BREAKING NEWS

पंचतत्व में विलीन हुए श्री अश्विनी कुमार चोपड़ा 'मिन्ना जी' ◾BJP के पूर्व सांसद और वरिष्ठ पत्रकार अश्विनी कुमार चोपड़ा जी का निगम बोध घाट में हुआ अंतिम संस्कार◾पंचतत्व में विलीन हुए पंजाब केसरी दिल्ली के मुख्य संपादक और पूर्व भाजपा सांसद श्री अश्विनी कुमार चोपड़ा◾अश्विनी कुमार चोपड़ा - जिंदगी का सफर, अब स्मृतियां ही शेष...◾करनाल से बीजेपी के पूर्व सांसद अश्विनी कुमार चोपड़ा के निधन पर राजनाथ सिंह समेत इन नेताओं ने जताया शोक ◾अश्विनी कुमार की लेगब्रेक गेंदबाजी के दीवाने थे टॉप क्रिकेटर◾PM मोदी ने वरिष्ठ पत्रकार और पूर्व सांसद अश्विनी चोपड़ा के निधन पर शोक प्रकट किया ◾पंजाब केसरी दिल्ली के मुख्य संपादक और पूर्व भाजपा सांसद श्री अश्विनी कुमार जी को भावपूर्ण श्रद्धांजलि ◾निर्भया गैंगरेप: अपराध के समय दोषी पवन नाबलिग था या नहीं? 20 जनवरी को सुनवाई करेगा सुप्रीम कोर्ट◾सीएए पर प्रदर्शनों के बीच CJI बोबड़े ने कहा- यूनिवर्सिटी सिर्फ ईंट और गारे की इमारतें नहीं◾कमलनाथ सरकार के खिलाफ धरने पर बैठे MLA मुन्नालाल गोयल, घोषणा पत्र में किए गए वादों को पूरा नहीं करने का लगाया आरोप ◾नवाब मलिक बोले- अगर भागवत जबरदस्ती पुरुष की नसबंदी कराना चाहते हैं तो मोदी जी ऐसा कानून बनाए◾संजय राउत ने सावरकर को लेकर कांग्रेस पर साधा निशाना, बोले- विरोध करने वालों को भेजो जेल, तब सावरकर को समझेंगे'◾दोषियों को माफ करने की इंदिरा जयसिंह की अपील पर भड़कीं निर्भया की मां, बोलीं- ऐसे ही लोगों की वजह से बच जाते हैं बलात्कारी◾पाकिस्‍तान: सुप्रीम कोर्ट ने देशद्रोह मामले में फैसले के खिलाफ मुशर्रफ की याचिका पर सुनवाई से किया इनकार ◾सीएए और एनआरसी के खिलाफ लखनऊ में महिलाओं का प्रदर्शन जारी◾NIA ने संभाली आतंकियों के साथ पकड़े गए DSP दविंदर सिंह मामले की जांच की जिम्मेदारी◾वकील इंदिरा जयसिंह की निर्भया की मां से अपील, बोलीं- सोनिया गांधी की तरह दोषियों को माफ कर दें◾ट्रंप ने ईरान के 'सुप्रीम लीडर' को दी संभल कर बात करने की नसीहत◾ राजधानी में छाया कोहरा, दिल्ली आने वाली 20 ट्रेनें 2 से 5 घंटे तक लेट◾

टीम इंडिया के नए कोच के सलेक्शन पर विराट कोहली की नहीं होगी कोई भूमिका, कपिल देव लेंगे फैसला

भारतीय टीम के नए हेड कोच कोच को चुनने में कप्तान विराट कोहली इस बार अपनी राय नहीं दे पाएंगे। बीसीसीआई के एक अधिकारी ने खुद इस बात का खुलासा किया है। बता दें कि अनिल कुंबले ने जब पिछली बारी हेड कोच के पद से इस्तीफा दिया था तो नए कोच को तय करने में विराट कोहली ने दखल किया था। 

अब बीसीसीआई ने कह दिया है कि इस बार भारतीय टीम के मुख्‍य कोच के सलेक्‍शन प्रोससे में कप्तान विराट कोहली अपना दखल नहीं देंगे। कपिल देव हेड कोच की नियुक्ति का फैसला लेंगे और साथ ही सपोर्ट स्टाफ को नियुक्ट करने में जिन तीन दिग्गजों की टीम के मुखिया को बनाना है उसे भी कपिल देव नियुक्‍ति करेंगे। विराट कोहली सहित पूरी टीम को कपिल देव का यह फैसला स्वीकार ही करना होगा। 

सुप्रीम कोर्ट द्वारा बनाई गई कमेटी ऑफ एडमिनिस्ट्रेटर्स यानी सीओए, स्टीयरिंग कमेटी और पूर्व कप्तानी कपिल देव वाली कमेटी ही हेड कोच पर आखिरी फैसला लेगी। बीसीसीआई के एक अधिकारी के अनुसार, पिछली बार कप्तान विराट कोहली ने अनिल कुबले के साथ अपनी और टीम की परेशानी का जिक्र किया था। 

लेकिन, इस बार नए कोच को लेकर वो कुछ नहीं कर पाएंगे। आखिरी फैसला कपिल देव वाली कमेटी को करना है जो विराट की एक नहीं सुनेंगे। पूर्व हेड कोच अनिल कुंबले और कप्तान विराट कोहली के बीच 2017 में मतभेद हो गया था जिसके बाद कुंबले ने कोच के पद को छोड़ दिया था। 

उसके बाद सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली और वीवीएस लक्ष्मण वाली क्रिकेट एडवाइजरी कमेटी ने विराट कोहली के कहने पर टीम का हेड कोच रवि शास्‍त्री को बना दिया। रवि शास्‍त्री ने उसकेे बाद टीम के बैटिंग कोच, बॉलिंग कोच और फील्डिंग कोच खुद चुने और बनाए। 

सीनियर टीम के मुख्य कोच, बैटिंग कोच, बॉलिंग कोच, फील्डिंग कोच, फीजियो, स्ट्रेंथ एंड कंडीशनिंग कोच और एडमिनिस्ट्रेटिव मैनेजर के पद पर बीसीसीआई ने खुद वैकेंसी निकाली हैं।

 इनविटेशन के मुताबिक 5 सितंबर 2019 से 24 नवंबर 2021 तक नए कोचिंग स्टाफ का कार्यकाल होगा। इसके अलावा टीम में एडमिनिस्ट्रेटिव मैनेजर को 1 साल के लिए भी अपाइंट किया जाएगा।