BREAKING NEWS

EC ने गृह मंत्रालय को सुरक्षा बलों की 71 अतिरिक्त कंपनियां बंगाल भेजने का दिया निर्देश ◾कूचबिहार फायरिंग मामला : ममता ने आत्मरक्षा वाली दलील पर जताया संदेह, कहा- सरकार कराएगी सीआईडी जांच◾विधानसभा चुनाव : पश्चिम बंगाल में चौथे चरण का मतदान समाप्त, शाम छह बजे तक 76.16 प्रतिशत हुआ मतदान◾UP के इटावा में भीषण सड़क हादसा, श्रद्धालुओं से भरी गाड़ी पलटी, 11 लोगों की मौत◾जावड़ेकर बोले- महाराष्ट्र को टीके की 1.10 करोड़ खुराकें मिल चुकी, 1121 वेंटिलेटर दिए जाएंगे ◾चुनाव में हार सुनिश्चित देख हिंसा के पुराने खेल पर उतर आई हैं ममता: PM मोदी ◾MP: कोरोना के बढ़ते केसों के चलते कई शहरों में लॉकडाउन, कुछ जगहों पर बढ़ाई गई अवधि ◾कर्नाटक में कोरोना का कहर : बेंगलुरु सहित कर्नाटक के 7 जिलों में आज से नाइट कर्फ्यू लागू ◾राहुल गांधी ने देश में कोविड की दूसरी लहर पर गहरी चिंता व्यक्त की◾देश में कोरोना से संक्रमित मरीजों में से 72 % से अधिक महज पांच राज्यों में : स्वास्थ्य मंत्रालय◾कूचबिहार हिंसा मामले में ममता ने केंद्रीय गृह मंत्री का मांगा इस्तीफा, कहा- लोगों की मौत के पीछे अमित शाह ◾CISF की गोलीबारी में चार लोगों की मौत के बाद EC ने सीतलकूची के मतदान केंद्र पर बंद कराई वोटिंग◾कूचबिहार हिंसा के दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करे EC, ‘दीदी’ और उनके गुंडों में हार की है बौखलाहट : PM मोदी◾सोनिया का आरोप- कोरोना महामारी में मोदी सरकार ने किया कुप्रबंधन, टीके की देश में होने दी कमी ◾दिल्ली में नहीं होगा लॉकडाउन, जल्द लगाए जाएंगे नए प्रतिबंध : CM केजरीवाल◾बंगाल चुनाव में स्थानीय लोगों के हमले के बाद केंद्रीय बलों ने की फायरिंग, चार लोगों की मौत◾मोदी हैं सर्वश्रेष्ठ, लोगों को बेवकूफ बनाने के लिए TMC से जुड़े प्रशांत किशोर : लॉकेट चटर्जी◾विफल नीतियों के चलते दोबारा पलायन को मजबूर हैं प्रवासी, सरकार को अच्छे सुझावों से ‘एलर्जी’ : राहुल गांधी ◾वायरल हुई प्रशांत किशोर की ऑडियो, अमित मालवीय बोले- TMC ने भी माना बंगाल में है मोदी लहर ◾हुगली में BJP नेता लॉकेट चटर्जी के काफिले पर हमला, मीडिया वाहनों में हुई तोड़फोड़◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

सौरव गांगुली का खुलासा, सचिन पहली गेंद का सामना नहीं करने के बनाते थे बहाने

पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली ने खुलासा किया है कि कैसे दिग्गज बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर उन्हें हमेशा पहली गेंद का सामना करने के लिए भेजते थे और खुद नॉन स्ट्राइकर छोर पर खड़े होते थे। सचिन और गांगुली की सलामी जोड़ी ने 1996 से 2007 तक 50 ओवरों के मैच में 136 पारियों में 6609 रन बनाए। इसमें 21 शतक और 23 अर्धशतकीय साझेदारी रही है।

मयंक अग्रवाल के साथ बातचीत में गांगुली से जब पूछा गया कि जब आप वनडे में पारी की शुरुआत करते थे तो क्या सचिन पाजी आपको हमेशा पहली गेंद खेलने के लिए कहते थे? गांगुली ने इसका जवाब देते हुए कहा, हमेशा। उन्होंने हमेशा ऐसा किया। उनके (सचिन) पास इसका जवाब भी होता था। मैं उन्हें कहता था कि कभी-कभार आप भी पहली गेंद का सामना करो। हमेशा मुझे ही पहली गेंद खेलने को कहते हो। उनके पास इसके दो जवाब होते थे।

उन्होंने कहा, पहला, 'मुझे लगता है कि मैं अच्छे फॉर्म में हूं और मुझे नॉन-स्ट्राइकर पर ही रहना चाहिए।' वहीं अगर फॉर्म अच्छा न हो तो उनका दूसरा जवाब होता था, 'मुझे नॉन-स्ट्राइकर पर ही रहना चाहिए, इससे मुझ पर दबाव कम होता है।' अच्छे या बुरे फॉर्म के लिए उनके पास एक ही जवाब होता था। 

गांगुली ने साथ ही कहा कि एक बार उन्होंने सचिन को पहली गेंद खेलने के लिए मजबूर किया था। पूर्व कप्तान ने कहा, जब तक तुम उनसे आगे निकलकर नॉन-स्ट्राइकर पर खड़े नहीं हो जाओ, अब सचिन टीवी पर हैं और अब उन्हें पहली गेंद खेलनी पड़ेगी। ऐसा एक या दो बार हुआ है, मैं उनसे आगे निकलकर नॉन-स्ट्राइकर छोर पर खड़ा हो गया।