BREAKING NEWS

पंजाब: NDA में पूरा हुआ बंटवारे का दौर, नड्डा ने किया ऐलान- 65 सीटों पर BJP लड़ेगी चुनाव, जानें पूरा गणित ◾शरजील इमाम पर चलेगा देशद्रोह का मामला, भड़काऊ भाषणों और विशेष समुदाय को उकसाने के लगे आरोप ◾ गणतंत्र दिवस: 25-26 जनवरी को दिल्ली मेट्रो की पार्किंग सेवा रहेगी बंद, जारी की गई एडवाइजरी◾महिला सशक्तिकरण की बात कर रही BJP की मंत्री हुई मारपीट की शिकार, ऑडियो वायरल, जानें मामला? ◾UP चुनाव: SP को लगा तीसरा बड़ा झटका, BJP में शामिल हुए विधायक सुभाष राय, टिकट कटने से थे नाराज ◾देश में कोरोना के मामलों में 15 फरवरी तक आएगी कमी, कुछ राज्यों और मेट्रो शहरों में कम हुए कोविड केस◾UP चुनाव: BJP के साथ गठबंधन नहीं होने के जिम्मेदार हैं आरसीपी, JDU अध्यक्ष बोले- हमने किया था भरोसा.. ◾फडणवीस का उद्धव ठाकरे को जवाब, बोले- 'जब शिवसेना का जन्म भी नहीं हुआ था तब से BJP...'◾BJP ने जारी की पांचवी सूची, महज एक उम्मीदवार के नाम की हुई घोषणा, UP कोर ग्रुप की बैठक में मंथन जारी ◾राष्ट्रीय बाल पुरस्कार: PM मोदी ने बच्चों से "वोकल फॉर लोकल’’ अभियान को आगे बढ़ाने का किया आग्रह◾गोवा चुनाव: TMC ने उठाए BJP की मंशा पर सवाल, कहा- 'डबल इंजन सरकार' का नारा तानाशाही का संकेत ◾राहुल गांधी ने केंद्र को घेरा, कहा- गरीब और मध्य वर्ग के लोग सरकार की ‘आर्थिक महामारी’ के शिकार हुए◾विधानसभा चुनावः दिल्लीवासियों से केजरीवाल ने चार राज्यों में प्रचार के लिए मांगी मदद ◾MP में नए 'स्टील्थ ओमीक्रॉन' ने दी दस्तक, इंदौर में 21 मामले आए सामने, फेफड़ों पर हो रहा संक्रमण का असर ◾राकेश टिकैत ने हिंदू-मुस्लिम और जिन्ना को बताया सरकारी मेहमान, बोले-सरकार के प्रवचन में नहीं आना◾भगवा खेमे का अभेद्य किला बनी हुई है 'गोरखपुर सीट', अखिलेश ने शिवप्रताप को दिया खुला ऑफर, जानें रणनीति ◾अखिलेश के बयान पर भाजपा ने घेरा, पाकिस्तान को भारत का असली दुश्मन नहीं मानने का लगाया आरोप ◾अल्पसंख्यक समुदाय के साथ की आस में BJP, RSS की मुस्लिम शाखा ने चलाया अभियान, धर्म संसद पर कहा... ◾UP चुनाव: सियासी मझधार में सपा और सहयोगी दलों का गठबंधन, सीट बंटवारे को लेकर कशमकश की स्थिति ◾BJP गठबंधन वाले दलों को हड़पकर उन्हें खत्म कर देती है : नवाब मलिक◾

ओवैसी ने दरगाह शरीफ पर चढ़ाई चादर, BJP बोली-AIMIM प्रमुख की यात्रा महाराजा सुहेलदेव का अपमान

उत्तर प्रदेश में AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी की बहराइच में दरगाह यात्रा को लेकर बीजेपी और ओम प्रकाश राजभर की पार्टी सुभासपा के बीच विवाद शुरू हो गया है। दरअसल, ओवैसी ने बहराइच की अपनी यात्रा के दौरान गुरुवार शाम को मध्यकालीन गजनविद जनरल गाजी सैय्यद सालार मसूद उर्फ गाजी मियां की दरगाह का दौरा किया और चादर चढ़ाई।

उत्तर प्रदेश के मंत्री अनिल राजभर ने कहा कि एआईएमआईएम और सुभासपा गठबंधन पिछड़े राजभर समुदाय का अपमान है। उन्होंने कहा, "ओवैसी की दरगाह की यात्रा महाराजा सुहेलदेव का अपमान है, जो 11वीं सदी के शासक थे। उनके बारे में कहा जाता है कि उन्होंने 1034 ईस्वी में बहराइच में एक युद्ध में मसूद को हराकर मार डाला था।"

मंत्री ने कहा कि बीजेपी सरकार बहराइच के चितौरा में स्मारक बनाकर और मूर्ति स्थापित कर सुहेलदेव के गौरव को बहाल करने का काम कर रही है। उन्होंने कहा, 'भागीदारी संकल्प मोर्चा' के नेताओं ने महाराजा सुहेलदेव को सम्मान देने वाले हिंदू समुदाय की भावनाओं को ठेस पहुंचाई है।

मेरठ की सरधना विधानसभा सीट से भारतीय जनता पार्टी के विधायक संगीत सोम ने भी इस मुद्दे पर ओवैसी और ओम प्रकाश राजभर पर जमकर निशाना साधा। सुभासपा प्रमुख ओम प्रकाश राजभर ने कहा कि बीजेपी नेता महाराजा सुहेलदेव और सालार मसूद के मुद्दे पर एआईएमआईएम और सुभासपा के बीच दरार पैदा करने की कोशिश कर रहे थे क्योंकि उन्हें डर था कि ओबीसी (अन्य पिछड़ा वर्ग) मतदाता विधानसभा चुनाव में बीजेपी का समर्थन नहीं करेंगे। 

उन्होंने कहा, 'सुभासपा एआईएमआईएम के साथ मिलकर विधानसभा चुनाव लड़ेगी। हम विधानसभा चुनाव जीतने के लिए पिछड़ा-मुस्लिम और दलित एकता पर काम करेंगे।" ओवैसी ने बीजेपी नेताओं पर भी पलटवार करते हुए कहा, 'हम सर्कस के जोकर नहीं बल्कि रिंग मास्टर हैं और सभी हमारी धुन पर नाचेंगे।" उन्होंने आरोप लगाया कि बीजेपी अप्रासंगिक मुद्दों को उठाकर राज्य सरकार द्वारा कोविड के कुप्रबंधन से ध्यान हटाने की कोशिश कर रही है। 

ओवैसी ने कहा कि एआईएमआईएम 2022 का विधानसभा चुनाव सुभासपा के नेतृत्व वाले भागीदारी संकल्प मोर्चा के साथ मिलकर लड़ेगी, जो 2017 के विधानसभा चुनाव के दौरान किए गए वादों को निभाने में बीजेपी सरकार की विफलता को उजागर करेगा।