BREAKING NEWS

कोरोना की चपेट में आया सऊदी का शाही परिवार, किंग सलमान आइसोलेशन में◾Coronavirus : महाराष्ट्र में 24 घंटे के भीतर 25 मौतें, राज्‍य में 1,364 लोग संक्रमित ◾कोविड-19 : राजधानी दिल्ली में कोरोना के 51 नए मामले, राज्य में संक्रमितों की संख्या 720 तक पहुंची◾डॉक्टरों के साथ दुर्व्यवहार करने वालों के खिलाफ की जाएगी सख्त कार्रवाई : CM केजरीवाल◾शिया वक्फ बोर्ड ने तबलीगी जमात पर लगाया गंभीर आरोप, कहा- 1 लाख से ज्यादा लोग मारने की बनाई थी योजना◾कोरोना वायरस : स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा- देश में आवश्यक उपकरणों का स्टॉक मौजूद, PPE और वेंटिलेटर की खरीद शुरु◾देश में कोरोना फैलने के लिए अनिल देशमुख ने दिल्ली पुलिस को ठहराया जिम्मेदार◾कोरोना संकट से जारी जंग में मदद के तौर पर केंद्र सरकार ने राज्यों के लिए आपात पैकेज की दी मंजूरी◾महाराष्ट्र कैबिनेट ने उद्धव ठाकरे को MLC बनाने का लिया निर्णय, राज्यपाल को भेजेंगे प्रस्ताव ◾कोरोना संकट : ओडिशा सरकार ने 30 अप्रैल तक बढ़ाई लॉकडाउन की अवधि, केंद्र से किया ये अनुरोध◾गुजरात में कोरोना के 55 नए मरीज, अकेले अहमदाबाद के 50 लोग हुए संक्रमित◾PM मोदी ने किया ट्रम्प का समर्थन, कहा- मुश्किल वक्त ही दोस्तों को लाती है करीब◾जमात प्रमुख मौलाना साद के ठिकाने का हुआ खुलासा, पुलिस फिलहाल नहीं करेगी पूछताछ ◾झारखंड में कोरोना वायरस से 1 की मौत, मरीजों की संख्या एक दिन में तिगुनी हुई ◾Coronavirus : अमेरिका में मरने वालों की संख्या 14000 के पार, 11 भारतीयों के मौत की पुष्टि◾चीन में कोविड-19 के 63 नए मामलें सामने आए, अबतक करीब 3,335 लोगों की हुई मौत ◾पूरे विश्व कोरोना वायरस का कहर जारी, अब तक वायरस से संक्रमितों की संख्या 15 लाख से अधिक हुई ◾कोविड-19 : देश में 5,734 संक्रमित मामलों की पुष्टि वहीं 166 लोगों की अब तक मौत◾Covid-19 : दवा मिलने पर भारत के फैसले से डोनाल्ड ट्रम्प के सुर बदले नजर आए, कहा- थैंक्यू PM मोदी ◾कोरोना संकट : सरकार ने 20 करोड़ महिलाओं के जनधन खातों में पांच-पांच सौ रूपये की सहायता राशि डाली ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaLast Update :

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

सीएए प्रदर्शन : कबीर रिकवरी नोटिस पर बोले- उल्टे हमें सरकार से मुआवजा चाहिए, हमारी छवि खराब की गई

सीएए (Amended citizenship law) के खिलाफ राजधानी में प्रदर्शन के दौरान हिंसा भड़काने के आरोपी सामाजिक कार्यकर्ता एवं संस्कृतिकर्मी दीपक कबीर ने रिकवरी नोटिस (Recovery notice) को लेकर गुरूवार को (यानी आज) कहा कि हमें उल्टे योगी सरकार से मुआवजा चाहिए क्योंकि हमारी छवि खराब की गयी है। कबीर ने कहा, ''रिकवरी नोटिस बेबुनियाद है। 

आदेश अभी नहीं मिला है। जब मिलेगा तो अदालत में चुनौती देंगे। प्रशासन को भी सोचना चाहिए कि यह नागरिकों का उत्पीड़न है।'' उन्होंने कहा, ''सामाजिक रूप से सक्रिय जागरूक लोगों और बेगुनाहों को क्यों पकड़ेंगे ? हमें उल्टे सरकार से मुआवजा चाहिए। हमारी छवि खराब की गई। 

हम पुलिस के खिलाफ भी अदालत में जाएंगे। हमारा नुकसान हुआ है। पुलिस और प्रशासन की इस तरह की दमनपूर्ण कार्रवाई से सरकार की छवि भी खराब हो रही है ।'' कबीर ने बताया कि जेल में पिछले साल 30 दिसंबर को शाम छह बजे नोटिस आया था कि सात दिन के अंदर एडीएम वैभव मिश्रा के यहां पेश होना है और जवाब दाखिल करना है। 

उन्होंने बताया ‘‘जेल के अंदर रहते हुए जेल अधीक्षक के माध्यम से हमने एक पत्र भेजा था कि हम जेल में, न्यायिक हिरासत में हैं। ऐसे में आपको हमें हाजिर करवाना है तो उचित आदेश कराइये या फिर हमें वक्त दीजिए ताकि हम अपने वकील से बात कर जवाब तैयार करवा पायें । उसके बाद हमें इसका कोई फीडबैक प्रशासन की ओर से नहीं मिला कि इस पत्र को उन्होंने कैसे संज्ञान में लिया। 

जमानत मिलने के बाद हम इंतजार करते रहे।’’ उन्होंने कहा, ''अचानक रिकवरी नोटिस भेज दिया गया। हम खुद प्रदर्शन में गये थे और हमें गिरफ्तार कर लिया। थर्ड डिग्री का इस्तेमाल किया । सामाजिक छवि धूमिल की गयी। हम पर संगीन धाराएं लगाई गईं और फिर जब अदालत ने पूछा तो एक भी साक्ष्य नहीं था । 18 धाराएं लगायी थीं लेकिन एक भी साक्ष्य नहीं था, जिसकी वजह से जज ने एक ही बार में जमानत दे दी । एक भी सबूत नहीं पेश कर पाये ।''