BREAKING NEWS

मुश्किलों में फंस सकते है कांग्रेस नेता केसी वेणुगोपाल, सीबीआई कसेगी शिकंजा ◾आज का राशिफल (17 अगस्त 2022)◾बिहार में मिशन 35 प्लस के लक्ष्य के साथ नीतीश-तेजस्वी सरकार के खिलाफ मैदान में उतरेगी भाजपा◾PM मोदी और मैक्रों ने भू-राजनीतिक चुनौतियों, असैन्य परमाणु ऊर्जा सहयोग पर चर्चा की◾अपने अंतिम दिनों में, ठाकरे सरकार ने जल्दबाजी में लिए फैसले : CM शिंदे◾ चीनी पोत पहुंचा श्रीलंका हम्बनटोटा बंदरगाह , भारत ने जताई जासूसी की आशंका◾चीनी ‘जासूसी पोत’ पहुंचा श्रीलंकाई बंदरगाह , बीजिंग बोला-जहाज किसी के सुरक्षा हितों के लिए खतरा नहीं◾दिल्ली में फिर से आया कोरोना, 917 नए मामले आये सामने , तीन की मौत◾कांग्रेस संगठन में बड़ा बदलाव, रसूल वानी बने जम्मू-कश्मीर कांग्रेस के अध्यक्ष◾AAP सरकार के पांच महीने पूरे होने पर 5 मंत्रियों ने पेश किया रिपोर्ट कार्ड◾मुंबई पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी, गुजरात की फैक्ट्री में मारा छापा, 1026 करोड़ का नशीला पदार्थ जब्त◾गुजरात दंगों में बिल्कीस बानो दुष्कर्म के दोषी जेल से रिहा, राजनीति का शिकार होने का किया बड़ा दावा◾दिल्ली सरकार ने कोविड संबंधी आंकड़ों के प्रबंधन के लिए बनाई दो टीम, एक सरकारी आदेश में दी जानकारी ◾टारगेट किलिंग पर ओवैसी का फूटा गुस्सा, केंद्र पर निशाना साधते हुए कहा- पंडितों को सुरक्षा प्रदान करने में विफल रहा◾ Haryana: मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर बोले- विदेशी निवेशकों की पहली पसंद बन रहा है हरियाणा◾Mother Dairy hikes Today: मदर डेयर दूध के भी बढ़े दाम, दो रूपये लीटर की हुई बढ़ोतरी, कल से होगा लागू◾खनन से प्रभावित लोगों की भलाई के लिए बड़ा कदम उठाने जा रही है मोदी सरकार, जानिए पूरी जानकारी ◾ट्रंप की संपत्ति से जुड़ी जानकारी छिपा रहा न्याय विभाग, जांच में नुकसान होने का दिया हवाला ◾Rajasthan: गहलोत का सचिन पायलट पर कटाक्ष, कहा- जुमला बन गया है कार्यकर्ताओं का मान-सम्मान◾जम्मू-कश्मीरः सुरक्षाबलों की मौत पर राष्ट्रपति मुर्मू ने जताया दुख, घायलों के शीघ्र स्वस्थ्य होने की कामना की ◾

विराट कोहली के स्पोर्ट में आये वीरेंद्र सहवाग,बेंगलोर की कप्तानी से हटा देने पर इन क्रिकेटर्स की लगाई क्लास

आईपीएल के 13वें सीजन में विराट कोहली की कप्तानी वाली टीम रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर ने चार साल में पहली बार प्लेऑफ में अपनी जगह कायम की थी। इस सीजन में लीग की शुरूआत में एक वक्त ऐसा भी आया जब विराट की कप्तानी वाली टीम अंकतालिका में पहले नंबर पर पहुंच गई थी,मगर फिर ऐसा भी हुआ जब कोहली की टीम नेट रन रेट के आधार पर टॉप चार में जगह बना ली। वहीं इस दौरान आरसीबी ने केकेआर को पछाड़ दिया। मालूम हो आरसीबी की टीम एलिमिनेटर मैच खेलने से ठीक पहले लगातार चार मैच हार भी गई थे। इसके बाद उसे हैदराबाद से खिलाफ हार का सामना करना पड़ा। 

वहीं पूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने कहा है कि विराट कोहली को रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर की कप्तानी से नहीं हटाना चाहिए। बेंगलोर को शुक्रवार को खेले गए लीग के 13वें सीजन के एलिमिनेटर में सनराइजर्स हैदराबाद ने छह विकेट से हरा दिया। बेंगलोर ने 2016 में फाइनल खेला था, लेकिन हैदराबाद ने उसे जीतने नहीं दिया। 2017 में वो आखिरी स्थान पर रही थी और 2018 में वह छठे और 2019 में फिर आखिरी स्थान पर रही थी। 

आरसीबी के इस टूर्नामेंट से बाहर होने के बाद टीम इंडिया के पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर और संजय मांजरेकर ने विराट कोहली को कप्तानी से हटाने की बात बोली। कोहली साल 2013 से आरसीबी की कप्तानी कर रहे हैं और उनकी अगुआई में ये टीम सिर्फ साल 2016 में फाइनल खेली थी जिसके बाद भी टीम को हार मिली थी। 

इसके जवाब में वीरू ने कहा, कप्तान के लिए एक बेहतर टीम होना बेहद जरूरी है। यही विराट कोहली जब भारतीय टीम के कप्तान होते हैं तो नतीजे अलग होते है। वह टेस्ट, वनडे और टी 20 सीरीज जीतते हैं, लेकिन जब बेंगलोर के लिए खेलते हैं तो इनकी टीम उतना अच्छा प्रदर्शन नहीं करती है वो जीतते नहीं है।उन्होंने कहा, मेरा मानना है कि कप्तान के पास अच्छी टीम होनी बहुत जरूरी है। मुझे लगता है कि टीम प्रबंधन को कप्तान बदलने के बारे में नहीं सोचना चाहिए। ये सोचना चाहिए ये टीम और कैसे बेहतर कर सकती है। 

कोहली 2013 से टीम के कप्तान हैं और उनकी कप्तानी में टीम ने आठ सीजनों मे से तीन में ही प्लेऑफ में जगह बनाई है। गंभीर ने आगे ,आठ साल एक टूर्नामेंट में बिना खिताब जीते। आठ साल लंबा समय होता है। मुझे एक कप्तान बता दीजिए, कप्तान भी छोड़िए मुझे एक खिलाड़ी बता दीजिए जो आठ साल किसी टीम से खेला हो और खिताब न जीतने के बाद भी टीम में रहा हो। कप्तान को जिम्मेदारी लेनी होगी।

बाएं हाथ के पूर्व बल्लेबाज ने कहा,यह एक साल की बात नहीं है। यह इस सीजन की ही बात नहीं है। मैं कोहली के खिलाफ नहीं हूं, लेकिन कहीं न कहीं उन्हें कहना होगा कि इसके लिए वो जिम्मेदार हैं।