BREAKING NEWS

केंद्र सरकार को कम से कम अब हमसे बात करनी चाहिए: शाहीन बाग प्रदर्शनकारी ◾केजरीवाल ने जल विभाग सत्येंन्द्र जैन को दिया, राय को मिला पर्यावरण विभाग ◾कश्मीर पर टिप्पणी करने वाली ब्रिटिश सांसद का भारत ने किया वीजा रद्द, दुबई लौटा दिया गया◾हर्षवर्धन ने वुहान से लाए गए भारतीयों से की मुलाकात, आईटीबीपी के शिविर से 200 लोगों को मिली छुट्टी ◾ जामिया प्रदर्शन: अदालत ने शरजील इमाम को एक दिन की पुलिस हिरासत में भेजा ◾दिल्ली सरकार होली के बाद अपना बजट पेश करेगी : सिसोदिया ◾झारखंड विकास मोर्चा का भाजपा में विलय मरांडी का पुनः गृह प्रवेश : अमित शाह ◾दोषियों के खिलाफ नए डेथ वारंट पर निर्भया की मां ने कहा - उम्मीद है आदेश का पालन होगा ◾TOP 20 NEWS 17 February : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾सीएए के खिलाफ विरोध प्रदर्शन राजनीतिक दुर्भावना से प्रेरित : रविशंकर प्रसाद ◾शाहीन बाग पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा - प्रदर्शन करने का हक़ है पर दूसरों के लिए परेशानी पैदा करके नहीं ◾निर्भया मामले में कोर्ट ने जारी किया नया डेथ वारंट , 3 मार्च को दी जाएगी फांसी◾महिला सैन्य अधिकारियों पर कोर्ट का फैसला केंद्र सरकार को करारा जवाब : प्रियंका गांधी वाड्रा◾शाहीन बाग : प्रदर्शनकारियों से बात करने के लिए SC ने नियुक्त किए वार्ताकार◾सड़क पर उतरने वाले बयान पर कायम हैं सिंधिया, कही ये बात ◾गार्गी कॉलेज मामले में जांच की मांग वाली याचिका पर कोर्ट ने केन्द्र और CBI को जारी किया नोटिस◾SC ने दिल्ली HC के फैसले पर लगाई मोहर, सेना में महिला अधिकारियों को मिलेगा स्थाई कमीशन◾निर्भया मामले को लेकर आज कोर्ट में सुनवाई, जारी हो सकता है नया डेथ वारंट◾शाहीन बाग के प्रदर्शनकारियों को हटाने के लिए निर्देशों की मांग करने वाली याचिकाओं पर SC में सुनवाई आज ◾केजरीवाल की तारीफ पर आपस में भिड़े कांग्रेस नेता देवरा - माकन, अलका लांबा ने भी कस दिया तंज ◾

अनुकूल पिच बनाने की मांग नहीं करते

पुणे : भारतीय गेंदबाजी कोच भरत अरूण अपने गेंदबाजों के प्रदर्शन से खुश हैं कि उन्होंने अपने कौशल के बूते पिच की प्रकृति का असर खुद के प्रदर्शन पर नहीं पड़ने दिया। मोहम्म्द शमी ने विशाखापत्तनम में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले टेस्ट में दूसरी पारी में नीची और धीमी पिच पर शानदार प्रदर्शन किया जबकि इसके स्पिनरों के मुफीद होने की उम्मीद थी जिस पर रविचंद्रन अश्विन ने तब सात विकेट हासिल किये जब बल्लेबाजों को मदद मिल रही थी। 

अरूण ने गेंदबाजी इकाई के साथ बेहतरीन प्रदर्शन किया है, उन्होंने कहा कि हमें जो विकेट मिलते हैं, हम उसकी मांग नहीं करते। हमें दुनिया की नंबर एक टीम बनने के लिये जो भी परिस्थितियां मिले, उन्हें घरेलू हालात के रूप में स्वीकार करना होगा। उन्होंने कहा कि परिस्थितियों पर निर्भर रहने के बजाय हम कौशल पर ध्यान दे रहे हैं। पूर्व भारतीय तेज गेंदबाज ने कहा कि जब हम विदेश जाते हैं तो हम विकेट के ऊपर ध्यान नहीं देते। 

हम कहते हैं कि हम इसे घरेलू परिस्थितियों के रूप में देखेंगे क्योंकि विकेट दोनों टीमों के लिये समान ही है। हम विकेट पर ध्यान देने के बजाय अपनी गेंदबाजी पर काम करेंगे। अरुण ने कहा कि अगर आप देखेंगे कि कैसे डेन पिएडेट ने नौवें और आखिरी विकेट के लिए बल्लेबाजी की..यह उनके जुझारूपन को दर्शाता है। शमी ने दमदार स्पेल किया जो हमें मैच में वापस ले आया, नहीं तो परिस्थितियों को देखते हुए मुकाबला मुश्किल हो सकता था। हमें पता था कि हमें नतीजा पाने के लिए बहुत मेहनत करनी होगी। उस तरह के विकेट पर संयम रखना पड़ता है। 

उन्होंने यह भी कहा कि घरेलू क्रिकेट ने तेज गेंदबाजों को बेहतर होने में बहुत मदद की है। अरुण ने कहा कि हमारे गेंदबाज रिवर्स स्विंग में अच्छे हैं, क्योंकि जब वह घरेलू क्रिकेट खेलते हैं तो विकेट सपाट होती है। आउटफील्ड भी उतनी बेहतरीन नहीं होती। ऐसी परिस्थिति में सफल होने के लिए उन्हें गेंद को रिवर्स स्विंग कराना आना चाहिए और ऐसे घरेलू क्रिकेट हमारे गेंदबाजों की बहुत मदद करता है। 

उन्होंने कहा कि किसी भी पिच पर तेज गेंदबाजों के पास मौका होता है बस शर्त है कि उनके पास जरूरी स्किल होनी चाहिए और हमारे गेंदबाजों ने पिछले कुछ वर्षो में घर पर और घर से बाहर बेहतरीन प्रदर्शन किया है। भारतीय पिचें कई बार स्पिन की सहायता करती हैं और ऐसे में वे रिवर्स स्विंग के लिए अधिक अनुकूल हो जाती हैं। हमारे सभी गेंदबाज रिवर्स स्विंग में काफी अच्छे हैं और यही कारण है कि हम इतने सफल हैं।