरे के बीच दिल्ली फिर हो जाएगी लॉकडाउन की शिकार? जानें क्या है सरकार की तैयारी ◾यूपी : सपा और रालोद प्रमुख की आज मेरठ में संयुक्त रैली, सीट बटवारें को लेकर कर सकते है घोषणा ◾दिल्ली में वायु गुणवत्ता 'बहुत खराब' श्रेणी में दर्ज, प्रदूषण को कम करने के लिए किया जा रहा है पानी का छिड़काव ◾विश्व में वैक्सीनेशन के बावजूद बढ़ रहे है कोरोना के आंकड़े, मरीजों की संख्या हुई इतनी ◾सदस्यीय समिति को अभी तक सरकार से नहीं हुई कोई सूचना प्राप्त,आगे की रणनीति के लिए आज किसान करेंगे बैठक ◾ पीएम मोदी आज गोरखपुर को 9600 करोड़ रूपये की देंगे सौगात, खाद कारखाना और AIIMS का करेंगे लोकार्पण◾रूसी राष्ट्रपति पुतिन ने भारत को एक बहुत बड़ी शक्ति, वक्त की कसौटी पर खरा उतरा मित्र बताया◾पंजाब के मुख्यमंत्री ने पाकिस्तान के साथ सीमा व्यापार खोलने की वकालत की◾महाराष्ट्र में आए ओमिक्रॉन के 2 और नए केस, जानिए अब कितनी हैं देश में नए वैरिएंट की कुल संख्या◾देश में 'ओमिक्रॉन' के बढ़ते प्रकोप के बीच राहत की खबर, 85 फीसदी आबादी को लगी वैक्सीन की पहली डोज ◾बिहार में जाति आधारित जनगणना बेहतर तरीके से होगी, जल्द बुलाई जाएगी सर्वदीय बैठक: नीतीश कुमार ◾कांग्रेस ने पंजाब चुनाव को लेकर शुरू की तैयारियां, सुनील जाखड़ और अंबिका सोनी को मिली बड़ी जिम्मेदारी ◾दुनिया बदली लेकिन हमारी दोस्ती नहीं....रूसी राष्ट्रपति पुतिन से मुलाकात में बोले PM मोदी◾

IPL छोड़ते ही एंड्रयू टाय के बदले तेवर, बोले-जब लोगों को बेड नहीं मिल रहे तो फ्रेंचाइजी इतना पैसा कैसे कमा रही है?

भारत में कोरोना वायरस के तेजी से बढ़ते प्रकोप को देखते हुए आईपीएल 2021 से बीच में ही किनारा कर लेने वाले राजस्थान रॉयल्स के तेज गेंदबाज एंड्रयू टाय अब ऑस्ट्रेलिया रवाना हो गए हैं। यही नहीं  एंड्रयू टाय ने आईपीएल बीच में ही छोड़ देने के बाद एक बड़ा बयान दिया है। दरअसल वह इस बात से हैरान है कि  जब भारत में इतनी बड़ी स्वास्थ्य समस्या है तब फ्रेंचाइजी क्रिकेट पर इतनी बड़ी रकम कैसे खर्च कर रही हैं? 

आईपीएल को छोड़ने के बाद टाई ने कही ये बड़ी बात 


टाई ने कहा, एक खिलाड़ी के रूप में हम सुरक्षित हैं लेकिन क्या यह आगे सुरक्षित रहने वाला है? ये कंपनियां और फ्रेंचाइजी इतने पैसे कैसे खर्च कर रहीं हैं, जबकि लोग असुविधाओं के चलते अस्पतालों में भर्ती भी नहीं हो पा रहे हैं। लेकिन मैं मानता हूं कि हर किसी का सोचने का एक तरीका नहीं है और मैं सभी के विचारों का सम्मान करता हूं,यदि इस खेल से लोगों के जीवन में तनाव दूर होता है या उन्हें इस बात की आशा देता है कि दुनिया में सब कुछ ठीक है और गहरी सुरंग में भी रोशनी है, तो मैं समझता हूं कि आईपीएल जारी रहे। उन्होंने कहा कि आईपीएल पर वो सभी के विचारों का सम्मान करते हैं। बता दें कि टाय ने इसी महीने शादी की है और वह चाहते थे कि वह सुरक्षित अपने घर पहुंच जाएं।

 इस 34 साल के खिलाड़ी ने भारत में कोरोना मामलों के बढ़ने के कारण अपने देश में प्रवेश निषेध होने की आशंका से आईपीएल बीच में ही छोड़ दिया। एंड्रयू टाय ने कहा कि उनके गृहनगर पर्थ में भारत से जाने वालों के क्वांटराइन के बढ़ते मामलों के कारण उन्होंने यह फैसला लिया। टाय ने राजस्थान रॉयल्स के लिए अभी तक एक भी मैच नहीं खेला था और उन्हें एक करोड़ रुपए में खरीदा गया था। उन्होंने  दोहा से ‘सेन रेडियो’ से कहा, ‘इसके कई कारण है, लेकिन मुख्य कारण यह है कि पर्थ में भारत से लौटने वाले लोगों के होटलों में क्वारंटाइन के मामले बढ़ गए हैं। पर्थ सरकार पश्चिम ऑस्ट्रेलिया में प्रवेश करने वालों की संख्या में कटौती करने की कोशिश में है।

इसके अलावा उनका कहना है बबल में रहने की थकान भी एक कारण है। उन्होंने कहा, मैंने सोचा कि देश में प्रवेश नहीं मिले, उससे पहले ही रवाना हो जाऊं। बबल में लंबा समय बिताना काफी थकाऊ है।अगस्त से अब तक मैं सिर्फ 11 दिन बबल से बाहर रहा हूं और अब घर जाना चाहता हूं। टाय अलावा रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के केन रिचर्डसन और एडम जंपा ने भी ‘व्यक्तिगत कारणों’ से आईपीएल से हटने का फैसला किया।