BREAKING NEWS

महाराष्ट्र : सीएम शिंदे की जान को खतरा, बढाई गई सुरक्षा◾सियासत के धरती पुत्र मुलायम सिंह की बिगड़ी तबीयत, आईसीयू में शिफ्ट◾उद्धव गुट में टूट जारी, वर्ली के 3000 शिवसैनिकों ने थामा शिंदे गुट का दामन ◾फिर उबाल मार रहा हैं खालिस्तान मूवमेंट, बठिंडा में दीवार पर लिखे गए खालिस्तान समर्थक नारे◾पुलवामा में आतंकी हमला, एक पुलिस जवान शहीद, सशस्त्र बल का जवान घायल ◾बीजेपी ने नीतीश कुमार को दी सलाह, कहा - आपकी विदाई तय, बांध लें बोरिया-बिस्तर◾Congress President Election: कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव क्यों लड़ रहे हैं मल्लिकार्जुन खड़गे? बताया पूरा प्लान ◾खड़गे से खुले आसमान के नीचे बहस करने के लिए तैयार हूं - शशि थरूर ◾ महात्मा गांधी की विरासत को हथियाना आसान पदचिन्हों पर चलना मुश्किल : राहुल गांधी ◾मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने महात्मा गांधी, लाल बहादुर शास्त्री को श्रद्धांजलि अर्पित की◾इस बात पर गौर किया जाना चाहिए कि नए मुख्यमंत्री के नाम पर विधायकों में नाराजगी क्यों है : गहलोत◾पायलट को बीजेपी का खुला ऑफर, घर लक्ष्मी आए तो ठुकराए नहीं ◾राजस्थान में बढ़ा सियासी बवाल, अशोक गहलोत ने विधायकों की बगावत पर दिया बड़ा बयान◾राजद नेताओं पर जगदानंद सिंह ने लगाई पाबंदिया, तेजस्वी यादव पर टिप्पणी ना करने की मिली सलाह ◾ इयान तूफान के कहर से अमेरिका में हुई जनहानि पर पीएम मोदी ने जताई संवेदना ◾महात्मा गांधी की ग्राम स्वराज अवधारणा से प्रेरित हैं स्वयंपूर्ण गोवा योजना : सीएम सावंत◾उत्तर प्रदेश: अखिलेश यादव पर राजभर ने कसा तंज, कहा - साढ़े चार साल खेलेंगे लूडो और चाहिए सत्ता◾ पीएम मोदी ने गांधी जयंती पर राजघाट पहुंचकर बापू को किया नमन, राहुल से लेकर इन नेताओं ने भी राष्ट्रपिता को किया याद ◾महाराष्ट्र: शिंदे सरकार का कर्मचारियों के लिए नया अध्यादेश जारी, अब हैलो या नमस्ते नहीं 'वंदे मातरम' बोलना होगा◾Gandhi Jayanti: संयुक्त राष्ट्र की सभा में 'प्रकट' हुए महात्मा गांधी, 6:50 मिनट तक दिया जोरदार भाषण◾

BJP ने नकवी को नहीं दिया राज्यसभा का टिकट, क्या रामपुर से किस्मत आजमाएंगे केंद्रीय मंत्री?

भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने राज्यसभा चुनावों के लिए उत्तर प्रदेश से अपने उम्मीदवारों की दूसरी लिस्ट जारी कर दी है। बीजेपी ने राज्यसभा के लिए केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी को उम्मीदवार नहीं बनाया है, जबकि नकवी समेत एमजे अकबर और सैयद जफर इस्लाम का कार्यकाल समाप्त हो रहा है।

पार्टी ने जिन दो लोगों को टिकट दिया है, उनमें यूपी के शाहजहांपुर के रहने वाले मिथिलेश कुमार शामिल हैं। वह दलित समुदाय से आते हैं और समाजवादी पार्टी के लोकसभा सांसद भी रह चुके हैं। माना जा रहा है कि बीजेपी ने उनका नाम घोषित कर बड़ा समीकरण साध लिया है। 

वहीं केंद्रीय मंत्री नकवी का नाम शमिल नहीं करना इस ओर इशारा कर रहा है कि क्या रामपुर लोकसभा सीट से नकवी उपचुनाव में किस्मत आजमाएंगे? दरअसल, बीजेपी ने राज्यसभा के लिए कुल 22 सीटों पर अपने उम्मीदवारों के नाम का ऐलान किया है, जिसमें केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी सहित किसी भी मुस्लिम नेता का नाम शामिल नहीं है।

क्यों है उपचुनाव के कयास?

नकवी के रामपुर से लोकसभा उपचुनाव लड़ने की संभावनाओं को खारिज नहीं किया जा सकता, क्योंकि 1998 में पहली बार इसी रामपुर से जीतकर नकवी सांसद और अटल बिहारी वाजपई सरकार में सूचना और प्रसारण मंत्री बने थे। बीजेपी में नकवी ने अपनी एक अलग पहचान बनाई है।

दरअसल, रामपुर लोकसभा सीट से आजम खान के इस्तीफा देने के बाद उपचुनाव की घोषणा हो चुकी है। ऐसे में बीजेपी इस सीट को समाजवादी पार्टी के हाथ से छीनने के तमाम प्रयास करने की कोशिश में है। इसकी एक बड़ी वजह यह है कि रामपुर सीट से नकवी चुनाव लड़ते रहे हैं।

रामपुर सीट से नकवी तीन बार किस्मत आजमा चुके हैं और 1998 में सांसद बने थे, लेकिन 1999 और 2009 में भी चुनाव लड़े पर जीत नहीं सके। इस तरह नकवी 1998 के  बाद कोई भी लोकसभा चुनाव जीत नहीं पाए और 2016 से उन्हें पार्टी ने झारखंड से राज्यसभा में भेजा।