BREAKING NEWS

देश को लॉकडाउन से बचाना है, राज्य लॉकडाउन को अंतिम विकल्प मने : PM मोदी ◾कोविड ने लगाया लालू यादव की रिहाई में अड़ंगा, जेल से बाहर आने के लिए करना होगा एक सप्ताह का इंतजार◾UP: पिछले 24 घंटे के दौरान कोविड-19 से 163 लोगों की गई जान, सामने आए 29754 नए मरीज ◾दिल्ली के अस्पतालों में ऑक्सीजन की भारी कमी, कुछ घंटों के लिए ही बची: अरविंद केजरीवाल◾मीडिया दिखा रही है लाशों के ढेर, आम लोगों के बीच के बीच फैल रही महामारी की दहशत: विजयवर्गीय ◾महाराष्ट्र में सख्त हुई कोविड पाबंदियां, दिन में चार घंटे ही खुलेंगी सभी दुकानें◾ममता ने पीएम मोदी को लिखा पत्र, केंद्र की टीकाकरण नीति को ‘खोखला और अफसोसनाक दिखावा’ बताया◾PM ने छवि चमकाने के लिए विदेशों में बांटी वैक्सीन, अपने देश में भंडार खाली होने पर की बिक्री शुरू : ममता ◾कोरोना संक्रमण के नए मामलों के 77 फीसदी से ज्यादा केस 10 राज्यों से आए सामने ◾कोरोना की वजह से स्थगित हुई UGC-NET की परीक्षा, 15 दिन पहले होगा नई तारीखों का ऐलान◾कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए झारखंड में 22 अप्रैल से एक सप्ताह का लॉकडाउन ◾दिल्ली मेट्रो ने लॉकडाउन के लिए परिचालन योजना में फिर किया बदलाव, पीक आवर्स में होगा 15 मिनट का गैप ◾कोरोना से संक्रमित हुए राहुल गांधी, संपर्क में आए लोगों से की सावधानी बरतने की अपील◾दिल्ली में महामारी का कहर : अरविंद केजरीवाल की पत्नी कोरोना पॉजिटिव, होम क्वारंटाइन में गए CM◾UP में वीकेंड लॉकडाउन का ऐलान, शुक्रवार रात से लगातार 35 घंटे तक जारी रहेगा कोरोना कर्फ्यू◾राहुल समेत दिग्गज कांग्रेस नेताओं का आरोप - टीकाकरण को लेकर सरकार की रणनीति भेदभाव वाली◾केजरीवाल ने लोगों से की अपील, कहा- लॉकडाउन आपकी सुरक्षा के लिए लगाया गया, संक्रमण से बचकर रहें◾UP के पांच शहरों में लॉकडाउन लगाने के इलाहबाद HC के फैसले पर SC ने लगाई रोक◾सिब्बल का वार-चुनाव जीतने के लिए PM अपनी सभी शक्तियों का कर रहे हैं प्रयोग लेकिन कोविड के लिए नहीं◾5 शहरों में लॉकडाउन लगाने के इलाहाबाद HC के आदेश के खिलाफ SC पहुंची योगी सरकार◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

हाथरस हत्याकांड मामले में सीबीआई घटनास्थल की कर रही है छानबीन, परिजनों से की पूछताछ

उत्तर प्रदेश के हाथरस में युवती के साथ हुए कथित दुष्कर्म तथा मौत के मामले में शुक्रवार को सीबीआई की टीम सीन रिक्रिएट कर रही है। सीबीआई ने घटनास्थल पर छानबीन की। इस दौरान बिटिया की मां व बड़ा भाई साथ में मौजूद दिखाई दिए। घटनास्थल पर गहनता से पूछताछ की जा रही है।

सीआरपीएफ का खेत के चारों तरफ कड़ा पहरा है। सीबीआई की टीम सुबह ही गांव पहुंची और पीड़िता के परिजनों के साथ भेंट की। थोड़ी देर तक पूछताछ के बाद सीबीआई की टीम मृत युवती की मां तथा भाई को लेकर घटनास्थल पर पहुंची। यहां पर सीबीआई की टीम घटना के सीन रिक्रिएशन में लग गई है।

सीन रिक्रिएशन के लिए सीबीआई की टीम घटनास्थल पर हर पहलू की पड़ताल कर रही है। सीबीआई की टीम ने घटनास्थल पर मां से करीब 50 मिनट बात की। इस दौरान मृत युवती के भाई को वहां से दूर बैठाया गया। इसके बाद सीबीआई ने मृतका के भाई से करीब 25 मिनट तक पूछताछ की। सीन रिक्रिएशन में एक महिला कॉन्टेबल ने जमीन पर गिरी मां को उसी अंदाज में उठाया, जैसे मां ने 14 सितंबर को अपनी बेटी को उठाया था।

सीआरपीएफ की कड़ी सुरक्षा में सीन रिक्रिएट कर रही सीबीआई की टीम ने मीडिया को क्राइम स्थल पर जाने से रोका है। मीडिया को 250 मीटर दूर रखा गया है। ग्रामीण पूरे नजारे को देखना चाहते थे, लेकिन पाबंदी के चलते देख नहीं पाए। बिटिया के घर पर तैनात सीआरपीएफ के जवान वहां आने-जाने वाले हर व्यक्ति का ब्योरा दर्ज कर रहे हैं।

बिटिया के परिजनों से अभी भी बाहर से लोग आकर मिल रहे हैं। बृहस्पतिवार को राष्ट्रीय दलित बचाओ आंदोलन का प्रतिनिधिमंडल बिटिया के घर पहुंचा। इन लोगों ने विस्तार से पूरे मामले की जानकारी ली और हर संभव मदद का भरोसा दिलाया। मृतका के स्वजन से विभिन्न संगठनों के लोगों का मिलना फिर से शुरू हो गया है। सीबीआई जांच शुरू होने के कारण 20 दिन से बाहरी संगठनों का आवागमन बंद रहा था।

अब एक बार फिर दिल्ली और दूर दराज के लोग मृतका के परि

वार से मिलने के लिए आ रहे हैं। ज्ञात हो कि हाथरस के बूलगढ़ी गांव में 14 सितंबर को दलित युवती के साथ कथित सामूहिक दुष्कर्म हुआ था। इस दौरान उसके साथ मारपीट भी की गई, जिसमें वह गंभीर रूप से घायल हो गई थी। बाद में उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां उसकी मौत हो गयी। इस पूरे मामले की तहकीकात सीबीआई के हांथों में है।