BREAKING NEWS

केजरीवाल का खुलासा - स्टेडियमों को जेल बनाने के लिए डाला गया दबाव पर मैंने अपने जमीर की सुनी◾प्रदर्शनकारी किसानों ने केंद्र सरकार से कहा: कृषि कानूनों को निरस्त करने के लिए संसद का विशेष सत्र बुलाएं ◾ध्वनि प्रदूषण रोकने के लिये मस्जिदों में लाउडस्पीकरों के इस्तेमाल पर रोक लगाए केन्द्र : शिवसेना◾किसान आंदोलन को लेकर केजरीवाल का निशाना - क्या ईडी के दबाव में हैं पंजाब के CM 'कैप्टन अमरिंदर' ◾कैनबरा वनडे : आखिरी मैच जीत भारत ने बचाई लाज, आस्ट्रेलिया को 13 रनों से दी शिकस्त◾एक्ट्रेस रिया चक्रवर्ती के भाई शोविक को मिली जमानत, सुशांत केस में ड्रग्स लेन-देन का आरोप◾फिल्म उद्योग को मुंबई से बाहर ले जाने का कोई इरादा नहीं, ये खुली प्रतिस्पर्धा है : योगी आदित्यनाथ ◾राहुल ने केंद्र पर साधा निशाना, कहा- सरकार ‘बातचीत का ढकोसला’ बंद करे ◾किसान आंदोलन : राजस्थान में कृषि कानूनों के खिलाफ विरोध की सुदबुदाहट, सीमा पर जुटने लगे किसान◾ सब्जियों के दामों पर दिखा किसान आंदोलन का असर, बाजारों में रेट बढ़ने के आसार ◾'अश्विनी मिन्ना' मेमोरियल अवार्ड में आवेदन करने के लिए क्लिक करें ◾योगी के मुंबई दौरे पर घमासान, मोहसिन रजा बोले - अंडरवर्ल्ड के जरिए बॉलीवुड को धमकाया जा रहा है ◾टकराव के बीच भी इंसानियत की मिसाल, प्रदर्शनकारियों के साथ - साथ पुलिसकर्मियों के लिए भी लंगर सेवा ◾ब्रिटेन ने फाइजर-बायोएनटेक की कोविड वैक्सीन को दी मंजूरी, अगले हफ्ते से शुरू होगा टीकाकरण◾किसान आंदोलन : आगे की रणनीति पर चल रही संगठनों की बैठक, गृह मंत्री के घर पर हाई लेवल मीटिंग ◾किसान आंदोलन को लेकर राहुल का केंद्र पर वार- यह ‘झूठ और सूट-बूट की सरकार’ है◾किसान आंदोलन : टिकरी, झारोदा और चिल्ला बॉर्डर बंद, दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने जारी की रूट एडवाइजरी ◾TOP 5 NEWS 02 DECEMBER : आज की 5 सबसे बड़ी खबरें ◾कोविड-19 : देश में पिछले 24 घंटे में 36 हजार नए केस की पुष्टि, संक्रमितों का आंकड़ा 95 लाख के करीब ◾रक्षा मंत्री जनरल वी बोले- चीन और पाक सैन्य संबंध को चुनौतियों से निपटने के लिए नयी ऊंचाई पर ले जाना चाहिए◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

आरोपी की हिरासत में मौत, थानाध्यक्ष के खिलाफ हत्या और घूसखोरी का मामला दर्ज

अनुसूचित जाति की युवती से छेड़छाड़ के आरोपी युवक की शुक्रवार को पुलिस हिरासत में मौत होने के बाद थानाध्यक्ष सहित 6 पुलिस कर्मियों को निलंबित कर दिया गया। थानाध्यक्ष और तीन पुलिस वालों के खिलाफ हत्या, घूसखोरी और अन्य अपराध संबंधी धाराओं में मामला दर्ज किया गया है।

पुलिस अधीक्षक अनूप कुमार सिंह ने शनिवार को बताया, गिलौला थाना क्षेत्र के दर्जीपुरवा गांव निवासी वाजिद अली के खिलाफ पिछले माह अनुसूचित जाति की युवती से छेड़छाड़ और SC/ST एक्ट के तहत मामला दर्ज करवाया गया था। इसी सिलसिले में वाजिद अली को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया था। शुक्रवार को हिरासत के दौरान युवक का शव थाने की हवालात में स्थित शौचालय में गमछे से लटकता मिला। उसे स्थानीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया, जहां हालत नाजुक देख उसे बहराइच जिला अस्पताल भेजा गया, जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

एसपी ने कहा, अली के पिता ने शिकायत दर्ज कराई है कि उनके पुत्र को दो- तीन दिन से थाने में अवैध हिरासत में रखा गया था। पिता ने पुलिस पर भ्रष्टाचार के भी आरोप लगाए हैं। इस पर पुलिस अधीक्षक ने बताया, थाना प्रभारी इंस्पेक्टर विनोद कुमार, तीन सब इंस्पेक्टर और दो अन्य पुलिस कर्मियों को तत्काल प्रभाव से निलंबित किया गया है। मृतक के पिता मोहम्मद उमर की तहरीर पर थाना प्रभारी के साथ दो अन्य पुलिसकर्मियों के खिलाफ हत्या, भ्रष्टाचार व अवैध रूप से हिरासत में रखने का मामला दर्ज कराया गया है। 

लखनऊ मेट्रो ने स्वास्थ्य और सुरक्षा की तैयारियां पूरी की, 7 सितंबर से परिचालन होगा शुरू

यूपी पुलिस अधीक्षक स्तर के अधिकारी द्वारा विवेचना और विभागीय जांच कराई जा रही है।जिलाधिकारी ने घटना की मजिस्ट्रेटी जांच के आदेश दिए हैं। मामले में निष्पक्ष जांच होगी। जो भी दोषी पाया जाएगा उसे बख्शा नहीं जाएगा। पुलिस अधीक्षक ने कहा, आरोपी पुलिस कर्मियों की गिरफ्तारी की जाएगी। घटना को लेकर मृतक के परिजन और ग्रामीण थाना परिसर के आसपास शुक्रवार को काफी देर तक हंगामा करते रहे। अधिकारियों व जनप्रतिनिधियों द्वारा कार्रवाई के आश्वासन पर लोग शांत हुए। 

उधर मृतक के भाई ने पत्रकारों के समक्ष आरोप लगाया कि दोनो परिवारों के बीच जमीन का विवाद चल रहा था। विरोधी पक्ष ने पहले वाजिद अली की पिटाई की और बाद में रिपोर्ट लिखाकर पुलिस से गिरफ्तार करा दिया। अली के भाई ने दावा लगाया, वाजिद अली को कई दिन से थाने पर लाकर रखा गया था। युवक को छोड़ने के एवज में थाना प्रभारी की मांग पर 50 हजार रूपए घूस दी गयी थी, दो लाख रूपए और मांगे जा रहे थे। दो लाख रुपये नहीं दे पाने के कारण पुलिस ने वाजिद अली को मार दिया