BREAKING NEWS

भारत में होने जा रहा कोरोना की तीसरी लहर का आगाज? ओमीक्रॉन के खतरे के बीच मुंबई लौटे 109 यात्री लापता ◾देश में आखिर कब थमेगा कोरोना महामारी का कहर, पिछले 24 घंटे में संक्रमण के इतने नए मामलों की हुई पुष्टि ◾लोकसभा में न्यायाधीशों के वेतन में संशोधन की मांग वाले विधेयक पर होगी चर्चा, कई दस्तावेज भी होंगे पेश ◾PM मोदी के वाराणसी दौरे से पहले 'गेरुआ' रंग में रंगी गई मस्जिद, मुस्लिम समुदाय में नाराजगी◾ओमीक्रॉन के बढ़ते खतरे के बीच दिल्ली फिर हो जाएगी लॉकडाउन की शिकार? जानें क्या है सरकार की तैयारी ◾यूपी : सपा और रालोद प्रमुख की आज मेरठ में संयुक्त रैली, सीट बटवारें को लेकर कर सकते है घोषणा ◾दिल्ली में वायु गुणवत्ता 'बहुत खराब' श्रेणी में दर्ज, प्रदूषण को कम करने के लिए किया जा रहा है पानी का छिड़काव ◾विश्व में वैक्सीनेशन के बावजूद बढ़ रहे है कोरोना के आंकड़े, मरीजों की संख्या हुई इतनी ◾सदस्यीय समिति को अभी तक सरकार से नहीं हुई कोई सूचना प्राप्त,आगे की रणनीति के लिए आज किसान करेंगे बैठक ◾ पीएम मोदी आज गोरखपुर को 9600 करोड़ रूपये की देंगे सौगात, खाद कारखाना और AIIMS का करेंगे लोकार्पण◾रूसी राष्ट्रपति पुतिन ने भारत को एक बहुत बड़ी शक्ति, वक्त की कसौटी पर खरा उतरा मित्र बताया◾पंजाब के मुख्यमंत्री ने पाकिस्तान के साथ सीमा व्यापार खोलने की वकालत की◾महाराष्ट्र में आए ओमिक्रॉन के 2 और नए केस, जानिए अब कितनी हैं देश में नए वैरिएंट की कुल संख्या◾देश में 'ओमिक्रॉन' के बढ़ते प्रकोप के बीच राहत की खबर, 85 फीसदी आबादी को लगी वैक्सीन की पहली डोज ◾बिहार में जाति आधारित जनगणना बेहतर तरीके से होगी, जल्द बुलाई जाएगी सर्वदीय बैठक: नीतीश कुमार ◾कांग्रेस ने पंजाब चुनाव को लेकर शुरू की तैयारियां, सुनील जाखड़ और अंबिका सोनी को मिली बड़ी जिम्मेदारी ◾दुनिया बदली लेकिन हमारी दोस्ती नहीं....रूसी राष्ट्रपति पुतिन से मुलाकात में बोले PM मोदी◾UP चुनाव को लेकर प्रियंका ने बताया कैसा होगा कांग्रेस का घोषणापत्र, कहा- सभी लोगों का विशेष ध्यान रखा जाएगा◾'Omicron' के बढ़ते खतरे के बीच MP में 95 विदेशी नागरिक हुए लापता, प्रशासन के हाथ-पांव फूले ◾महबूबा ने दिल्ली के जंतर मंतर पर दिया धरना, बोलीं- यहां गोडसे का कश्मीर बन रहा◾

त्योहार के सीजन में यूपी पर मंडराया बिजली का संकट, जानिये 'कोयले की कमी' के पीछे है किसका हाथ

उत्तर प्रदेश सरकार ने स्वीकार किया है कि कोयले की कमी और उच्च आद्र्रता के स्तर के कारण बढ़ती बिजली की मांग के मद्देनजर बिजली संकट मंड़रा रहा है।

पावर प्रोजेक्ट्स के पास कोयले के स्टॉक की कमी  

राज्य के ऊर्जा विभाग के अनुसार, देश भर में 16 बिजली परियोजनाओं में से आठ के पास केवल छह दिनों के लिए कोयले का भंडार है, जबकि 109 गैर-पिथेड परियोजनाओं में से 25 ने (कोयला हेड से कम से कम 1500 किलोमीटर की दूरी पर स्थित)एक सप्ताह के लिए स्टॉक रखें हैं। 

त्योहारी सीजन के चलते बिजली की मांग लगातार बढ़ रही है। 67 परियोजनाओं के पास केवल चार दिनों के लिए कोयला भंडार बचा है। उत्तर प्रदेश के मामले में, संकट का सामना कर रहे बिजली परियोजनाओं में अनपरा (2630 मेगावाट), ओबरा (1000 मेगावाट), परीचा (920 मेगावाट) और हरदुआगंज (610 मेगावाट) शामिल हैं। 

क्या है ऊर्जा मंत्री का कहना 

ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने कहा कि राज्य भी कोयले की कमी से प्रभावित है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश बिजली उत्पादन कंपनी के अधिकारी स्थिति में सुधार के लिए कोयला मंत्रालय के संपर्क में हैं। शर्मा ने कहा कि राज्य सरकार शेड्यूल के अनुसार ग्रिड में बिजली देने की पूरी कोशिश कर रही है। 

उन्होंने स्वीकार किया कि कोयले की कमी के कारण कुछ केंद्रीय और निजी परियोजनाएं कम लोड पर चल रही थीं। कहा जा रहा है कि यह कमी अत्यधिक वर्षा के कारण हुई है जिससे कई खदानें पानी से भर गई हैं। 

योगी सरकार का युवाओं को तोहफा, मुफ्त बांटे जायेगे 3000 करोड़ के टैबलेट, स्मार्टफोन